लोकतंत्र को खत्म करने की हो रही है साजिशः संजय सिंह

Samachar Jagat | Saturday, 20 Jan 2018 05:21:42 PM
Conspiracy to destroy democracy sanjay singh

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों को अयोग्य ठहराए जाने की चुनाव आयोग की सिफारिश पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए पार्टी नेता संजय सिंह ने आज कहा कि यह सब लोकतंत्र को खत्म करने की साजिश है।

आप ने निर्वाचन आयोग पर साधा निशाना, कहा-20 विधायकों के मामले में संस्तुति अनुचित 

सिंह और पार्टी के कुछ अन्य नेताओं ने ताजा घटनाक्रम पर अपना पक्ष रखने के लिए यहां बुलाए गए विशेष संवाददाता सम्मेलन में मुख्य चुनाव आयुक्त ए के ज्योति को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का एजेंट करार देते हुए कहा कि वह प्रधानमंत्री का एहसान चुका रहे हैं दूसरों की उन्हें कोई चिंता नहीं है। वह दूसरों को तो शिक्षा दे रहे है पर खुद ही गलत काम कर रहे हैं। दिल्ली में मुख्य चुनाव आयुक्त बनकर बैठे हैं लेकिन गुजरात में सरकारी बंगले का लाभ उठा रहे हैं।

सिंह ने आरोप लगाया कि चुनाव आयोग ने आप के विधायकों का पक्ष सुनने की एक बार भी जरूरत नहीं समझी और एकतरफा फैसला ले लिया। उन्होंने कहा कि जब दिल्ली उच्च न्यायालय ने खुद ही संसदीय सचिवों की नियुक्ति को निरस्त कर दिया था तो फिर इस मामले पर आगे कार्रवाई की कोई गुंजाइश ही नहीं बनती। 

उन्होंने इस अवसर पर आप विधायकों की नियुक्ति का पत्र भी संवाददाताओं को दिखाते हुए कहा कि इसमें पहले ही साफ कर दिया गया था कि किसी को भी इसके एवज में कोई सरकारी सुविधा या किसी तरह का आर्थिक लाभ नहीं मिलेगा। उन्होंने कहा कि नियुक्ति पत्र में जब यह साफ कह दिया गया था तो फिर ये पद लाभ के पद कैसे हो सकते हैं। 

आप नेता ने इस सिलसिले में शीला दीक्षित सरकार तथा हरियाणा, पश्चिम बंगाल और पंजाब की सरकारों का भी हवाला देते हुए कहा कि इन सबने भी अपने कई विधायकों को संसदीय सचिव बनाया था हालांकि बाद में वहां के उच्च न्यायालयों ने ये नियुक्तियां रद्द कर दी थीं लेकिन सदस्यों की सदस्यता नहीं रद्द की गयी। 

पाकिस्तान ने जम्मू में की गोलीबारी, एक जवान शहीद, दो नागरिकों की मौत

लाभ के पद के मामले में चुनाव आयोग ने आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों को अयोग्य घोषित करने की सिफारिश कल राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद के पास भेजी है।
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.