18 जूनः एक क्लिक में पढ़ें 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Monday, 18 Jun 2018 04:15:57 PM
18 june latest top ten news

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

74 अंक की गिरावट के साथ बंद हुआ सेंसेक्स

Sensex closes below 74 points

मुंबई। घरेलू शेयर बाजार में आज सप्ताह के पहले दिन सोमवार को कारोबार की शुरुआत गिरावट के साथ लाल निशान पर हुई और कारोबार की समाप्ति पर भी ये लाल निशान पर ही बंद हुआ। गिरावट के माहौल में कारोबार की समाप्ति पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 73.88 अंक यानि 0.21 प्रतिशत की गिरावट के साथ 35,548.26 के स्तर पर बंद हुआ।

वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 17.85 अंक यानि 0.17 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,799.85 के स्तर पर बंद हुआ। गौरतलब है कि पिछले सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन शुक्रवार को शेयर बाजार में काराबोर की शुरुआत बढ़त के साथ हरे निशान पर हुई और कारोबार की समाप्ति पर ये बढ़त के साथ हरे निशान पर बंद हुआ।

काराबोर की शुरुआत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( बीएसई ) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स सुबह 41.01 अंक यानि 0.12 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 35,640.83 के स्तर पर खुला और काराबोर की समाप्ति पर ये 22.32 अंक यानि 0.063 प्रतिशत की बढ़त के साथ 35,622.14 के स्तर पर बंद हुआ।

वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी भी काराबोर की शुरुआत में 15.05 अंक यानि 0.14 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,823.10 के स्तर पर खुला और काराबोर की समाप्ति पर ये 9.65 अंक यानि 0.089 प्रतिशत की बढ़त के साथ 10,817.70 के स्तर पर बंद हुआ। 

बांग्लादेश की पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा की हालत नाजुक: बीएनपी नेता

Former Bangladeshi premier Khaleda condition is delicate: BNP leader

ढाका। बांग्लादेश की मुख्य विपक्षी पार्टी बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी ( बीएनपी) के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि जेल की सजा काट रहीं बांग्लादेश की पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया बहुत बीमार हैं और वह खुद से चल पाने में भी असमर्थ हैं। 3 बार प्रधानमंत्री रह चुकीं 72 वर्षीय खालिदा को फरवरी में पांच साल कैद की सजा सुनाई गई थी।

यह सजा जिया ऑर्फनेज ट्रस्ट को दिए जाने वाले ढाई लाख डॉलर विदेशी चंदे के गबन से जुड़े मामले में मिली थी। ‘ डेली स्टार ’ समाचारपत्र ने बीएनपी के महासचिव मिर्जा फखरुल इस्लाम आलमगीर के हवाले से कहा है कि जेल में जब भी उनके परिवार के सदस्य उनसे मिलने आते थे वह उन तक चल कर जाती थीं लेकिन अब वे बहुत बीमार हैं।

उन्होंने सरकार से अपील की कि उन्हें उनकी इच्छा के मुताबिक इलाज उपलब्ध कराया जाना चाहिए और इस संबंध में उचित कदम उठाने चाहिए। फखरुल ने जिया के रिश्तेदारों के हवाले से दावा किया कि वह खुद से चल भी नहीं पा रहीं हैं। वह पिछले चार महीनों से ढाका की 200 वर्ष पुरानी एक जेल में बंद हैं। गत माह खालिदा को सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिल गई थी जिसने उनकी उम्र और स्वास्थ्य समस्याओं को देखते हुए उच्च न्यायालय का आदेश पलट दिया था। उनके वकीलों का कहना था कि इस फैसले से उनका जेल से बाहर निकल आना इतना आसान नहीं होगा। 

क्योंकि कम से कम पांच और मिलते-जुलते मामलों में उनकी जमानत याचिकाएं लंबित हैं। खालिदा को सजा सुनाए जाने के बाद इस साल दिसंबर में होने वाले चुनावों में बीएनपी के भाग लेने पर सवाल खड़ा हो गया था क्योंकि पार्टी ने कहा था कि वह खालिदा के बिना चुनाव में हिस्सा नहीं लेगी। 

धोनी इस तरह कर रहे हैं इंग्लैण्ड दौरे की तैयारी

Dhoni is doing this like preparing for England tour

बेंगलुरु। दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुनौतियों से निपटने के लिए एकांत में अभ्यास करना ज्यादा पसंद करते हैं और लगातार अपने खेल में सुधार करने का प्रयास करते रहते हैं। एक ऐसा ही मामला प्रकाश में आया है, जो भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी हैं।

धोनी दुनिया की नजरों से बचकर दूर इंग्लैंड दौरे से पहले राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) में नेट पर पसीना बहाते हुए देखे गए हैं। सचिन तेंदुलकर भी अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के आखिरी के कुछ वर्षों में मुंबई के ब्रांद्रा कुर्ला परिसर में खुद ही अभ्यास करते थे और एनसीए में धोनी का अभ्यास सत्र भी कुछ ऐसा ही है।

उन्होंने सैकड़ों गेंदों का सामना किया। इसमें से लगभग 70 प्रतिशत थ्रो -डाउन से की गई थी। धोनी ने 15 जून को एकदिवसीय टीम के खिलाडिय़ों के साथ यो यो टेस्ट दिया था और दूसरे खिलाडिय़ों के जाने के बाद भी वह यहां रुके रहे। धोनी सोमवार को राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में थ्रो डाउन विशेषज्ञ रघु और तेज गेंदबाज शारदुल ठाकुर के साथ यहां पहुंचे और लगभग ढाई घंटे तक उन्होंने 18 गज की दूरी से थ्रो- डाउन पर अभ्यास किया।

ठाकुर भी बीच-बीच में गेंदबाजी करते रहे। लगातार दो घंटे अभ्यास करने के बाद धोनी ने छोटा सा ब्रेक लिया और फिर से अभ्यास में जुट गए। इस दौरान सिद्धार्थ कौल यहां आ गए और उन्होंने भी पूर्व भारतीय कप्तान को गेंदबाजी की। थ्रो-डाउन में धीरे-धीरे गेंद की गति बढ़ाई गई और इस दिग्गज ने शॉर्ट गेंद तथा बैक लेंथ गेंदों का समाना किया।

उन्होंने कुछ गेंदों को रक्षात्मक तरीके से खेला तो कुछ का सामना उन्होंने आत्मविश्वास के साथ आगे बढक़र किया। जब भी उन्हें थोड़ी जगह मिलती वह अपने अंदाज में गेंद पर तेजी से प्रहार करते देखे गए। धोनी शारदुल को काल्पनिक क्षेत्ररक्षक लगाने के लिए कहा, जिसके बाद शारदुल ने उन्हे मिड - विकेट , एक्स्ट्रा कवर और डीप फाइन लेग में काल्पनिक क्षेत्ररक्षक रखने का इशारा किया और फिर धोनी ने क्षेत्ररक्षकों को ध्यान में रखते हुए शाट खेले। 

केशव ने ठहराया कश्मीर समस्या के लिए मोदी सरकार को जिम्मेदार 

Keshav upheld Modi government responsible for Kashmir problem

मथुरा। जम्मू कश्मीर की मौजूदा समस्या के लिए केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए युवा कांग्रेस के अध्यक्ष केशव चन्द्र यादव ने कहा कि आतंरिक मसलों को हल करने में नाकाम यह सरकार संवेदनशील मामलों के समाधान के लिये भी विपक्ष की सलाह लेने में गुरेज करती है। यादव ने सोमवार को यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि बीजेपी सरकार देश को खतरे में बताकर सत्ता में दुबारा आने के लिए कश्मीर में युद्ध जैसे हालात दिखा रही है।

केन्द्र ने सीमाओ को सुरक्षित किए घाटी में बिना एक तरफा सीजफायर कर दिया जिसके कारण ईद के मौके पर कश्मीर में पाकिस्तानी झंडे लहराये गए। केन्द्र की गलत रणनीति के चलते घाटी में हालात नहीं सुलझ रहे हैं। उन्होंने कहा कि हकीकत यह है केन्द्र सरकार की न केवल विदेश नीति फेल है बल्कि आंतरिक नीति भी फेल है। एक सिर के बदले दस सिर लाने की बात कहने वाले प्रधानमंत्री मोदी के शासन में रोज जवानों की हत्या हो रही है।

जब केन्द्र सरकार से कश्मीर की समस्या नही सुलझ रही है तो इस मामले में उसे सर्वदलीय बैठक बुलाकर चर्चा करनी चाहिए थी लेकिन वर्तमान में भाजपा अपने खास 3-4 लोगों को छोडक़र किसी की बात सुनने को तैयार नही है ऐसे में विपक्ष की बात सुनने का उसके पास सवाल कहां उठता है। कांग्रेसी नेता ने कहा कि सविधान के साथ छेड़छाड़ की जा रही है। संघ लोकसेवा आयोग से चुने लोगों को दरकिनार कर संघ के लोगों को आगे लाया जा रहा है

वर्ग संघर्ष पैदा किया जा रहा है। विरोध करने वालों को किसी न किसी मामले फंसाया जा रहा है यह एक प्रकार से अघोषित आपातकाल ही है। उन्होंने कहा कि 2019 का चुनाव ईवीएम के बजाय बैलेट से ही कराया जाना चाहिए। जनता भी यही चाहती है। उन्होने दावा किया कि समान विचारधारा वाले दल 2019 के लोकसभा चुनाव के बाद राहुल गांधी को ही प्रधानमंत्री बनाएंगे।

2 साल बाद एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की एक्स गर्लफ्रैंड ने ‘ब्रेकअप की वजह’ से उठाया पर्दा  

After 2 years, Ankita Lokhande disclosed Reason for Breakup by Sushant Singh Rajput

एंटरटेनमेंट डेस्क। एक वक्त था जब टीवी और बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत अपने रिलेशन को लेकर सुर्खियों में रहा करते थे। बता दें कि सुशांत और टीवी की जानी मानी एक्ट्रेस अंकिता लोखंडे का रिश्ता भी किसी से छुपा नहीं हैं। ये दोनों स्टार ने धारावाहिक पवित्र रिश्ता में अपनी केमिस्ट्री से हर घर में एक खास जगह बनाई। यहीं नहीं इसकी शूटिंग के दौरान ही दोनों के बीच प्यार हुआ।

आपको बता दें कि ये कपल करीब 6 साल तक लिव-इन रिलेशनशिप में रहा था। दोनों का प्यार टीवी इंडस्ट्री में प्यार की मिसाल माना जाता था। लेकिन जल्द ही दोनों के ब्रेकअप की खबर ने इनके चाहनें वालों का दिल तोड़ दिया। सुशांत सिंह राजपूत के बॉलीवुड में डेब्यू के बाद से ही दोनों के अलगाव की खबरें सामने आने लगी।

खबरों की मानें तो अंकिता ने अपने ब्रेकअप को लेकर करीब दो साल बाद चुप्पी तोड़ी हैं। अंकिता ने पहली बार अपने ब्रेकअप को लेकर खुलकर बात की हैं। मीडियारिपोर्ट्स की मानें तो अंकिता पर ब्रेकअप का गहरा असर हुआ। ब्रेकअप का दर्द इस कदर था कि उन्होंने एक्टिंग से ही दूरी बना ली। अंकिता खुश है कि इस समय उनके दोस्त और परिवार साथ थे।

वहीं खबरों की मानें तो सुशांत से ब्रेकअप के बाद अंकिता का नाम बिजनेसमैन विक्की जैन के साथ जोड़ा जा रहा हैं। दोनों को कई बार साथ स्पॉट भी किया जा चुका हैं। हालांकि अभी तक दोनों ने अपने रिश्ते को लेकर कुछ कहा नहीं हैं।

आपको बता दें कि एक लंबे वक्त से पर्दे से दूर रहने वाली अंकिता जल्द ही अपने फैंस को सरप्राइज देने वाली हैं। बता दें कि अंकिता बॉलीवुड डेब्यू के लिए तैयार हैं। कंगना रनौत की फिल्म मणिकर्णिका से अंकिता बॉलीवुड में एंट्री करने जा रही हैं। फिलहाल फिल्म की शूटिंग चल रही हैं।

बिटक्वाइन मामले में पूर्व विधायक कोटडिया भगोड़ा घोषित

Former MLA Kotada Bhagora declared in BitQuinn case

अहमदाबाद। गुजरात के सनसनीखेज बिटक्वाइन लूट और अपहरण मामले के आरोपी पूर्व विधायक नलिन कोटडिया को आज भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की विशेष अदालत ने भगोड़ा घोषित कर दिया। ब्यूरो के विशेष जज पी जे तमाखूवाला की अदालत ने धारी से गुजरात परिवर्तन पार्टी की टिकट पर जीतने के बाद भाजपा में मिल गये पूर्व विधायक कोटडिया को एक माह के भीतर उनके समक्ष पेश होने को कहा गया।

इस बीच, इस मामले की जांच कर रही सीआईडी-क्राइम के डीजीपी आशीष भाटिया ने बताया कि अगर कोटडिया अदालत के समक्ष तय समय सीमा में पेश नहीं हुए तो उनकी संपत्ति कुर्क करने की कार्रवाई हो सकती है। उन्होंने यह भी बताया कि इस मामले में मुख्य शिकायतकर्ता और सूरत के बिल्डर शैलेश भट्ट, जो बाद में इसी से जुड़े मामले में मुख्य आरोपी पाया गया, की धरपकड़ के प्रयास जारी हैं। अब तक उसे भगोड़ा घोषित करने के लिए अदालत का दरवाजा नहीं खटखटाया गया है। अगर वह भी लंबे समय तक फरार रहा तो उसके मामले में भी ऐसा किया जायेगा।

कोटडिया पर इस साल फरवरी में भट्ट का अपहरण कराने और उससे जबरन करोड़ो रूपए के बिटक्वाइन हड़पने के षडयंत्र में शामिल रहने का आरोप है। इस मामले में अमरेली के तत्कालीन एसपी जगदीश पटेल, स्थानीय अपराध शाखा के इंस्पेक्टर अनंत पटेल समेत कई लोग पहले ही पकड़े जा चुके हैं। मामले की जांच के दौरान भट्ट के खुद भी बडे पैमाने पर बिटक्वाइन धोखाधड़ी मामले में शामिल रहने का पता चला। वह तबसे फरार हैं।

सेल्फी लेना उस वक्त पड़ा भारी, जब गोवा समुद्र तट के पास तमिलनाडु के दो पर्यटक डूबे

Two tourists from Tamil Nadu submerged near Goa beach

पणजी। सेल्फी लेना बेहद खतरनाक साबित हो सकता है, कई बार तो सेल्फी के चक्कर में इंसान की जान भी जा सकती है। कितनी ही बार ऐसी खबरें सुर्खियों में छाई, लेकिन फिर भी सेल्फी के दीवानों के कान पर जू नहीं रेंगी। ताजा मामला गोवा में समुद्र तट के नजदीक अरब सागर का है, जहां पर सेल्फी लेने के दौरान अलग- अलग घटनाओं में तमिलनाडु के 2 पर्यटक डूब गए।

शनिवार शाम में कर्नाटक और तमिलनाडु के 8 पर्यटकों का एक समूह उत्तर गोवा जिले में बागा समुद्र तट पर घूमने आया था। कलंगूट पुलिस निरीक्षक जिव्बा दलविसैद ने बताया कि समूह के तीन सदस्य समुंद्र में एक चट्टानी जगह पर चले गये। जैसे ही वे अपने मोबाइल फोन से सेल्फी लेने लगे, तेज रफ्तार में समुद्री लहर उनसे आ टकराई।

उन्होंने बताया कि समूह में से दो लोग सुरक्षित तैर कर बाहर आने में सफल रहे जबकि तीसरा व्यक्ति पानी में डूब गया। तीसरे व्यक्ति की पहचान तमिलनाडु के वेल्लोर के रहने वाले दिनेश कुमार रंगनाथन (28) के रूप में की गयी है। बाद में उसका शव पानी से निकाला गया।

इसी तरह की एक अन्य घटना में तमिलनाडु के चार पर्यटक कल सुबह उत्तर गोवा में फोर्ट अगुआडा के निकट सिकेरिम तट पर पानी में एक चट्टान पर मस्ती करने के लिए गए। उन्होंने बताया कि जब वे चट्टान पर बैठ कर अपने फोन से तस्वीरें ले रहे थे उसी समय पानी की एक तेज लहर आई और एक व्यक्ति को बहा कर ले गई। पीडि़त की पहचान शशिकुमार वासन (33) के रूप में की गयी है। 

भारत दुनिया का होगा तीसरा सबसे बड़ा उपभोक्ता बाजार: कोविंद

India will be the world's third largest consumer market: kovind

एथेंस। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा है कि यूनान और भारत ने प्राचीन दुनिया में सभ्यता और संस्कृति के आदर्श प्रस्तुत किए हैं। दोनों देशों के सम्बंध बहुत ही पुराने और गहरे हैं। कोविंद 11 वर्षों में यूनान की यात्रा करने वाले पहले भारतीय राष्ट्रपति  हैं।

वह तीन देशों की अपनी यात्रा के पहले पड़ाव में शनिवार को यहां पहुंचे। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि भारत 2025 तक 5000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था और दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा उपभोक्ता बाजार बनाने की कोशिश कर रहा है।  

उनकी यात्रा से भारत और यूनान के बीच सम्बंध मजूबत होंगे। कोविंद ने द्विपक्षीय संबंधों में सुधार के लिए विदेशों में रह रहे भारतीयों की महत्वपूर्ण भूमिका की सराहना की। राष्ट्रपति ने कहा कि यूनान और भारत ने प्राचीन दुनिया में सभ्यता और संस्कृति के आदर्श प्रस्तुत किए हैं।

दोनों देशों के सम्बंध बहुत ही पुराने और गहरे हैं। यूनान इतिहासकार मेगस्थनीज ने अपनी किताब इंडिका के माध्यम से भारत को दुनिया के सामने पेश किया। यूनानी योद्धा सेल्युकस की बेटी ने राजा चंद्रगुप्त से विवाह किया।

हम भारत और यूनान के सम्बंधों के बारे में इतिहास की किताबों से जान सकते हैं।  भारत को दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा उपभोक्ता बाजार बनाने की दिशा में काम कर रहे हैं। विश्व बैंक और अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष के अनुसार हमारी आर्थिक वृद्धि दर तेज हो रही है।

वर्तमान में भारतीय अर्थव्यवस्था 2500 अरब डॉलर की होने का अनुमान है। लोकतंत्र, युवा आबादी और मांग के लिहाज से भारत दुनियाभर में मजबूत स्थिति में है। उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच बुनियादी ढांचे, आपूर्ति श्रृंखला, हस्तशिल्प, ऊ$र्जा और सेवा जैसे क्षेत्रों में मिलकर काम करने की बहुत संभावनाएं हैं क्योंकि भारत इन क्षेत्रों में सुधार और विस्तार की कोशिश कर रहा है।

विश्व प्रसिद्ध मुक्केबाज मैरीकॉम वीरांगना सम्मान से विभूषित

World famous boxer Mary Kom honored with honors

ग्वालियर। मध्यप्रदेश के ग्वालियर में स्त्रीत्व को नई परिभाषा देकर अपने शौर्य बल से नए प्रतिमान गढ़ने वाली विश्व प्रसिद्ध मुक्केबाज एमसी मैरी कॉम को वीरांगना सम्मान 2015 से विभूषित किया गया। प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री जयभान सिंह पवैया तथा जनसंपर्क मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्र ने मैरी कॉम को इस सम्मान से कल अलंकृत किया। मध्यप्रदेश सरकार के संस्कृति विभाग द्वारा प्रदत्त इस अलंकरण के रूप में उन्हें दो लाख रूपए की सम्मान राशि और प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया। ओलम्पिक एशियाड व राष्ट्रमण्डल खेलों सहित विश्व स्तरीय अन्य प्रतियोगिताओं में मुक्केबाजी के तमाम खिताब मैरीकॉम अपने नाम कर चुकीं हैं।

दो दिवसीय वीरांगना लक्ष्मीबाई बलिदान मेले के पहले दिन महापौर विवेक नारायण शेजवलकर भजन साम्राज्ञी अनुराधा पौडवाल, सामान्य निर्धन वर्ग कल्याण आयोग के अध्यक्ष बालेन्दु शुक्ल, जीडीए अध्यक्ष अभय चौधरी नगर निगम सभापति राकेश माहौर एवं संस्कृति विभाग के संचालक अक्षय सिंह विशिष्ट अतिथि मौजूद थे।

यहाँ रानी लक्ष्मीबाई की समाधि के सामने स्थित मैदान पर बलिदान मेला आयोजित हो रहा है। उच्च शिक्षा मंत्री एवं बलिदान मेले के संस्थापक अध्यक्ष जयभान सिंह पवैया की पहल पर आयोजित हो रहा यह 19वाँ बलिदान मेला है। इस साल झाँसी की रानी वीरांगना लक्ष्मीबाई के बलिदान की 160वीं वर्षगाँठ भी है।

इस मौके पर पवैया ने कहा कि बलिदान मेले से युवाओं को देशभक्ति की प्रेरणा मिलती है। देश मुझे क्या देगा इसके बजाय मैं देश को क्या दे सकता हूँ युवाओं में ऐसी भावना इस बलिदान मेले के माध्यम से पैदा होती है। उन्होंने कहा ग्वालियर को संगीत एवं शौर्य की धरा कहा जाता है। यह तानसेन की जन्मभूमि तो लक्ष्मीबाई का बलिदान स्थल है। बलिदान मेले के मंच पर मैरी कॉम और अनुराधा पौडवाल की मौजूदगी से शौर्य व संगीत का मिलन हुआ है।

वहीं मैरीकॉम ने कहा कि हमने मुक्केबाजी को एक चुनौती के रूप में लेकर इस मिथक को तोड़ने का प्रयास किया है कि लड़कियां भी हर वह काम कर सकती हैं जो लड़के कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि शारीरिक बल वाले मुक्केबाजी खेल को चुनने पर बचपन में मेरी भी हँसी उड़ाई गई। मगर हमने हिम्मतपूर्वक इस खेल में महारत हासिल कर देश और दुनिया में भारत का नाम रोशन किया।

उन्होंने कहा कि एशियाड कॉमनवेल्थ एवं विश्व स्तर की अन्य प्रतियोगिताओं में मुझे स्वर्ण पदक मिल चुके हैं। ओलम्पिक में मैंने ब्रॉन्ज मैडल हासिल किया है। हमारा सपना है कि वर्ष.2020 के ओलम्पिक में हम देश के लिये गोल्ड जीतें। उन्होंने बालिकाओं को संदेश देते हुए आहवान किया कि वे अपने आप को कम न समझें। उन्होंने खुद का उदाहरण देते हुए कहा कि शादी एवं माँ बनने के बाद भी हमने तमाम मैडल हासिल किए हैं।

शहीद ज्योति स्थापना के बाद वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई के मौलिक शस्त्रों की प्रदर्शनी तथा याद करो कुर्बानी स्वराज संस्थान की क्रांतिकारियों पर आधारित प्रदर्शनी का उदघाटन जनसंपर्क डॉ नरोत्तम मिश्र व पवैया द्बारा किया गया। प्रदर्शनियों में वीरांगना लक्ष्मीबाई के अस्त्र.शस्त्र और देश की महान वीरांगनाओं की जीवन गाथा प्रदर्शित की गई है। वीरांगना बलिदान मेला में झॉसी के किले से चलकर आई शहीद ज्योति यात्रा का ग्वालियर शहर में भव्य स्वागत हुआ। एजेंसी

सारदा मामले में किया ईडी ने नलिनी चिदंबरम को फिर तलब 

ED again summoned Nalini Chidambaram in Saradha case

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सारदा पोंजी घोटाले से जुड़े मनी लांड्रिंग के मामलों की जांच के सिलसिले में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम की पत्नी नलिनी चिदंबरम को फिर समन भेजा है। अधिकारियों ने बताया कि नलिनी को ईडी के कोलकाता कार्यालय में 20 जून को तलब किया गया है। इससे पहले उन्हें सात मई को हाजिर होने के लिए समन भेजा गया था लेकिन उन्होंने इसे मद्रास उच्च न्यायालय में चुनौती दी थी। नलिनी पेशे से वकील है।

इससे पहले उन्हों ने ईडी के समन को लेकर अपनी अपील में न्यायाधीश एस एम सुब्रमण्यम के 24 अप्रैल के आदेश को चुनौती दी थी जिसमें उन्होंने ईडी के समन के खिलाफ नलिनी की याचिका को खारिज कर दिया गया था। अदालत ने उनकी इस दलील को नहीं माना कि किसी महिला को जांच के लिए दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 160 के तहत उसके घर से दूर नहीं बुलाया जा सकता।

अदालत ने कहा कि इस तरह की छूट कोई अनिवार्य नहीं है और यह संबंधित मामले के तथ्यों और परिस्थितियों पर निर्भर करती है। न्यायाधीश ने ईडी को नलिनी के नाम नया समन जारी जारी करने को कहा था। इसके बाद एजेंसी ने 30 अप्रैल को समन जारी कर उन्हें सात मई को उपस्थित होने को कहा। एजेंसी ने कहा कि वह इस मामले से उनके संबंध पर धन शोधन रोधक कानून (पीएमएलए) के तहत बयान दर्ज करना चाहती है।

ईडी ने सबसे पहले नलिनी को 7 सितंबर , 2016 को समन कर सारदा चिट फंड घोटाले में गवाह के रूप में कोलकाता कार्यालय में पेश होने को कहा था। नलिनी को कथित रूप से अदालत और कंपनी विधि बोर्ड में टीवी चैनल खरीद सौदे में सारदा समूह की ओर से उपस्थिति होने के लिए 1.26 करोड़ रुपए की फीस दी गई थी।

ईडी और सीबीआई उनसे इस मामले में पहले भी पूछताछ कर चुकी हैं। एजेंसी सूत्रों ने दावा किया कि कुछ नए प्रमाण मिलने के बाद उन्हें नए सिरे से समन किया गया है। मद्रास उच्च न्यायालय में सुनवाई के दौरान नलिनी ने कहा था कि यह समन राजनीति से प्रेरित है जो उनकी छवि को खराब करने के लिए जारी किया गया है।

उन्होंने कहा था कि किसी आरोपी का प्रतिनिधित्व करने के लिए अधिवक्ता द्वारा फीस ले जाती है और यह कोई अपराध नहीं है। प्रवर्तन निदेशालय ने इस मामले में कोलकाता की विशेष पीएमएलए अदालत में 2016 में आरोपपत्र दायर किया था। 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 
loading...


Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.