सिंधू और श्रीकांत की नजरें थाईलैंड ओपन खिताब जीतने पर

Samachar Jagat | Monday, 09 Jul 2018 02:24:39 PM
Sindhu and Srikanth eyes on winning Thailand Open title

बैंकाक। इंडिया के शीर्ष बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू और किदांबी श्रीकांत मंगलवार से शुरू हो रहे 350,000 डालर इनामी राशि वाले बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर सुपर 500 टूर्नामेंट इंडोनेशिया ओपन में शानदार प्रदर्शन जारी रखकर सत्र का पहला खिताब जीतना चाहेंगे। ओलंपिक रजत पदक विजेता सिंधू और पूर्व विश्व नंबर एक श्रीकांत पिछले सत्र में शानदार फार्म में थे और कई टूर्नामेंट जीतने में सफल रहे लेकिन मौजूदा सत्र में निरंतर प्रदर्शन के बाद भी दोनों कोई बड़ा टूर्नामेंट नहीं जीत सके हैं।

सिंधू इंडियन ओपन और राष्ट्रमंडल खेलों में उपविजेता रही थी। श्रीकांत ने भी गोल्डकोस्ट (राष्ट्रमंडल खेलों) में एकल में रजत हासिल किया था। मिश्रित टीम स्पर्धा में मलेशियाई दिग्गज ली चोंग वेई पर उनकी जीत के कारण भारत को स्वर्ण मिला था। बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर के दक्षिण पूर्व एशिया चरण की पहली दो स्पर्धाओं में लय में होने के बाद भी भारतीय खिलाड़ी खिताब नहीं जीत सके।

सिंधू पिछले दो सप्ताह में क्रमश : सेमीफाइल और क्वार्टर फाइनल में पहुंचने में सफल रहीं तो वहीं दोनों टूर्नामेंट में श्रीकांत  के सफर को जापान के केंतो मोमोता ने क्रमश : सेमीफाइनल और पहले दौर में खत्म किया। सिंधू इस सप्ताह बुल्गारिया की लिंडा जेटचिरि के खिलाफ अपने सफर की शुरूआत करगी जबकि पुरूष एकल में श्रीकांत का सामना क्वालीफायर खिलाड़ी से होगा।

राष्ट्रमंडल खेलों में अपना दूसरा स्वर्ण जीतने वाली साइना नेहवाल थाईलैंड की बुसनान ओंगबुरूंगपान से पहले दौर में भिड़ेंगी। टखने की चोट से उबर कर एचएस प्रणय ने दो बार के ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता लिन डैन को पिछले सप्ताह हराकर चौंकाया था। क्वार्टरफाइनल में हालांकि वे ऑल इंग्लैंड चैम्पियन शी युकी से हार गए थे।

प्रणय गत सत्र में 2 टूर्नामेंटों के सेमीफाइनल में पहुंचे थे और यूएस ओपन जीतने में कामयाब रहे थे। इस टूर्नामेंट के पहले दौर में उनका सामना स्पेन के पाब्लो अबियान से होगा। अबियान ने कल ही व्हाइट नाइट्स टूर्नामेंट का खिताब जीता है। स्विस ओपन के विजेता समीर वर्मा भी टूर्नामेंट में अपनी छाप छोडऩा चाहेंगे जिनका पहले दौर में सामना स्थानीय खिलाड़ी तनोंगसाक सेनसोमबूनसुक से होगा।

पैर में चोट के कारण कोर्ट से दूर रहे 2014 राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदक विजेता पारूपल्ली कश्यप पहले दौर में चीन के शीर्ष वरीय शी युकी से भिड़ेंगे। विश्व रैंकिंग में 53 वें स्थान पर काबिज वैष्णवी जाक्का रेड्डी पहले दौर में जापान की आठवीं वरीयता प्राप्त सयाका सातो के खिलाफ खेलेंगी।

वैष्णवी की दादी सौजन्य जाक्का रेड्डी ने उन्हें एशियाई खेलों की टीम में जगह नहीं देने पर राष्ट्रीय कोच पुलेला गोपीचंद और बीएआई के खिलाफ दिल्ली उच्च न्यायालय में याचिका दायर की है। पुरुष युगल में राष्ट्रमंडल खेलों के रजत पदक विजेता सात्विकसाइराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी के अलावा राष्ट्रीय चैंपियन मनु अत्री और बी सुमित रेड्डी की जोड़ी चुनौती पेश करेगी।

इनके अलावा तेजी से उभरती अर्जुन एमआर और रामचंद्रन श्लोक की जोड़ी और कोना तरुण और सौरभ शर्मा की नई जोड़ी भी टूर्नामेंट में किस्मत आजमाएगी। मेघना जक्कामपुदि और पूर्विशा एस राम की जोड़ी महिला युगल में चुनौती पेश करेगी। इनके अलावा संयोगिता घोरपड़े और प्राजक्ता सावंत की जोड़ी भी यहां कोर्ट में उतरेगी। मिश्रित युगल में अश्विनी पोनप्पा और सात्विकसाइराज की जोड़ी भारत की अगुवाई करेगी। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.