अब संगकारा और जयवर्धने से होगी पूछताछ, ये है मामला

Samachar Jagat | Thursday, 02 Jul 2020 09:54:17 AM
Now Sangakkara and Jayawardene will be interrogated

कोलम्बो।  श्रीलंका पुलिस ने 2011 का एकदिवसीय विश्व कप का फाइनल फिक्स होने के पूर्व खेल मंत्री महेंद्रानंद अलुथगमागे के आरोपों को लेकर राष्ट्रीय चयन समिति के पूर्व अध्यक्ष अरविन्द डी सिल्वा और सलामी बल्लेबाज उपुल तरंगा से पूछताछ की है जबकि विश्व कप के समय कप्तान रहे कुमार संगकारा और उपकप्तान रहे माहेला जयवर्धने को अगले कुछ दिनों में पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा।

पूर्व खेल मंत्री महेंद्रानंद अलुथगमागे ने पिछले महीने आरोप लगाया था कि भारत और श्रीलंका के बीच विश्व कप 2011 का फाइनल फिक्स था। उनके इन आरोपों की श्रीलंका के खेल मंत्रालय ने पूरी जांच का आदेश दिया था। अलुथगमागे के आरोप 2011 फाइनल में श्रीलंकाई एकादश में किये गए चार परिवर्तनों को लेकर थे।

हालांकि आईसीसी का कहना था कि उसे फाइनल को लेकर किसी तरह की शिकायत नहीं मिली थी जबकि टूर्नामेंट आयोजन समिति का भी कहना था कि उसे भ्रष्टाचार की कोई शिकायत नहीं मिली। खेल मंत्री दुलास अल्हापपेरूमा ने जांच का आदेश दिया था और जांचकर्ताओं को कहा था कि वे हर दो सप्ताह में एक बार जांच में प्रगति की रिपोर्ट पेश करें। विशेष जांच पुलिस ने पिछले सप्ताह अलुथगमागे का बयान रिकॉर्ड किया था।
श्रीलंका पुलिस ने मंगलवार को चयन समिति के पूर्व अध्यक्ष डी सिल्वा से पूछताछ की थी और बुधवार को तरंगा से पूछताछ की गयी।

विश्व कप के समय चयनकर्ता प्रमुख रहे डी सिल्वा से लगभग छह घंटे तक पूछताछ की गयी। डी सिल्वा ने कहा है कि यदि जरूरत पड़ी तो वह जांच के लिए भारत भी जाने को तैयार हैं।
2011 फाइनल में खेले बाएं हाथ के बल्लेबाज तरंगा से जांच पुलिस ने दो घंटे तक पूछताछ की गयी। तरंगा ने कहा कि इस मामले में उन्होंने अपना बयान रिकॉर्ड करा दिया है। तरंगा ने फाइनल में 20 गेंदों में मात्र दो रन बनाये थे।
विश्व कप 2011 के समय श्रीलंका के खेल मंत्री रहे अलुथगमागे ने यह आरोप लगाते हुए कहा था कि वह अपने बयान की पूरी जिम्मेदारी लेते हैं लेकिन इसमें वह क्रिकेटर को शामिल नहीं करेंगे। उन्होंने कहा था, ‘‘मैं अपने बयान की जिम्मेदारी लेता हूं और मैं बहस के लिए आगे आ सकता हूं। जनता इसको लेकर भचतित है। मैं इसमें क्रिकेटरों को शामिल नहीं करूंगा। हालांकि, कुछ ग्रुप निश्चित रूप से फिभक्सग में शामिल थे।’’

श्रीलंका के दो सबसे अनुभवी बल्लेबाजों माहेला जयवर्धने और कुमार संगकारा ने अलुथगमागे के आरोपों पर सवाल उठाये थे। जयवर्धने ने अलुथगमागे के आरोपों का ट्विटर पर जवाब देते हुए व्यंग्यात्मक लहजे में पूछा था कि चुनाव का समय नजदीक आ गया है क्या ? जयवर्धने ने ट्विटर पर लिखा था, ‘‘क्या चुनाव नजदीक आ गया है? ऐसा लग रहा कि सर्कस शुरू हो गया है और जोकर सामने आ रहे हैं।

विश्व कप में श्रीलंकाई क्रिकेट टीम के कप्तान रहे कुमार संगकारा ने कहा था कि आरोप बहुत गंभीर हैं और पूर्व मंत्री को आईसीसी के समक्ष साक्ष्यों के साथ अपना दावा साबित करना चाहिए। संगकारा ने ट््वीट किया था, ‘‘उन्हें आईसीसी और भ्रष्टाचार रोधी सुरक्षा इकाई के समक्ष अपने ‘सबूत’ रखने होंगे ताकि उनके दावों की जांच पड़ताल की जा सके।’’
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.