शटलर ज्वाला गुट्टा ने भी लगाया मानसिक शोषण का आरोप

Samachar Jagat | Wednesday, 10 Oct 2018 04:35:24 PM
Shuttle Jwala Gutta also imposed a charge of mental abuse

नई दिल्ली। दुनियाभर में चल रहे 'हैशटेग मी टू मूवमेंट" के भारत में भी नजर पकडऩे के बाद कई महिला टीवी हस्तियों और पत्रकारों ने जहां अपने शोषण की बात खुलकर बताई है वहीं बैडमिंटन खिलाड़ी ज्वाला गुट्टा ने भी मानसिक शोषण की बात कहकर अपने कड़वे अनुभव को सामने रखा है। महिला युगल बैडमिंटन खिलाड़ी ज्वाला ने हमेशा ही सार्वजनिक तौर पर अपने पक्ष को मुखर होकर सामने रखा है और अब उन्होंने चयन प्रक्रिया को लेकर मानसिक दबाव की बात कही है।

अपनी खराब फॉर्म से निजात पाने के लिए धोनी ले सकते हैं इस टूर्नामेंट का सहारा

उन्होंने ट्वीटर पर अपने मानसिक शोषण की कहानी बताते हुये कहा, वर्ष 2006 से जब यह व्यक्ति प्रमुख बना उसने मुझे राष्ट्रीय चैंपियन होने के बावजूद राष्ट्रीय टीम से बाहर फेंक दिया। ज्वाला ने लिखा, हाल की बात है जब मैं आरआईओ से वापिस आयी, और मैं फिर से राष्ट्रीय टीम से बाहर कर दी गयी।

आखिर क्यों विराट कोहली को अपनी पत्नी अनुष्का को यहां ले जाने की मांगनी पड़ी अनुमति?

यह एक सबसे बड़ी वजह है कि मैंले खेलना बंद कर दिया। हैदराबाद की ज्वाला का राष्ट्रीय कोच पुलेला गोपीचंद के साथ भी काफी विवाद रहा है और उन्होंने सार्वजिनक तौर पर गोपीचंद पर भेदभाव करने का आरोप लगाया था। उन्होंने आरोप लगाया था कि गोपीचंद एकल खिलाड़यिों पर युगल खिलाड़ियों से अधिक ध्यान देते हैं। - एजेंसी

अपनी खराब फॉर्म से निजात पाने के लिए धोनी ले सकते हैं इस टूर्नामेंट का सहारा

अपने पदार्पण टेस्ट में छाए पाकिस्तान के बिलाल, ऑस्ट्रेलिया बैकफुट पर



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.