Gboard के जरिए मालवी, नि‌माडी, लंबाडी और कांगड़ी भाषाओं में कर पाएंगे मैसेज

Samachar Jagat | Monday, 12 Mar 2018 03:54:03 PM
Messages will be made in Malviya, Nimadi, Talladi and Kangri languages through Gboard.

टेक डेस्क। मातृ भाषा बहुत ही खास होती है। आजकल सभी एप्स में मैसेज टाइप के लिए अंग्रेजी और हिन्दी काम में ले सकते थे। बाकी की भाषाएं सभी के समझ से बाहर है। इसलिए गूगल ने अपने कीबोर्ड एप्प Gboard में शानदार ऑप्शन दिया है। गूगल ने Gboard के लिए नया अपडेट जारी किया गया है।

पेटीएम बना पांच वर्षों के लिए आईपीएल का अंपायर पार्टनर

इस अपडेट के बाद Gboard 20 नई भाषाओं को सपोर्ट करने लगेगा। इन भाषाओं  में मालवी, नि‌माडी, लंबाडी और कांगड़ी शामिल हैं। इसके लिए यूजर को सर्च करना होगा। गूगल कीबोर्ड में ऊपर की तरफ सर्च का बटन होगा।

मोबाइल, टैब और लैपटॉप पर अधिक समय बिताने से बच्चों की दूर की नजर हो रही कमजोर

अगर यूजर को इंटरनेट पर किसी विशेष वस्तु या जगह के बारे में खोजना है तो वह कीबोर्ड पर बटन के ऊपर की ओर दिए गए गूगल के निशान पर क्लिक करें।  वहां पर सर्च करके यूजर उस कंटेंट को बिना कॉपी पेस्ट किए भेजा जा सकता है।

गूगल ने रंगीन डूडल बनाकर हेनरी पर्किन को किया सलाम

ब्रह्मांड में नई दुनिया का पता लगाने के लिए मदद करेगी गूगल की आर्टिफिशयल इंटेलीजेंस प्रणाली



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.