मंदिर की भूमि पूजन के लिए चित्रकूट के भरतकूप का जल आया

Samachar Jagat | Wednesday, 29 Jul 2020 12:46:06 PM
The water of Bharatkroop of Chitrakoot came to worship the land of the temple

अयोध्या। अयोध्या में बनने वाले भगवान राम के मंदिर की नींव में इस्तेमाल करने के लिए देश के प्रमुख तीर्थ और मंदिरों की मिSी और नदियों के जल पहुंचाए जा रहे हैं और इसी कड़ी में चित्रकूट के भरतकूप से पवित्र जल का कलश श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास को सौंपा गया।
चित्रकूटाधिपति मत्तगजेंद्रनाथ मंदिर के व्यवस्थापक प्रदीप तिवारी ने महंत नृत्यगोपालदास को कलश सौंपा। उनसे अनुरोध किया गया है कि राममंदिर पूजन में इस जल का भी प्रयोग किया जाए।
प्रदीप तिवारी ने कहा कि प्रभु श्रीराम ने वनवास काल का साढèे 12 साल से अधिक का समय चित्रकूट में बिताया था। आज भी तपोभूमि का कण-कण प्रभु श्रीराम की कृपा से अभिसिचित है। अयोध्या में भव्य राम मंदिर का भूमि पूजन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्बारा पांच अगस्त को किया जाना है।
भरतकूप से मिले जल के कलश को महंत ने प्रणाम किया और आश्वासन दिया कि पूजन में भरतकूप के जल का प्रयोग अवश्य किया जाएगा।
श्रीराम जब 14 साल के वनवास में थे तब भरत उन्हें वापस लाने चित्रकूट गये थे और अपने साथ अलग अलग नदियों का जल एक कलश में ले गये थे ताकि वहीं श्री राम का राज्याभिषेक कर वापस ले आयें लेकिन श्री राम ने वनवास की अवधि पूरी हुये बिना जाने से इंकार कर दिया । पौराणिक मान्यताओं के अनुसार उस जल को एक कुयें में डाल दिया गया जिसका नाम भरतकूप पडा। जिस तरह लोग गंगा का जल अपने साथ ले जाते हैं ,उसी तरह भरत कूप का जल भी लोग अपने साथ ले जाते हैं । गंगा की तरह भरतकूप का जल भी कभी खराब नहीं होता। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.