अयोध्या में राम मंदिर के लिए 115 देशों और 7 महाद्वीपों से जल एकत्रित करना अभिनव सोच, 'वसुधैव कुटुम्बकम' का दिया संदेश - रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

Samachar Jagat | Saturday, 18 Sep 2021 03:16:54 PM
Innovative thinking to collect water from 115 countries and 7 continents for Ram temple in Ayodhya, message of 'Vasudhaiv Kutumbakam' - Defense Minister Rajnath Singh

इंटरनेट डेस्क। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज शनिवार को अयोध्या में बन रहे भगवान श्रीराम के मंदिर को लेकर पत्रकारों से बातचीत में कहा कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण का स्वप्न कई पीढ़ियों ने देखा और आज जब ये सपना साकार हो रहा तो हम सभी के लिए गौरव का विषय है। अयोध्या में राम मंदिर के लिए 115 देशों और 7 महाद्वीपों से जल इकट्ठा करना ये अभिनव सोच है। 

 

India is the only country where sages considered entire world their family &gave message of 'Vasudhaiva Kutumbakam'. So water for 'jalabhishek' & construction should come from all nations: Defence Min Rajnath Singh at event to receive water from 115 nations for Ayodhya Ram Temple pic.twitter.com/8ClzpIR7ge

— ANI (@ANI) September 18, 2021

एएनआई न्यूज एजेंसी के अनुसार, केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारतीयों ने हिंसा का सहारा नहीं लिया। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद ही राम मंदिर निर्माण कार्य शुरू हुआ। यह भारतीयों के लिए एक सकारात्मक दृष्टिकोण है। भारत एक ऐसा राष्ट्र है जो जाति, पंथ और धर्म के आधार पर भेदभाव नहीं करता। 

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत ही एकमात्र ऐसा देश है जहां ऋषियों ने पूरे विश्व को अपना परिवार माना और 'वसुधैव कुटुम्बकम' का संदेश दिया। इसलिए जलाभिषेक और निर्माण के लिए पानी सभी देशों से आना चाहिए। 

 

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.