बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या के दोषी को सार्वजनिक तौर पर फांसी दी जाए

Samachar Jagat | Saturday, 13 Oct 2018 06:13:04 PM
After child misdeed, accused of murder should be hanged publicly

लाहौर। पाकिस्तान के लाहौर उच्च न्यायालय में एक याचिका दायर कर सात वर्षीय बच्ची की बलात्कार के बाद हत्या के मुजरिम को सार्वजनिक तौर पर फांसी देने की मांग की गई है। आतंकवाद रोधी कोर्ट ने 23 वर्ष के इमरान अली को 17 अक्टूबर को मौत की सजा देने के लिए शुक्रवार को मौत का फरमान जारी किया था।

मी टू' बॉलीवुड: साजिद खान भी आए निशाने पर, आखिरकार अभिनेताओं ने भी खुल कर रखे अपने विचार

इस वर्ष जनवरी में 7 वर्षीय बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई थी और उसका शव लाहौर से करीब 50 किलोमीटर दूर कसूर शहर में कूड़े के ढेर में फेंक दिया गया था। इसके करीब दो हफ्तों बाद पुलिस ने अली को गिरफ्तार किया था।

इस घटना की देश में चौतरफा निंदा की गई थी और हिंसक प्रदर्शन भी हुए थे जिसमें दो लोगों की मौत हो गई थी। बच्ची के पिता अमीन अंसारी ने एक और याचिका दायर कर अली को 'सार्वजनिक' तौर पर फांसी देने की मांग की है।

अक्षय कुमार ने अपनी अगली फिल्म से मोड़ा मुंह, बीच में अटकी हाऊसफुल 4 की शूटिंग

याचिकाकर्ता ने कहा कि मेरी बेटी के कातिल को ऐसी सजा दी जाए जो मिसाल बने और भविष्य में ऐसी घटनाओं को रोके। उच्च न्यायालय की न्यायमूर्ति सरदार शमीम अहमद और न्यायमूर्ति शाहबाज रिजवी की पीठ 15 अक्टूबर को अर्जी पर सुनवाई करेगी। लाहौर उच्च न्यायालय, उच्चतम न्यायालय और राष्ट्रपति अली की दया याचिका खारिज कर चुके हैं।

विन्ता नन्दा के सपोर्ट में आई एक्ट्रेस संध्या मृदुल, किया आलोक नाथ को लेकर बड़ा खुलासा



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.