कुलदीप यादव की गेंदबाजी को लेकर दिनेश रामदीन ने कही ये बड़ी बात, पढक़र आपको भी होगा अचंभा

Samachar Jagat | Saturday, 10 Nov 2018 07:24:55 PM
Dinesh ramdin said kuldeep yadav is not able to understand the balls of our batsmen

चेन्नई। वेस्टइंडीज के विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश रामदीन का मानना है कि भारत में ट्वेंटी20 श्रृंखला में हार का मुख्य कारण उनके शीर्ष खिलाडिय़ों की अनुपस्थिति और चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव की गेंदों को नहीं समझ पाना है। वेस्टइंडीज की टीम दो वनडे को छोडक़र किसी भी मैच में भारत को चुनौती नहीं दे पाई।

आईसीसी विश्व टी20: पाकिस्तान के खिलाफ प्रबल दावेदार के रूप में उतरेगी भारतीय टीम

भारत ने उसे टेस्ट, वनडे और टी20 सीरीज में आसानी से पराजित किया और इन तीनों प्रारूपों में कुलदीप उसके लिए सरदर्द बने रहे। रामदीन ने तीसरे और अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय की पूर्व संध्या पर कहा है कि वर्तमान परिस्थितियों में टीम तैयार करना मुश्किल है। अगर आप हमारे टी20 खिलाडिय़ों को देखो तो उनकी दुनिया भर में मांग है और इस मामले में हम परेशानी भी झेल रहे हैं। हमारे सीनियर खिलाड़ी दौरे पर नहीं आए और यही वजह है कि हम इस श्रृंखला में 0-2 से पीछे हैं।

सजा के बाद पहली बार एक साथ खेलते दिखे स्मिथ और वार्नर

आक्रामक बल्लेबाज क्रिस गेल और प्रभावशाली स्पिनर सुनील नारायण वेस्टइंडीज की टीम में नहीं है। ड्वेन ब्रावो ने पिछले महीने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। वेस्टइंडीज के बल्लेबाज चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव की गेंदों को भी नहीं समझ पाए और रामदीन ने कहा कि भारत का तीनों श्रृंखलाओं में दबदबा बनाए रखने का एक कारण यह भी है।

वेस्टइंडीज को क्लीन स्वीप करने उतरेगी हिट मैन रोहित की सेना

उन्होंने कहा है कि हमारे बल्लेबाज उसकी गेंदों को नहीं समझ पाए और असल में बीच के ओवरों में वह हमारे लिए एक बड़ी चुनौती रहा और दुर्भाग्य से हम उसका तोड़ नहीं ढूंढ पाए। रामदीन ने कहा कि यह निराशाजनक है कि विश्व टी20 चैंपियन होने के बावजूद वे छोटे प्रारूप में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए। उन्होंने कहा है कि हमने अपना पहला मैच ईडन गार्डन्स में खेला जहां हमें अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद थी लेकिन हम परिस्थितियों से सामंजस्य नहीं बिठा पाए। 
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.