INDvsENG : 'मोटेरा' पर बारिश नहीं बन पाएगी 'विलेन'..!, 30 मिनट में सुखाने के विशेष इंतजाम, 700 करोड़ में बने इस स्टेडियम में कल से पिंक बॉल से खेला जाएगा तीसरा टेस्ट

Samachar Jagat | Tuesday, 23 Feb 2021 11:46:42 AM
INDvsENG: Rain will not be able to form 'Villain' on 'Motera' ..!, Special arrangements for drying in 30 minutes, the third test will be played with pink ball from tomorrow in this stadium built in 700 crore

स्पोर्ट्स डेस्क। कल बुधवार 24 फरवरी से गुजरात के अहमदाबाद स्थित विश्व के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम मोटेरा पर भारत और इंग्लैंड के बीच तीसरा टेस्ट मैच शुरू होगा। मोटेरा स्टेडियम पर खेला जाना वाला ये पहला डे-नाइट टेस्ट मैच होगा। 2014 के लंबे अंतराल के बाद इस स्टेडियम में कोई अंतर्राष्ट्रीय मैच खेला जाएगा। पिछले 6 वर्ष से इस स्टेडियम का पुर्ननिर्माण चल रहा था। अब ये पूरी तरह तैयार है।

1.10 लाख दर्शक इस स्टेडियम में बैठकर मैच का मज़ा ले सकते हैं। साथ ही इस स्टेडिय3rdम में तमाम तरह की आधुनिक सुविधाएं मौजूद हैं। भारत और इंग्लैंड के बीच तीसरा टेस्ट गुलाबी गेंद से खेला जाएगा। इस मैदान पर भारत ने टेस्ट में अबतक 12 मैच खेले हैं जिसमें 4 में जीत मिली है तो वहीं 6 टेस्ट मैच ड्रा रहे हैं। इसके अलावा 2 टेस्ट मैच में भारत को इस मैदान पर हार मिली है। मोटेरा स्टेडियम की खूबसूरती को देखकर इंग्लैंड और भारत के खिलाड़ी हैरान हैं। इसकी खूबसूरती और सुविधाओं को लेकर खिलाड़ियों ने ट्वीट भी किया है।

आइये जानते हैं विश्व के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम से जुड़ी कुछ ख़ास बातें

1. 700 करोड़ रुपए की लागत स्टेडियम का निर्माण किया गया है। इसमें ओलिंपिक साइज का स्विमिंग पूल भी है। स्टेडियम में 4 ड्रेसिंग रूम हैं। 63 एकड़ में पूरा स्टेडियम परिसर फैला है।

2. दुनिया का पहला स्टेडियम, जहां 11 मल्टीपल पिच बनाई गई है। मोटेरा की 11 पिच में से 5 के निर्माण में लाल मिट्टी और बाकी 6 में काली मिट्टी का इस्तेमाल किया गया है।

3. मेलबर्न क्रिकेट स्टेडियम में दर्शकों की बैठने की क्षमता एक लाख है। पहले ये दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम था। अब अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में दर्शक क्षमता 1 लाख 10 हजार है। यानि अब भारत का यह स्टेडियम दुनिया का सबसे बड़ा क्षमता वाली क्रिकेट स्टेडियम बन गया है।

4. सबसे ख़ास बात बारिश के कारण यहां मैच रद्द नहीं होगा। 30 मिनट में स्टेडियम को सुखाने के इंतजाम हैं। सॉइल ड्रेनेज सिस्टम  इस तरह बनाया गया है कि इसे मात्र 30 मिनट में ही सुखा लिया जाएगा। यानी कि 8 सेमी तक बारिश होने पर भी मैच रद्द नहीं होगा।



 
loading...




Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.