गूगल के बाद फेसबुक ने अपने कर्मियों की यौन उत्पीडऩ की शिकायतों से जुड़े नियमों में किए अहम बदलाव

Samachar Jagat | Saturday, 10 Nov 2018 04:59:38 PM
After google, Facebook made significant changes in the rules related to sexual harassment complaints of its employees

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

सैन फ्रांसिस्को। दुनिया की अग्रणी सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक ने शनिवार को कहा है कि यौन उत्पीडऩ के मामलों में अब उसके कर्मियों को मध्यस्थता के जरिए मामला सुलझाने की जरूरत नहीं होगी। फेसबुक से पहले दिग्गज कंपनी गूगल भी यह ऐलान कर चुकी है। फेसबुक की ओर से कार्यस्थल से जुड़े नियमों में किए गए इस बदलाव से अब कंपनी के कर्मी यौन उत्पीडऩ के मामलों की शिकायत सीधा अदालत में कर सकते हैं।


अपनी पुरानी विरासत को लोगों तक पहुंचाने के लिए सैफ अली खान ने किया ये काम

फेसबुक के कॉरपोरेट मीडिया संबंध निदेशक एंथनी हैरिसन ने एक समाचार एजेंसी को बताया है आज हम अपनी नई कार्यस्थल संबंध नीति प्रकाशित कर रहे हैं और मध्यस्थता से जुड़े समझौतों में संशोधन कर रहे हैं ताकि यौन उत्पीडऩ के मामलों में मध्यस्थता कर्मियों के लिए अनिवार्य शर्त न होकर महज एक विकल्प रहे।

अपनी आगामी फिल्म जीरो में कव्वाली करते नजर आएंगे अभिनेता शाहरुख खान

उन्होंने कहा है कि हम यौन उत्पीडऩ के मामलों को बहुत गंभीरता से लेते हैं और फेसबुक में इसके लिए कोई जगह नहीं है। फेसबुक ने कंपनी के एक कर्मी के किसी दूसरे कर्मी से प्रेम संबंधों को लेकर भी नीति में बदलाव किया है। अब निदेशक स्तर या इससे वरिष्ठ स्तर के अधिकारियों को मानव संसाधन विभाग को बताना पड़ेगा कि वे कंपनी के किसी अन्य कर्मी से इश्क लड़ा रहे हैं।

स्क्रिप्ट हुई फाइनल, एक बार फिर आयुष को लेकर फिल्म बनाएंगे सलमान

दिग्गज कंपनी गूगल ने भी कार्यस्थल पर यौन उत्पीडऩ की शिकायतों से जुड़े नियमों में गुरुवार को कुछ बदलाव किए थे। गूगल के सीईओ सुंदर पिचई ने कहा है कि कंपनी में यौन उत्पीडऩ के मामलों में मध्यस्थता अनिवार्य शर्त नहीं बल्कि एक विकल्प होगी। गूगल के कर्मियों द्वारा दुनिया के अलग-अलग देशों में किए गए विरोध प्रदर्शन के बाद यह कदम उठाया गया।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.