चीन ने किया शक्ति प्रदर्शन, भारत ने कर डाली बड़ी मिलिटरी ड्रिल

Samachar Jagat | Wednesday, 02 Oct 2019 09:49:35 AM
China demonstrated power, India imposed large military drill

इंटरनेट डेस्क। चीन द्वारा अपनी सैन्य क्षमता का प्रदर्शन करने के बीच भारत ने भी बड़े युद्ध अभ्यास की शुरुआत कर दी है। भारत ने माउंटेन वारफेयर की दिशा में अपने नए इंटिग्रेटेड बैटल ग्रुप्स (आईबीजी) को टेस्ट करने के लिए अरुणाचल प्रदेश में इसकी तैयारी कर ली है। इससे पहले मंगलवार को चीन ने 70वें वार्षिक परेड के दौरान रणनीतिक बमवर्षक, फाइटर, सुपरसॉनिक ड्रोन और दुनिया की सबसे लंबी दूरी के इटंर कॉन्टिनेंटल बलिस्टिक मिसाइल के जरिए अपनी सैन्य क्षमता का प्रदर्शन किया है। चीन से लगे बॉर्डर पर महीने तक हिम विजय अभियान चलाया जा रहा है।


loading...

एससी/एसटी एक्ट: सुप्रीम कोर्ट ने पलटा अपना पुराना फैसला, गिरफ्तारी से रोक हटाई

इसमें नए 17वें ब्रह्मास्त्र कॉर्प्स को फुर्ती से अटैक करने वाले एक उत्कृष्ट फोर्स में तब्दील किया जाएगा। 17वें कॉर्प्स के तीन आईबीजी में 5000 जवान, कई टैंक, लाइट आर्टिलरी, एयर डिफेंस यूनिट, सिग्नल और अन्य उपकरण शामिल हैं। यह आईएएफ सी-17 ग्लोबमास्टर-3, सी-130 जे सुपर हर्कुलस और एएन-32 एयरक्राफ्ट के साथ अभ्यास करेगा। इसमें जवानों को एयर लिफ्ट करने के लिए हेलिकॉप्टर्स और अन्य उपकरणों को भी शामिल किया गया है। हिम विजय अभ्यास उस वक्त जोर-शोर से चल रहा होगा जब चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग महीने के आखिर में पीएम नरेंद्र मोदी के साथ चेन्नै में अनौपचारिक बैठक के लिए भारत का दौरा कर रहे होंगे।

महात्मा गांधी के जयंती के असवर पर भाजपा और कांग्रेस करेगी अनेकों कार्यक्रम का आयोजन, सोनिया गांधी की अगुवाई में कांग्रेस निकालेगी पदयात्रा

उदाहरण के लए 17वें कॉर्प्स में भारी चीजों को ढोने वाले चिनूक हेलिकॉप्टर्स होंगे जो एम-777 अल्ट्रा लाइट हॉवित्जर को चीन से लगे फॉरवर्ड और ऊंचाई वाले इलाके में ले जा सके। वायु सेना ने सितंबर 2015 में हुई 8,048 करोड़ रुपये की डील के मुताबिक 15 सीएच-47एफ चिनूक को अपने बेडे़ में शामिल करना शुरू किया है, जबकि आर्मी नवंबर 2016 में अमेरिका के साथ हुई 5,000 करोड़ रुपये की डील के बाद 145 एम-777 हॉवित्जर को अपने बेड़े में शामिल कर रहा है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.