निर्भया कांड के दोषियों की फांसी की सजा बरकरार, सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया फैसला

Samachar Jagat | Monday, 09 Jul 2018 03:01:21 PM
Nirbhaya gang rape case latest news

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने 2012 के निर्भया सामूहिक बलात्कार मामले में 3 दोषियों की फांसी की सजा को उम्रकैद में बदलने की गुहार सोमवार को ठुकरा दी। मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली 3 सदस्यीय पीठ ने इस मामले में फांसी की सजा को उम्रकैद में बदलने की पवन, विनय और मुकेश की पुनर्विचार याचिका को खारिज कर दिया। न्यायालय ने तीनों की पुनर्विचार याचिका पर 4 मई को सुनवाई कर फैसला सुरक्षित रखा था।

-दिल्ली उच्च न्यायालय द्वारा दी गई फांसी की सजा बरकरार 
इस मामले के एक अन्य दोषी अक्षय ने पुनर्विचार याचिका दाखिल नहीं की थी। पीठ के अन्य सदस्य आर भानुमति और अशोक भूषण थे। गत वर्ष 5 मई को दिए फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने निर्भया सामूहिक बलात्कार के चारों दोषियों मुकेश,विनय, अक्षय और पवन को दिल्ली उच्च न्यायालय द्वारा दी गई फांसी की सजा को बरकरार रखा था। 

-16 दिसम्बर 2012 को दक्षिणी दिल्ली के मुनिरका में हुआ था गैंगरेप
गौरतलब है कि 16 दिसम्बर 2012 को दक्षिणी दिल्ली के मुनिरका से निर्भया मित्र के साथ एक निजी बस में सवार हुई तो उसके साथ बस चालक एवं उसके सहयोगियों ने सामूहिक बलात्कार और क्रूरता की थी। बाद में निर्भया की मौत हो गई थी। दोषियों की पुनर्विचार याचिका पर फैसला सुनाए जाने के दौरान निर्भया के परिजन भी न्यायालय कक्ष में मौजूद थे।

'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' में डॉक्टर हंसराज हाथी का किरदार निभाने वाले अभिनेता कवि कुमार आजाद का निधन

इस बॉलीवुड एक्टर ने संजय लीला भंसाली के साथ काम करने से किया इंकार, चौंकाने वाली वजह आई सामने!

हे..बदरा अब तो बरस जाओ? मानसून की बेरुखी से किसानों की बढ़ी चिंता, पसीने से तरबतर हुआ इंसान  

हैवानियत की सारी हदें पार: नाबालिग छात्रा का अपहरणकर कर डाली ये घिनौनी हरकत कि...

मध्य प्रदेश में किसानों को गत एक वर्ष में दिए गए 35,000 करोड़ रुपए: चौहान

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...


Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.