पंजाब के सीएम अमरिंदर ने किया भगवंत मान के आरोपों को खारिज

Samachar Jagat | Wednesday, 08 May 2019 03:32:08 PM
Amarinder singh rejects allegations of Bhagwant Mann

बठिंडा। आम आदमी पार्टी (आप) के प्रधान भगवंत मान की ओर से विधायकों की खरीद फरोख्त को लेकर लगाए गए आरोपों को खारिज करते हुए पंजाब के मुुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि मान झूठे हैं और हताशा में खरीद फरोख्त के आरोप लगा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने बुधवार को यहां पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि मान के कांग्रेस पर लगाये आरोप बेबुनियाद हैं तथा उनके बयानों से आप विधायकों और  कार्यकर्ताओं के कांग्रेस में शामिल होने पर उनकी हताशा तथा निराशा झलकती है।

Rawat Public School

सुप्रीम कोर्ट का आचार संहिता उल्लंघन के मामले में कांग्रेस सांसद की याचिका पर सुनवाई से इनकार 

कैप्टन सिंह ने कहा कि मान उन पर विधायकों की खरीद फरोख्त का आरोप इसलिए लगा रहे हैं क्योंकि आप नेता की जीरो वेल्यू है। यदि कभी उन्होंने पार्टी में आने की इच्छा जाहिर की तो हम उन्हें कांग्रेस में कभी शामिल नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि आप नेता के पल्ले खाक भी नहीं है। कैप्टन सिंह ने कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस तथा अकालियों से आम लोगों की ओर से सवाल करना स्वस्थ लोकतंत्र की निशानी है।

उनसे निजी तौर पर बहुत सवाल पूछे जा रहे हैं जिनका तसल्लीबख्श जवाब देकर उन्हें खुशी होती है। उन्होंने लोगों से जो वादे किए हैं ,उन्हें पूरा किया जाएगा। बेअदबी मामलों में पुलिस की विशेष जांच टीम (एसआईटी) की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिह बादल को क्लीन चिट दिए जाने संबंधी स्पष्टीकारण देते हुये उन्होंने कहा कि एसआईटी की जांच अभी जारी है तथा चुनाव प्रक्रिया पूरी होने के तत्काल बाद आईजी कुंवर विजय प्रताप सिह को फिर से एसआईटी में वापस लाया जाएगा ताकि जांच को पूरा किया जा सके।

सुप्रीम कोर्ट में बिना शर्त राहुल गांधी ने मांगी माफी, SC का गलत हवाला लेकर कहा था 'चौकीदार चोर है'

उन्होंने कहा कि समाज में फूट डालने की कोशिशें करने वाले बख्शे नहीं जाएंगे। कानून अपना काम करेगा तथा बेअदबी तथा गोलीकांड के लिए जिम्मेदार लोगों को सजा जरूर मिलेगी, चाहे वो कितने भी प्रभावशाली व्यक्ति क्यों न हों। शिरोमणि गुरूद्बारा प्रबंधक कमेटी के चुनावों में देरी होने को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि केन्द्र में कांग्रेस की सरकार बनी तो चुनाव अविलंब कराये जाएंगे।

अकाली अपने निजी मुनाफों के लिए एसजीपीसी का दुरूपयोग करते रहे हैं। इस धार्मिक संस्था को अकालियों के चंगुल से निकालने वाले गुट का वो समर्थन करेंगे। इससे पहले उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करते हुए भरोसा जताया कि इन चुनावों में कांग्रेस बादलों तथा अकाली दल का सफाया कर देगी। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.