मानसिक रूप से असंतुलित बच्ची के बलात्कारी को दो उम्रकैद

Samachar Jagat | Tuesday, 31 Jul 2018 03:48:00 PM
The mentally assaulted girl of the unmarried girl gets two life imprisonment

वडोदरा। मानसिक रूप से असंतुलित एक नाबालिग बच्ची का बलात्कार करने के दोषी 57 वर्षीय एक व्यक्ति को यहंा की अदालत ने दो बार उम्र कैद की सजा सुनाई। घटना वर्ष 2016 की है।

जिला एवं सत्र न्यायाधीश एनएल दवे ने आरोपी लालजी परमार को दस वर्षीय बच्ची का बलात्कार करने का दोषी करार दिया। उसने एमएस यूनिवॢसटी के स्टाफ क्वॉटर में इस घटना को अंजाम दिया था। वह बच्ची का पड़ोसी था।

न्यायाधीश ने भारतीय दंड संहिता की संबद्ध धाराओं के तहत उसे दोषी करार देते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई और उस पर 20,000 रूपये का जुर्माना भी लगाया। यौन अपराधों से बाल संरक्षण (पोक्सो) कानून के तहत भी न्यायाधीश ने उसे उम्र कैद की सजा सुनाई और कहा कि ये दो सजाएं साथ-साथ चलेंगी।

परमार यूनिवर्सिटी  में चपरासी था। उसने 28 अगस्त, 2016 को बच्ची का बलात्कार किया था। बच्ची की मां ने उसे वहां से भागता देख लिया था। एजेंसी 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.