आईसीसी विश्व कप सुपर लीग बेहद जटिल : आथर्टन

Samachar Jagat | Tuesday, 28 Jul 2020 06:00:02 PM
ICC World Cup Super League extremely complicated: Atherton

मैनचेस्टर। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल आथर्टन का मानना है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय सुपर लीग 'बेहद जटिल’ हैं और खेल की संचालन संस्था को भारत में होने वाले 2०23 विश्व कप के लिए सरल क्वालीफिकेशन प्रणाली बनानी चाहिए थी।
आईसीसी ने सोमवार को एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय सुपर लीग शुरू की जिससे 2०23 में होने वाले पुरुष विश्व कप में हिस्सा लेने वाली टीमों का फैसला होगा। मेजबान भारत और सात शीर्ष टीमों को विश्व कप के लिए सीधे प्रवेश मिलेगा।
सुपर लीग की शुरुआत विश्व चैंपियन इंग्लैंड और आयरलैंड के बीच 3० जुलाई से शुरू हो रही श्रृंखला के साथ होगी।
आथर्टन ने स्काई स्पोर्ट्स क्रिकेट से कहा, ''जो भी होता है उसके पीछे कोई तर्क होता है लेकिन यह काफी जटिल हो जाता है क्योंकि आपको दो प्रणालियों को एक साथ जोड़ने का प्रयास करते हो।’’
उन्होंने कहा, ''आपके पास आईसीसी वैश्विक प्रतियोगिताएं हैं- विश्व कप, विश्व टी2० और चैंपियन्स ट्रॉफी थी- और आप इसे सामान्य द्बिपक्षीय श्रृंखलाओं से जोड़ने का प्रयास कर रहे हो जो भविष्य दौरा कार्यक्रम (एफटीपी) का हिस्सा है जहां प्रत्येक टीम एक-दूसरे के खिलाफ खेलती है।’’
आथर्टन ने कहा, ''इन दो चीजों को आपस में जोड़ना बेहद मुश्किल है और अंत में ऐसा हो जाता है।’’
सुपर लीग में 13 टीमें हिस्सा लेंगी जिसमें आईसीसी के 12 पूर्ण सदस्य और नीदरलैंड शामिल है। नीदरलैंड ने विश्व क्रिकेट सुपर लीग 2०15-17 जीतकर सुपर लीग में जगह बनाई है। सुपर लीग में प्रत्येक टीम तीन मैचों की चार श्रृंखलाएं स्वदेश और चार विदेशी सरजमीं पर खेलेंगी।
जो पांच टीमें सुपर लीग से सीधे क्वालीफाई करने में विफल रहेंगी वे क्वालीफायर 2०23 में पांच एसोसिएट टीमों के साथ चुनौती पेश करेंगी और इनमें से दो टीमें भारत में होने वाले 1० टीमों के विश्व कप के लिए क्वालीफाई करेंगी।
प्रत्येक टीम को जीत के लिए 1० अंक मिलेंगे जबकि टाई, बेनतीजा और रद्द होने वाले मैचों के लिए पांच अंक दिए जाएंगे। हार के लिए कोई अंक नहीं मिलेगा। टीमों की रैंकिग आठ श्रृंखला से मिले अंकों के आधार पर की जाएगी। दो या अधिक टीमों के समान अंक होने पर स्थान तय करने के लिए नियम बनाए गए हैं।
इंग्लैंड की ओर से 115 टेस्ट में 7728 रन बनाने वाले 52 साल के पूर्व बल्लेबाज आथर्टन ने कहा कि थोड़ी कम जटिल प्रणाली से लोगों को समझने में आसानी होती।
आईसीसी की क्रिकेट समिति का हिस्सा इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एंड्रयू स्ट्रॉस ने कहा कि इससे सहज प्रणाली लागू कर पाना असंभव है और संचालन संस्था जो भी करे उसे आलोचना का सामना करना ही पड़ेगा।
उन्होंने कहा, ''किसी भी सहज प्रक्रिया को खोजने का प्रयास करना समझ आता है लेकिन यह संभव नहीं है।’’
स्ट्रॉस ने कहा, ''हम सभी बेमतलब द्बिपक्षीय क्रिकेट की बात करते हैं जिसकी कोई प्रासंगिकता नहीं है और फिर जब आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियन के साथ सभी चीजों को समेटने की कोशिश करता है तो सभी कहते हैं कि अंक प्रणाली बेहद जटिल है और फिर वे (आईसीसी) सुपर लीग को आजमाते हैं और वे (लोग) कहते हैं कि वे ऐसा क्यों कर रहे हैं। ’’
आईसीसी न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन जैसे खिलाड़ियों की आलोचना का सामना कर चुकी है जिनका कहना है कि अंक प्रणाली उचित नहीं है जबकि भारतीय कप्तान विराट कोहली का कहना है कि विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में विदेशी सरजमीं पर मिली जीत पर अधिक अंक मिलने चाहिए। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.