विकास कृष्णन अनफिट करार, सेमीफाइनल से हटे

Samachar Jagat | Friday, 31 Aug 2018 01:49:55 PM
Vikas Krishnan unfit contracts, leave from semi-finals

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

जकार्ता। स्वर्ण पदक के प्रबल दावेदार भारतीय मुक्केबाज़ विकास कृष्णन को आंख पर चोट की वजह से 18वें एशियाई खेलों की मुक्केबाजी स्पर्धा में अनफिट करार दे दिया गया, जिसके बाद उन्हें शुक्रवार को निर्धारित अपने 75 किग्रा पुरूष सेमीफाइनल मुकाबले से हटना पड़ गया।

संजय लीला भंसाली की फिल्म में पहली बार साथ नजर आएंगे सलमान और दीपिका

विकास को मुक्केबाजी स्पर्धाओं में अपने 75 किग्रा पुरूष भार वर्ग में कजाखिस्तान के अबीखान अमानकुल के खिलाफ सेमीफाइनल बाउट लड़नी थी। लेकिन आंख पर चोट के कारण उन्हें पहले ही बाहर होना पड़ा। 26 वर्षीय मुक्केबाज़ ने हालांकि सेमीफाइनल में पहुंचकर अपने लिए कांस्य पदक पक्का पहले ही कर लिया था।

उन्होंने एशियाई खेलों में लगातार तीन पदक जीतने वाले पहले भारतीय मुक्केबाज़ बनने की उपलब्धि दर्ज करते हुये अपना नाम इतिहास में जरूर दर्ज करवा लिया है। विकास ने 2010 ग्वांग्झू एशियाई खेलों में पुरूषों के 60 किग्रा भार वर्ग में स्वर्ण पदक तथा 2014 के इंचियोन एशियाई खेलों में मिडलवेट वर्ग में कांस्य अपने नाम किया है।

नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने फिल्म मंटो के लिए वसूली इतनी रकम, आज तक किसी अभिनेता को नहीं मिली इतनी फीस

वह विश्व चैंपियनशिप में भी कांस्य अपने नाम कर चुके हैं। भारतीय मुक्केबाज़ को प्री क्वार्टरफाइनल बाउट में आंख के ऊपर कट लग गया था जबकि चीन के तुहेता एरबिएक तंगलाथियन के खिलाफ क्वार्टरफाइनल में उनकी चोट और गंभीर हो गई थी।

हालांकि आंख से खून के बावजूद उन्होंने चीनी मुक्केबाज़ के खिलाफ बाउट जीतकर सेमीफाइनल में जगह बनाई और सुनिश्चित किया कि वह लगातार तीसरे एशियाई खेलों से खाली हाथ नहीं जाएंगे। मुक्केबाजी स्पर्धाओं में अब भारत की निगाहें 49 किग्रा पुरूष लाइट फ्लाएवेट वर्ग में अमित पंघल पर लगी हैं जो सेमीफाइनल में लीपींस के खिलाफ कार्लो पालम के खिलाफ उतरेंगे। 

देश जानना चाहता है कि PM मोदी और अनिल अंबानी के बीच क्या सौदा हुआ: राहुल

मामले की सुनवाई का नंबर आने तक चूहे खा जाते हैं जब्त की गईं दवाएं: सुप्रीम कोर्ट

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.