अंतरिक्ष में अंतरिक्ष यात्रियों को भेजने के लिए प्रौद्योगिकी हो चुकी है विकसित

Samachar Jagat | Thursday, 16 Aug 2018 12:09:48 PM
Technology has been developed to send astronauts into space

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नई दिल्ली। देश के अंतरिक्षयात्रियों को अंतरिक्ष में भेजने वाली प्रौद्योगिकी विकसित की जा चुकी है । इस दिशा में मानव क्रू मॉडयूल और पर्यावरण नियंत्रण तथा जान बचाने की प्रणाली जैसी प्रौद्योगिकी विकसित हो चुकी है। इस बारे में जानकारी देते हुए इसरो के अध्यक्ष के सिवान ने कहा कि अंतरिक्षयात्रियों को अंतरिक्ष में भेजने वाली प्रौद्योगिकी विकसित हो चुकी है । इस दिशा में मानव क्रू मॉडयूल और पर्यावरण नियंत्रण तथा जान बचाने की प्रणाली जैसी प्रौद्योगिकी विकसित की जा चुकी है।

पर्यटकों को प्रदेश के विभिन्न पहलुओं से अवगत कराने के लिए भोपाल में होगा सिटी वॉक्स फेस्टिवल का आयोजन

सिवान ने कहा कि 2022 में यान को रवाना करने के पहले भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) जियोसिक्रोनस सेटेलाइट लांच व्हीकल मार्क-III का इस्तेमाल करते हुए दो मानवरहित मिशन और यानों को भेजेगा। सिवान ने बताया, हम मानव क्रू मॉडयूल और पर्यावरण नियंत्रण तथा जान बचाने की प्रणाली जैसी प्रौद्योगिकी पहले ही विकसित कर चुके हैं। यान भेजने के पहले हम दो मानवरहित मिशन को अंजाम देंगे। इस परियोजना के लिए हम जीएलएसवी मार्क- III का इस्तेमाल करेंगे।

Friends के साथ फुल मस्ती करना चाहते हैं तो जाएं इन Adventure Destinations पर

उनकी यह टिप्पणी ऐसे वक्त आई है जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि साल 2022 तक गगनयान के माध्यम से भारतीय अंतरिक्ष यात्री अंतरिक्ष में जाएंगे। यदि संभव हुआ तो भारत इस उपलब्धि को हासिल करने वाला दुनिया का चौथा देश होगा। वायु सेना के पूर्व पायलट राकेश शर्मा अंतरिक्ष में जाने वाले पहले भारतीय थे। भारत में जन्मीं कल्पना चावला और भारतीय मूल की सुनीता विलियम्स भी अंतरिक्ष गयी थीं। -एजेंसी

पूरे विश्व में प्रसिद्ध हैं राजस्थान के इस शहर की हवेलियां, पर्यटकों को पसंद आता है यहां का शांत माहौल

दिन में दो बार गायब होता है गुजरात का ये मंदिर, देशी और विदेशी पर्यटकों की रहती है भीड़

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.