रिसर्च: गालियां देने वाले होतें है ज्यादा इंटेलीजेंट

Samachar Jagat | Wednesday, 11 Oct 2017 10:57:03 AM
abusers are more intelligent as research

इंटरनेट डेस्क। क्या आप भी निकलते है गलियां वो भी सबसे ज्यादा और उसके लिए आपको डांट भी पड़ती होगी। लेकिन अब आप खुलकर गलियां निकाल सकते है। क्योकिं एक रिसर्च का दावा है कि जिस आदमी को जितनी ज्यादा गालियां आती हैं, वह उतना अधिक दिमागदार यानी इंटेलीजेंट होता है।

एक छोटी सी घटना से मोटिवेट होकर, बिना पैसे पूरा इंडिया घूम रहे है ये जनाब

न्यूयार्क स्थित मेरिस्ट नामक कॉलेज के रिसर्चर्स बताते है कि गालियों की जानकारी व्यक्ति की इंटेलीजेंस को दर्शाती है। गालियों के मामले में पुरुष और महिला का भेद नहीं होता। साथ ही ज्यादा गालियां देने की क्षमता ले महिलाओं की अक्लमंदी दर्शाती है।

अंधविश्वास के नाम पर दिवाली के दिन चढ़ाई जाती है उल्लू की बलि


वैज्ञानिकों ने एक्सपेरिमेंट्स में देखा कि जो लोग एक मिनट में ज्यादा से ज्यादा गालियां उच्चारित कर सकते हैं, उनकी वोकैब्यलरी भी तेज होती है। यानी वे अन्य विषयों में भी ज्यादा शब्द जानते हैं। व्यक्ति को शब्दों की जानकारी होना उसके इंटेलीजेंट होने का सबूत होता है।

इसे कहते है टेलेंट.... दिव्यांग होने के बावजूद है प्रोफेशनल फोटोग्राफर

आपको बता दे की शोधकर्ताओं ने दो एक्सपेरिमेंट्स में लोगों के ग्रुप को एक मिनट में ज्यादा से ज्यादा गालियां, अपशब्द और जानवरों के नाम बोलने/लिखने के लिए कहा। दोनों बार पार्टिसिपेंट्स में आधे से ज्यादा महिलाएं थीं। इन एक्सपेरिमेंट के बाद उनका स्टैंडर्डराइज्ड वर्बल फ्लुएंसी टेस्ट भी लिया गया। वैज्ञानिकों ने पाया कि जो लोग एक मिनट में ज्यादा से ज्यादा गालियां बोल और लिख सकते थे, उनका अन्य विषयों में वोकैब्यलरी भी अच्छा था।

sourse google 

 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2017 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.