गोण्डा में मंदिर में पुजारी पर हमले को लेकर बसपा नेता Mayawati ने कानून व्यवस्था पर सवाल उठाया

Samachar Jagat | Monday, 12 Oct 2020 04:30:02 PM
BSP leader Mayawati questioned law and order

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के गोण्डा जिले में मंदिर के पुजारी पर हमले को लेकर राज्य की कानून व्यवस्था की आलोचना करते हुये बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती ने सोमवार को कहा कि एक संत के नेतृत्व वाली सरकार में भी संत सुरक्षित नही हैं ।

मायावती ने ट्वीट कर कहा, ''राजस्थान की तरह उत्तर प्रदेश के गोण्डा जिले में भू-माफियाओं द्बारा मन्दिर की जमीन पर कब्जा करने के इरादे से पुजारी पर किया गया जानलेवा हमला अति-शर्मनाक । संत की सरकार में अब संत भी सुरक्षित नहीं। इससे खराब कानून-व्यवस्था की स्थिति और क्या हो सकती है ।''

उन्होंने दूसरे ट्वीट में कहा, ''उप्र की सरकार इस मामले में सभी पहलुओं का गम्भीरता से संज्ञान लेकर दोषियों के विरूद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई करे तथा इस घटना से जुड़े सभी भू-माफियाओं की सम्पत्ति भी जरूर जब्त की जाये। साथ ही, साधु-संतो की सुरक्षा भी बढ़ाई जाये।''

गौरतलब है कि गोंडा जिले के इटियाथोक थाना क्षेत्र के अन्तर्गत तिर्रे मनोरमा गांव में एक मंदिर के जमीन विवाद को लेकर रविवार को तड़के पुजारी को गोली मार दी गई थी। गंभीर रूप से जख्मी पुजारी का लखनऊ के किग जॉर्ज चिकित्‍सा विश्‍वविद्यालय (केजीएमयू) में उपचार चल रहा है। पुलिस ने प्रकरण में चार व्यक्तियों के खिलाफ अभियोग दर्ज करते हुए दो को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।

पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पाण्डेय ने बताया था कि तिर्रे मनोरमा गांव में राम जानकी का एक मंदिर है। मंदिर के पास करीब 3० एकड़ जमीन को लेकर गांव के ही कुछ लोगों से विवाद चल रहा है। रविवार को तड़के कुछ लोगों ने मंदिर के पुजारी अतुल बाबा उर्फ सम्राट दास को गोली मार दी, जो उनके बाएं कंधे को चीरते हुए निकल गई थी । पुजारी की हालत फिलहाल स्थिर बतायी जाती है । (एजेंसी) 



 
loading...


Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.