जयपुर में गरजे राहुल गांधी, कहां-राफेल सौदे में पीएम मोदी ने किया भ्रष्टाचार और चोरी 

Samachar Jagat | Saturday, 11 Aug 2018 08:23:06 PM
Rahul Gandhi ki jaipur visit

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

जयपुर। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने रा$फेल विमान सौदे, रोजगार, किसान और महिला सुरक्षा के मुद्दे पर शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधा निशाना साधा और राफेल सौदे के नियम शर्त बदलने और ठेका एक उद्योगपति की कंपनी को देने का जिक्र करते हुए कहा कि आपके प्रधानमंत्री ने राफेल (सौदे) में भ्रष्टाचार किया है, चोरी की है।

राजस्थान की एक दिन की यात्रा पर आए राहुल गांधी ने यहां  कांग्रेस कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को संबोधित करते हुए आरोप लगाया कि राफेल मामले में प्रधानमंत्री ने देश के युवाओं से उनका भविष्य छीन लिया है। राफेल सौदे से अपने भाषण की शुरूआत करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी ने सभी पूर्व नियम शर्तों को बदलते हुए अपने उद्योगपति मित्र अनिल अंबानी की उस कंपनी को महंगी कीमत पर हवाई जहाज बनाने का ठेका दिया जो सात दिन पहले ही बनी थी।

राहुल के मुताबिक उन्होंने जब संसद में ये सारे सवाल उठाए तो मोदी जी एक बार भी उनसे नजर नहीं मिला सके ‘‘क्योंकि आपके प्रधानमंत्री ने रा$फेल (सौदे) में भ्रष्टाचार किया है, चोरी की है और यह आने वाले समय में पूरे देश के सामने साफ हो जाएगा। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी ने उस विमान की कीमत 1600 करोड़ रुपए देना मंजूर किया है, जिसका सौदा संप्रग सरकार ने केवल 540 करोड़ रुपए में किया था।

राहुल ने कहा कि एयरोनाटिक्ल इंजीनियरिंग की पढाई में लाखों रुपए खर्च करने वाले युवाओं से नरेंद्र मोदी ने उनका भविष्य छीना है ... क्योंकि वह अपने एक उद्योगपति मित्र को एक विमान का 1600 करोड़ रुपये देना चाहते थे। रोजगार के मुद्दे पर राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने हर साल देश के 2 करोड़ युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था लेकिन सचाई यह है कि देश में चौबीस घंटे केवल 450 नये युवाओं को रोजगार मिलता है।

उन्होंने किसानों द्वारा आत्महत्या और बड़ी कंपनियों को कर्जमाफी के मुद्दे पर भी केंद्र सरकार पर निशाना साधा। राहुल ने कहा कि केंद्र की राजग सरकार ने देश के सबसे बड़े 15-20 उद्योगपतियों का 2 लाख तीस हजार करोड़ रुपए का कर्ज माफ किया है, लेकिन किसानों के मामले में ऐसा नहीं।  कांग्रेस अध्यक्ष ने चुटकी लेते हुए कहा कि अगर कोई बड़ा उद्योगपति कर्ज नहीं चुकाए तो एनपीए और कोई किसान कर्ज नहीं चुकाए तो डिफाल्टर यह भेद क्यों ?

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री अगर उद्योगपतियों के गले मिल सकते हैं तो किसानों के गले भी मिलें। राहुल गांधी ने जीएसटी और नोटबंदी जैसे कदमों और ‘बेटी पढाओ बेटी बचाओ‘ जैसे नारों को लेकर भी केंद्र सरकार को घेरा।

महिला सुरक्षा के मामले में उन्होंने कहा कि मौजूदा सरकार के कार्यकाल में जो हालत है वह बीते 70 तो क्या बीते 3000 साल में भी नहीं हुई। उन्होंने कहा कि राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव होने हैं और इन राज्यों में कांग्रेस मजबूत स्थिति में है। 

पैराशूट प्रत्याशियों को नहीं मिलेगा मौका: राहुल
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को स्पष्ट किया कि आगामी विधानसभा चुनावों में किसी बाहरी (पैराशूट) प्रत्याशी को टिकट नहीं मिलेगा और इस मामले में पार्टी कार्यकर्ताओं की बात सुनी जाएगी। स्थानीय रामलीला मैदान में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा कि कार्यकर्ता जमीन पर मेहनत करते हैं।

खून पसीना बहाते हैं लेकिन ऐनवक्त पर पैराशूट से आए प्रत्याशी टिकट ले जाते हैं। उन्होंने कहा कि इस बार मैं आपको गारंटी देता हूं कि पैराशूट वाला एक भी प्रत्याशी टिकट नहीं ले पाएगा। ऐसे प्रत्याशियों के पैराशूट की डोर काट दी जाएगी और वे 20000 फुट से जमीन पर गिरेंगे। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं को जगह मिलेगी जो पार्टी कार्यकर्ता जिसे चाहेगा उसे ही टिकट मिलेगी और वही विधानसभा जाएगा।

उन्होंने कहा कि चुनाव के बाद जो सरकार बनेगी वे कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं की बनेगी। उस सरकार में पार्टी कार्यकर्ताओं की सुनवाई होगी। उल्लेखनीय है कि राज्य में इस वर्ष विधानसभा चुनाव होने हैं। राहुल के इस कार्यक्रम के साथ ही कांग्रेस ने अपने चुनाव अभियान का शंखनाद कर दिया है। 

राहुल ने गोविंद देवजी के मंदिर में किए दर्शन
कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को सायं जयपुर के आराध्य देव गोविंद देवजी के मंदिर में दर्शन किए। गांधी ने शनिवार को अपनी एक दिवसीय जयपुर यात्रा के दौरान राजस्थान विधानसभा चुनावों के लिए प्रचार अभियान का शंखनाद करने के बाद आराध्य देव गोविंद देव जी के मंदिर गए और भगवान के दर्शन कर आर्शीवाद मांगा।

गांधी की यात्रा के दिन अमावस्या और ग्रहण होने के कारण मंदिर दर्शन को लेकर अटकले लगाई जा रही थी। प्रदेश कांग्रेस की ओर से निर्धारित किए गए कार्यक्रम में भी उनके मंदिर दर्शन का कोई कार्यक्रम नहीं था। लेकिन पंडितों और राजनीतिक प्रेक्षकों द्वारा लगाए जा रहे कयासों के मद्देनजर पार्टी ने पहले ही पंडितों से गुपचुप चर्चाएं कर उनके मंदिर दर्शन के कार्यक्रम को गुप्त रखने का निर्णय कर लिया था।

इस मौके पर उनके साथ पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट , पार्टी के प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे और अन्य कई पदाधिकारी भी मौजूद थे।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...


Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.