प्रसूता घर में खून की कमी से जूझ रही थी पत्नी और पति...

Samachar Jagat | Tuesday, 09 Oct 2018 01:42:13 PM
Husband ran for blood, wife's death in Bhind

भिंड। कहते हैं जब कोई अपना किसी बिमारी या फिर किसी भी हादसे की वजह से अगर अस्पताल में भर्ती होता है तो परिवार के अन्य लोगों के होश उड़े हुए रहते हैं। उनके सामने कई तरह की समस्याएं आती है लेकिन उन सभी सभी समस्याओं का मरीज और परिवार के लोग मिलकर पूरी तरह से मुकाबला करता है। इस तरह की समस्याओं के दौरान कोई भी समस्या के समय कभी भी ऐसा नहीं होता कि मरीज तो अस्पताल में भर्ती हो और वो उसे छोडक़र चला जाएं और उसकी इस गलती से चाहे भी किसी की जान तक चली जाएं।

पति की पीठ पीछे बना रही थी किसी और के साथ शारीरिक संबंध, टोका तो...

कुछ ऐसा ही मामला सामने आया है मध्यप्रदेश के भिंड जिले में। यहां एक पति अपनी पत्नी को अस्पताल में उस समय छोडक़र फरार हो गया जब महिला को खून की जरूरत थी। मीडिया रिपोट्र्स से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले का एक युवक प्रसव पीड़ा से जूझती अपनी पत्नी के लिए खून की व्यवस्था के नाम पर उसे अस्पताल में छोड़ कर भाग गया, जिसके बाद खून के इंतजार में तड़पती गर्भवती पत्नी की मौत हो गई।

पहले साथ में बैठ कर पी रहे थे शराब और फिर...

मीडिया रिपोट्र्स से प्राप्त जानकारी के अनुसार अस्पताल सूत्रों ने बताया है कि मेहगांव के ग्राम सोनी की निवासी रवीना खान (35) को सात अक्टूबर की रात प्रसव पीड़ा के कारण मेहगांव स्वास्थ्य केंद्र से जिला अस्पताल रेफर किया गया था। उसके शरीर में मात्र चार ग्राम खून पाए जाने पर डॉक्टरों ने सोमवार को उसके पति गफूर खान से उसके लिए जल्द ही खून की व्यवस्था करने को कहा।

पत्नी से किसी बात पर हुए विवाद के बाद पति ने उठाया ये खौफनाक कदम

पति उसके लिए खून की व्यवस्था करने की बात कह कर वहां से गायब हो गया। कई घंटे तक अस्पताल में उसका इंतजार किया गया, लेकिन इसी बीच पीड़ा से कराहती पत्नी की मौत हो गई। मीडिया रिपोट्र्स से प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रसूति गृह की डॉक्टरों ने बताया है कि महिला की हालत बेहद नाजुक देखकर उसका इलाज शुरू किया गया। इसी बीच उसके पति से फौरन खून की व्यवस्था करने को कहा गया, लेकिन पति कई घंटों बाद भी लौटकर नहीं आया। तब तक रवीना और उसके अजन्मे बच्चे दोनों की मौत हो गई। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.