चेन्नई सुपरकिंग्स को भारी पड़ा एक रन, मुंबई की झोली में गिरा जीत का खिताब

Samachar Jagat | Monday, 13 May 2019 10:31:52 AM
Mumbai Indians became the IPL champion for the fourth time in a run of victory

हैदराबाद। मुंबई इंडियंस ने सांसों को रोक देने वाले बेहद रोमांचक फाइनल में लसित मलिंगा के कमाल के आखिरी ओवर से चेन्नई सुपरकिंग्स को रविवार को मात्र एक रन से पराजित कर रिकॉर्ड चौथी बार आईपीएल का चैंपियन बनाने का गौरव हासिल कर लिया। मुंबई ने आईपीएल-12 के फाइनल में कीरोन पोलार्ड के नाबाद 41 रन से आठ विकेट पर 149 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाने के बाद चेन्नई को सात विकेट पर 148 रन पर थाम लिया। चेन्नई के लिए शेन वाटसन ने 80 रन बनाए लेकिन मलिंगा ने आखिरी गेंद पर विकेट निकाल कर खिताब मुंबई की झोली में डाल दिया। मुंबई के खिलाड़ियों ने इसके बाद मलिंगा को कंधों पर उठाकर जीत का जश्न मनाया।

Rawat Public School

गलत जानकारी के आधार पर कर्ज माफ कराना धोखाधड़ी - सलूजा

मुंबई का यह पांचवां फाइनल था और उसने चौथी बार खिताब अपने नाम किया। मुंबई ने इससे पहले 2013, 2015 तथा 2017 में खिताब जीता था। गत चैंपियन चेन्नई ने एक रन की हार के साथ अपना खिताब गंवा दिया। चेन्नई के लिए 80 रन बनाने वाले शेन वाटसन का आखिरी ओवर में रन आउट होना चेन्नई को चोट पहुंचा गया और चेन्नई का चौथी बार खिताब जीतने का सपना टूट गया। कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और वाटसन का रन आउट होना मैच का टर्निंग पॉइंट रहा।

लक्ष्य का पीछा करते हुए चेन्नई ने अच्छी शुरुआत की और पिछले मैच के मैन ऑफ द मैच फाफ डू प्लेसिस ने तेजी से 13 गेंदों में तीन चौकों और एक छक्के की मदद से 26 रन ठोके लेकिन एक बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में वह लेफ्ट आर्म स्पिनर क्रुणाल पांड्या की गेंद की लाइन चूके और क्विटन डी कॉक ने उन्हें आसानी से स्टंप कर दिया। चेन्नई का पहला विकेट चौथे ओवर की आखिरी गेंद पर 33 के स्कोर पर गिरा।

गंभीर के समर्थन में उतरे हरभजन और लक्ष्मण

पिछले मैच में अर्धशतक बनाने वाले शेन वाटसन ने सुरेश रैना के साथ दूसरे विकेट के लिए 37 रन जोड़े। रैना को राहुल चाहर ने पगबाधा किया। रैना ने डीआरएस लिया लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ और उन्हें पवेलियन लौटना पड़ा। रैना ने 14 गेंदों में मात्र आठ रन बनाए। चेन्नई का दूसरा विकेट 70 पर गिरा। अंबाटी रायुडू एक रन बनाने के बाद जसप्रीत बुमराह की गेंद पर विकेट के पीछे लपके गए। चेन्नई ने अपना तीसरा विकेट 73 के स्कोर पर गंवाया।

चेन्नई दो विकेट जल्दी-जल्दी गिरने के बाद दबाव में आ गई। अब मैदान पर वाटसन का साथ देने उतरे कप्तान महेंद्र सिंह धोनी लेकिन 13वें ओवर में धोनी के रन आउट का मामला फंस गया और तीसरे अंपायर ने कई रिप्ले देखने के बाद धोनी को रन आउट करार दे दिया। धोनी के रन आउट होते ही मुंबई का पूरा खेमा .खुशी से उछल पड़ा। धोनी ने ओवर थ्रो होने पर दूसरा रन चुराने की कोशिश की और ईशान किशन का सीधा थ्रो स्टंप्स से टकरा गया। धोनी ने आठ गेंदों में दो रन बनाए और चेन्नई का चौथा विकेट 82 के स्कोर पर गिरा। -एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.