02 दिसंबर : बस एक क्लिक में पढ़िए, दिनभर की 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Sunday, 02 Dec 2018 05:19:39 PM
02 December top 10 news

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

अगर अब भी नहीं बना राम मंदिर तो बीजेपी से उठ जाएगा लोगों का भरोसा: बाबा रामदेव

If not even now, Ram temple will rise from BJP, people will trust: Baba Ramdevअहमदाबाद। योग गुरू बाबा रामदेव ने रविवार को कहा कि अगर इस समय अयोध्या में राम मंदिर नहीं बनता तो लोगों का भाजपा पर से भरोसा उठ जाएगा। उन्होंने कहा कि अब जब केंद्र और उत्तर प्रदेश दोनो जगह बीजेपी की सरकार है, अगर अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण नहीं हुआ तो लोगों का भरोसा बीजेपी से उठ जाएगा जो इस सत्तारूढ दल के लिए अच्छा नहीं होगा।


गत लोकसभा चुनाव में बीजेपी का खुलेआम समर्थन करने वाले और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मुखर समर्थक माने जाने वाले बाबा रामदेव ने आज यहां पत्रकारों से यह बात कही। उन्होंने कहा कि अयोध्या में राममंदिर निर्माण के दो ही रास्ते हैं।

एक तो यह है कि लोग कानून और अदालत की परवाह किये बिना खुद ही इसका निर्माण शुरू कर दें। ऐसा होने पर इस पर सवाल उठाए जाएंगे। दूसरा यह है कि सरकार लोकतंत्र की सर्वोच्च संस्था संसद के जरिये कानून बना कर ऐसा करे।

बाबा रामदेव ने कहा कि न्यायिक प्रक्रिया में इतना विलंब हो चुका है कि लोगों को कोर्ट के जरिए इस मामले के जल्दी सुलझने की आशा ही नहीं है। अब मोदी सरकार मंदिर निर्माण के लिए अध्यादेश ला सकती है। देशवासी अयोध्या में राममंदिर देखना चाहते हैं।

उन्होंने दावा किया कि राम अल्पसंख्यकों और बहुसंख्यकों के बीच विवाद के विषय नहीं है क्योंकि वे दोनो ही के पूर्वज हैं। ज्ञातव्य है कि बाबा रामदेव यहां गुजरात में पतंजलि के कपड़ों के पहले स्टोर के उद्घाटन के लिए आए थे। वह आज ही वडोदरा में ऐसे दूसरे परिधान स्टोर का भी उद्घाटन करेंग जिसमें नए फैशन के कपड़े और जिस आदि बिकेंगे।

नए मुख्य चुनाव आयुक्त बने सुनील अरोड़ा, संभाला कार्यभार

Sunil Arora becomes new Chief Election Commissioner

नई दिल्ली। चुनाव आयोग के सदस्य सुनील अरोड़ा ने रविवार को यहां नये मुख्य चुनाव आयुक्त का कार्यभार संभाल लिया। राजस्थान कैडक के भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के अधिकारी अरोड़ा को गत दिनों राष्ट्रपति ने नये मुख्य चुनाव आयुक्त के रूप में नियुक्त किया था।

अरोड़ा वर्तमान मुख्य चुनाव आयुक्त ओ. पी. रावत की जगह इस पद पर आसीन हुए है। रावत का कार्यकाल गत दिनों समाप्त होने के बाद रावत को नया मुख्य चुनाव आयुक्त बनाया गया है। उनकी नियुक्ति ऐसे समय में हुई है जब पांच राज्यों की विधानसभा के लिए चुनाव हो रहे हैं।

अरोड़ा सूचना प्रसारण मंत्रालय के सचिव रह चुके हैं और उन्होंने वित्त मंत्रालय, वस्त्र मंत्रालय के अलावा योजना आयोग में भी अपनी सेवाएं दी हैं। वह नागरिक उड्डययन मंत्रालय के संयुक्त सचिव तथा इंडियन एयरलाइंस के मुख्य प्रबंध निदेशक भी रहे हैं। वह राजस्थान के मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव भी रहे हैं तथा धोलपुर, अलवर, नागौर और जोधपुर के जिलाधीश भी रहे हैं। 

ट्रंप को उम्मीद, जनवरी या फरवरी में उत्तर कोरिया के किम से हो सकती है मुलाकात

Trump hopes, in January or February, North Korea's Kim can meet

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शनिवार को कहा है कि उन्हें उम्मीद है कि वह 2019 की शुरूआत में उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन साथ दूसरा शिखर सम्मेलन करेंगे। संभव है कि यह मुलाकात जनवरी या फरवरी में होगा।

अर्जेंटीना से एयर फोर्स वन में अपने साथ लौट रहे संवाददाताओं के साथ बातचीत में ट्रंप ने कहा कि जून में सिगापुर में अपनी ऐतिहासिक मुलाकात के बाद तीन जगह हैं जहां वार्ता आयोजित करने पर विचार किया जा रहा है।

भविष्य की बैठक के बारे में पूछे जाने पर ट्रंप ने कहा कि मुझे लगता है कि हम बहुत जल्दी, जनवरी या फरवरी में वार्ता करने जा रहे हैं। ट्रंप जी-20 शिखर सम्मेलन के लिए ब्यूनस आयर्स गए थे।

किम को अमेरिका आमंत्रित किए जाने पर पूछे गए सवाल पर उन्होंने शनिवार को कहा कि हां, कुछ मुद्दे पर। जून में ट्रंप और किम ने सैन्य खतरों और कई महीनों तक जारी अहम के टकराव के बाद कोरियाई प्रायद्बीप के परमाणुकरण पर बातचीत शुरू की थी। 

भारत 2022 में जी-20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा : पीएम मोदी

India to host G20 summit in 2022: PM Modi

ब्यूनस आयर्स। भारत 2022 में जी-20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यह घोषणा की। उस साल देश की आजादी के 75 साल भी पूरे हो रहे हैं। जी-20 विश्व की 20 प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं का एक समूह है।

मोदी ने यहां अर्जेंटीना की राजधानी में आयोजित दो दिवसीय सम्मेलन के समापन समारोह में यह घोषणा की। वर्ष 2022 में जी 20 सम्मेलन की मेजबानी इटली को करनी थी। मोदी ने भारत को इसकी मेजबानी मिलने के बाद इसके लिए इटली का शुक्रिया अदा किया।

साथ ही, उन्होंने जी-20 समूह के नेताओं को 2022 में भारत आने का न्यौता दिया। वर्ष 2022 में भारत की आजादी के 75 साल भी पूरे हो रहे हैं। प्रधानमंत्री ने घोषणा के बाद ट्वीट किया, वर्ष 2022 में भारत की आजादी के 75 साल पूरे हो रहे हैं।

उस विशेष वर्ष में, भारत जी-20 शिखर सम्मेलन में विश्व का स्वागत करने की आशा करता है। विश्व की सबसे तेजी से उभरती सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था भारत में आइए। भारत के समृद्ध इतिहास और विविधता को जानिए और भारत के गर्मजोशी भरे आतिथ्य का अनुभव लीजिए।

राजस्थान विस चुनाव: चुनावी माहौल गर्म, जाति-धर्म और व्यक्तिगत आरोप बने मुद्दे 

Rajasthan assembly elections 2018

जयपुर। राजस्थान विधानसभा चुनाव में नेताओं पर व्यक्तिगत आरोप और जाति धर्म के मुद्दे ने चुनावी माहौल को गर्मा दिया है। चुनाव प्रचार कर रहे कांग्रेस एवं बीजेपी के नेता एक दूसरे के शीर्ष नेताओं पर व्यक्तिगत आरोप लगाने लगे है।

शीर्ष नेताओं के व्यवहार तथा चाल चलन को भी मुद्दा बनाया जा रहा है। मुख्यमंत्री वसुधरा राजे का पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के अभिवादन करने के मामले को भी पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मुद्दा बनाया, लेकिन बाद में उन्होंने माफी मांग ली।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी प्रधानमंत्री को बार बार चौकीदार और मोदी ने भी गांधी को नामदार बताकर एक दूसरे को कमतर आंकने का पूरा प्रयास किया जा रहा है। पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने अलवर जिले के खेरथल में प्रधानमंत्री को लेकर स्तरहीन टिप्पणी कर दी जिसकी भी काफी आलोचना हो रही है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी कांग्रेस नेताओं पर व्यक्तिगत टिप्पणी करने से नहीं चूक रहे है और हनुमानजी को उन्होंने चुनावी मुद्दा बना दिया। विकास के मुद्दे पर चुनावी लड़ाई के बजाय जाति धर्म गौत्र को मुद्दा बनाया जा रहा है। गांधी के गौत्र को लेकर चुनावी चौपाल पर काफी चर्चाए हो रही है।

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को महारानी और सार्वजनिक विश्राम गृहों में नहीं ठहरकर होटल और महलों में ठहरने वाली रानी बताकर कांग्रेस ने उन पर काफी तंज कसे। वसुंधरा राजे ने अपनी छवि को आमजन से जोड़ने के लिए खुद ही यह कह दिया कि लोकतंत्र में कोई महारानी नहीं होती हैं।

इस चुनाव में कांग्रेस की नेता सोनिया गांधी के मैदान में नहीं उतरने पर इस बार विदेशी का मुद्दा नहीं हैं लेकिन उनके बेटे राहुल की आंखों पर इटेलियन चश्मा चढा होने के आरोप भाजपा अध्यक्ष अमित शाह जगह जगह लगा रहे हैं।

चुनाव में दागी बागी और बाहरी उम्मीदवार का मुद्दा भी नहीं गर्मा पाया बल्कि हिन्दुत्व के मुद्दे पर दोनों दल एक दूसरे को आगे बताने का प्रयास कर रहे हैं। भाजपा जहां कांग्रेस के हिन्दुत्व की राह पर चलने में अपनी जीत मान रही है वहीं कांग्रेस इसे धर्मनिरपेक्षता से जोड़ रही हैं।

चुनाव मैदान में बागियों के डटे रहने से दोनों पार्टियां मुश्किल महसूस कर रही है लेकिन भाजपा बागियों को हटाने की ज्यादा चिंता में दिखाई नहीं देती जबकि कांग्रेस एक एक सीट का हिसाब लगा रही है। गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल ने बागियों तथा नाराज कांग्रेस नेताओं को लुभाने के लिए सरकार बनने पर कोई पद देने का भरोसा दिलाया हैं।

कांग्रेस नेता भाजपा के छोटे मोटे नेताओं को कांग्रेस से जोड़ने का प्रयास भी कर रहे है जबकि भाजपा में ऐसी कोई रणनीति दिखाई नहीं दे रही है। कांग्रेस ने भाजपा के मजबूत मानेजाने वाले वोट बैंक राजपूत समाज को साधने का भी पूरा प्रयास किया तथा करणी सेना जैसे संगठनों से कांग्रेस के पक्ष में फतवा भी दिलवा दिया।

चुनाव में भाजपा के बड़े नेताओं के खिलाफ कांग्रेस के बड़े नेता खड़े करने की रणनीति भी काफी कामयाब दिख रही है जबकि कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट के सामने भाजपा की ऐसी रणनीति का कोई खास असर नहीं दिखाई दे रहा है।

पायलट के सामने भाजपा के यूनुस खान अपने को अकेला महसूस कर रहे हैं तथा भाजपा का कोई स्टार प्रचारक उनके चुनाव क्षेत्र में अब तक नहीं पहुंचा हैं। भाजपा मुसलमान नेताओं को भी प्रचार से दूर रख रही हैं जबकि कांग्रेस के मुसलमान नेता अपने अपने क्षेत्रों में खूब दमखम लगा रहे हैं।

तीसरे मोर्चे का अगुवा बनकर राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के हनुमान बेनीवाल प्रदेश के आर्थिक पिछड़ेपन के लिए कांग्रेस और भाजपा दोनों को जिम्मेदार बता रहे हैं। इस पार्टी के कई उम्मीदवारों ने चुनावी संघर्ष को त्रिकोणात्मक बना दिया हैं।

विंडीज को पारी से रौंद कर बांग्लादेश ने जीती सीरीज

Bangladesh won series by trouncing the West Indies

ढाका। ऑफ स्पिनर मेहदी हसन (117 रन पर कुल 12 विकेट) की घातक गेंदबाजी के दम पर बंगलादेश ने विडीज को दूसरे क्रिकेट टेस्ट के तीसरे ही दिन रविवार को पारी और 184 रन से रौंद कर दो मैचों के सीरीज में 2-0 की क्लीन स्वीप कर ली।

बांग्लादेश के टेस्ट इतिहास की यह सबसे बड़ी जीत और पहली बार पारी से जीत है। बांग्लादेश ने पहली पारी में 508 रन का विशाल स्कोर बनाया। विंडीज की टीम पहली पारी में 111 रन पर लुढ़क गयी और उसे फॉलोऑन करना पड़ा।

मेहदी हसन ने पहली पारी में 16 ओवर में 58 रन देकर सात विकेट हासिल किए। विंडीज ने तीसरे दिन सुबह दूसरी पारी में पांच विकेट पर 75 रन से आगे खेलना शुरू किया और उसकी दूसरी पारी 59.2 में 213 रन पर समाप्त हो गयी।

शिमरोन हेत्माएर ने एकतरफा संघर्ष करते हुए 92 गेंदों में एक चौके और नौ छक्कों की मदद से 93 रन की आक्रामक पारी खेली। कीमार रोच ने 49 गेंदों में सात चौकों के सहारे नाबाद 37 रन बनाये। मेहदी हसन ने 20 ओवर में 59 रन देकर 5 विकेट हासिल किए और मैच में 12 विकेट पूरे कर एक टेस्ट में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर डाला।

हसन ने बांग्लादेश की तरफ से सर्वश्रेष्ठ टेस्ट प्रदर्शन का अपना ही रिकॉर्ड तोड़ा। तैजुल इस्लाम को 40 रन पर तीन विकेट मिले। हसन को प्लेयर ऑफ द मैच और बंगलादेश के कप्तान शाकिब अल हसन को प्लेयर ऑफ द सीरीज का पुरस्कार मिला। 5 माह पहले बांग्लादेश को वेस्ट इंडीज में 0-2 की हार का सामना करना पड़ा था और अब उसने 2-0 की जीत के साथ उस हार का बदला चुका लिया।

रेलवे की पहली हॉप-ऑन हॉप ऑफ सेवा जल्द शुरू होगी

Railway first hop-on-the-hop service will start soon

शिमला। रेलवे की पहली हॉप-ऑन हॉप-ऑफ (होहो) सेवा जल्द ही कालका शिमला मार्ग पर शुरू की जाएगी। रविवार को वरिष्ठ अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी। इस सेवा के तहत पर्यटकों को यात्रा के लिए महीनों पहले टिकट बुक कराने की जरूरत नहीं होगी।

लगभग हर शहर में बसों में यह व्यवस्था चल रही है। लेकिन ऐसा पहली बार होगा कि भारतीय रेलवे की, यूनेस्को विश्व विरासत कहलाने वाली कालका शिमला लाइन में यह सेवा शुरु होगी। संभागीय रेलवे प्रबंधक (अंबाला मंडल) डीसी शर्मा ने कहा कि हमने इसे एक महीने पहले पेश किया था, लेकिन इसे 15 दिसंबर से 15 फरवरी के बीच आगामी पर्यटन सीजन के दौरान शुरू किया जाएगा।

इस सेवा के नियमों के अनुसार यात्री किसी भी ट्रेन में कोच उपलब्ध होने पर उसमें सफर कर सकता है और किसी भी स्टेशन पर उतर और चढ़ सकता है। हालांकि ऐसे यात्री ट्रेन में उपलब्ध अन्य मूल्य वर्धित सेवाओं के हकदार नहीं है। हो हो सेवा के तहत टिकटों की कीमतें उनकी वैधता अवधि के आधार पर तय की गई हैं।

एक दिन की वैधता में व्यस्कों के लिए टिकट की कीमत 500 रुपए और बच्चों के लिए 250 रुपए होगी। दो दिन की वैधता के तहत व्यस्कों के लिए 800 रुपए और बच्चों के लिए 400 रूपए का टिकट होगा। इसी प्रकार तीन दिन की अवधि के लिए टिकट की कीमत व्यस्कों के लिए 1000 रुपए जबकि बच्चों के लिए 500 रुपए होगी।

ये टिकट गैर-हस्तांतरणीय होंगे और इनकी बुकिग के समय पहचान पत्र की एक प्रति जमा करानी होगी, जिसे टिकट के साथ संलग्न किया जाएगा। कालका-शिमला सेक्शन के किसी भी स्टेशन के बुकिग कार्यालय से टिकट खरीदे जा सकते हैं।

प्रियंका और निक की हुई शादी, क्रिश्चियन रिवाज से बंधे शादी के बंधन में, हिंदू रिवाज से आज लेंगे फेरे 

Priyanka and Nick married

इंटरनेट डेस्क। बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस शनिवार को क्रिश्चियन रिवाज से शादी के बंधन में बंध गए। इसे पूरब और पश्चिम का एक शानदार मिलन बताया जा रहा है। इस प्रेमी जोड़े ने कैथोलिक रीति-रिवाज से विवाह किया। यह शादी शनिवार को जोधपुर के उम्मेद पैलेस में हुई। दोनों के बीच पहली मुलाकात पिछले साल हुई थी।

जानी मानी शख्सियतों के विदेश में शादी करने की प्रवृत्ति के उलट प्रियंका ने भारत में ही शादी करने का फैसला किया और इसके लिए उन्होंने जोधपुर के उम्मेद भवन पैलेस को चुना, जिसे शादी करने के लिहाज से दुनिया के सबसे शानदार स्थानों में एक माना जाता है। खबर के अनुसार ईसाई समारोह में दूल्हे के पिता पॉल केविन जोनस ने अपनी रस्मों को पूरा किया। 

दूल्हा, दुल्हन (प्रियंका और जोनस) रॉल्फ लॉरेन द्बारा डिजाइन किये गये कपड़े पहने हुये थे। प्रियंका ने डिजाइनर द्बारा तैयार किया गया वेडिग गाउन पहन रखा था, जबकि निक ने बैंगनी रंग का परंपरागत कोट पहना था। शादी में दोनों वर वधू के परिजन के अलावा उनके करीबी मित्र शामिल हुए।

खबरों के मुताबिक समारोह में कपल ने एक-दूसरे को स्विट्जरलैंड के फेमस ज्वैलर चोपर्ड के डिजाइनर वेडिंग बैंड्स पहनाए और बाइबिल को साक्षी मानकर साथ निभाने की कसमें लीं।

जानकारी के मुताबिक शादी के रीति-रिवाज निक के पिता पॉल केविन जोनस ने पूरे करवाए। पॉल अमेरिका में पादरी रह चुके हैं। प्रियंका की ब्राइडमेट्स उनकी बहनें रहीं, जो पिंक आउटफिट में दिखाई दी।

जबकि ग्रूमपर्सन्स में निक के तीनों भाई जो, केविन, फ्रैंकी के साथ प्रियंका के भाई सिद्धार्थ भी शामिल हुए। वहीं प्रियंका और निक जोनस हिंदू रीति-रिवाज से 2 दिसम्बर को शादी करेंगे। प्रियंका अबू जानी और संदीप खोसला के डिजाइन किए हुए आउटफिट पहनेंगी।

शादी के बाद 2 रिसेप्शन होंगे। एक रिसेप्शन 4 दिसंबर को दिल्ली, दूसरा मुंबई में बॉलीवुड फ्रेंड्स के लिए होगा। मुंबई में होने वाले रिसेप्शन की डेट अभी सामने नहीं आई है।

प्रियंका और निक की शादी में आने वाले मेहमानों के लिए होगा ये ड्रेस कोड

Priyanka Chopra and Nick Jonas married

इंटरनेट डेस्क। बॉलीवुड की देसी गर्ल प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस की आज रात(2 दिसंबर को) हिंदु रिति रिवाज से जोधपुर के उम्मेद पैलेस में शादी होगी। इसलिए सभी तैयारियां पूरी की जा चुकी हैं। इस शादी में शामिल होने के लिए देशी और विदेश से मेहमान जोधपुर के उम्मेद पैलेस आ रहे हैं।

देसी गर्ल प्रियंका और निक ने अपनी शादी को बेहद खास बनाने के लिए हर तरह की खास तैयारियां कर रखी है। अगर मीडिया रिपोर्ट की माने तो जहां इस रोमांटिक जोड़े की मेहंदी की रस्म बड़ी ही धूमधाम से हुई है। वहीं शादी के लिए धमाकेदार संगीत की तैयारियां हुई है।

खबरों के मुताबिक प्रि‍यंका और निक की शादी में शामिल होने वाले मेहमानों के लिए ड्रेस कोड रखा गया है, वहीं इसकी कलर थीम को भी तय किया गया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक 2 दिसंबर को होने वाली शादी में पुरुषों को हरे और गुलाबी रंग की ड्रेस पहने को कहा गया है।

वहीं महिलाओं के लिए भी ड्रेस कोड रखा गया। खबरों के मुताबिक इसके साथ ही प्रियंका की टीम ने राजस्थानी स्वाफा ऑर्डर किए हैं। अगर बात की जाएं स्वाफा के रंग की तो ये सभी अलग-अलग रंग में होंगे। मेहमानों इन्हीं पारंपरिक स्वाफा में दिखाई देंगे।

आपको बता दें कि प्रियंका और निक ने अपने रॉयल वेडिंग के लिए राजस्थान के शहर जोधपुर को चुना है। प्रियंका और निक की शादी जोधपुर के उम्मेद भवन में आयोजित हो रही है। उम्मेद भवन को फिलहाल 5 दिन के लिए पर्यटकों के लिए रोक दिया गया है।

इस रॉयल वेंडिंग के लिए उम्मेद भवन को दुल्हन की तरह सजाया गया है। शनिवार रात प्रियंका और निक की क्रिश्चिन रीति से संपन्न हुई शादी की जिम्मेदार निक के पिता ने संभाली थी। प्रियंका और निक की सगाई भी हिन्दू रीति के मुताबिक हुई थी। अब इनकी शादी भी क्रिश्चिन रीति के बाद हिन्दू रीति से होने वाली है। 

फीफा अध्यक्ष ने मोदी को विशेष फुटबाल जर्सी भेंट की

FIFA president gifted special football jersey to Modi

ब्यूनस आयर्स। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फीफा अध्यक्ष जियानी इनफेंटिनो से मुलाकात की जिन्होंने भारतीय प्रधानमंत्री को फुटबाल जर्सी भेंटी की जिसमें पीठ पर उनका नाम लिखा हुआ है। मोदी ने कहा कि अर्जेन्टीना आओ और फुटबाल के बारे में नहीं सोचो यह असंभव है।

अर्जेन्टीना के खिलाड़ी भारत में काफी लोकप्रिय हैं। आज फीफा अध्यक्ष जियानी इनफेंटिनो ने जर्सी भेंट की। इसके लिए उनका धन्यवाद। गुरुवार को यहां शांति के लिए योग कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने विस्तार से बताया था कि कैसे दोनों देशों को फुटबाल ने जोड़ा है।

मोदी ने कहा कि अगर अर्जेन्टीना की रुचि भारत के दर्शनशास्त्र, कला, संगीत और नृत्य में है तो फिर भारत में अर्जेन्टीना के फुटबाल सितारों के लाखों चाहने वाले हैं। मैराडोना को वहां घरों सभी लोग जानते हैं। फीफा फुटबाल की वैश्विक संचालन संस्था है। 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.