जिन लोगों को जमीन का अंदाजा नहीं, वे अंकगणित के हिसाब से चलते हैं : मनोज सिन्हा

Samachar Jagat | Wednesday, 08 May 2019 04:35:45 PM
Union minister Manoj Sinha latest news

गाजीपुर (उप्र)। केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा ने लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश के सपा- बसपा गठबंधन पर बुधवार को निशाना साधते हुए कहा कि जिन लोगों को जमीन का अंदाजा नहीं है, वे अंकगणित के हिसाब से चलते हैं, लेकिन राजनीति तो रसायन विज्ञान है। उन्होंने यह दावा भी किया कि इस बार जातिवाद की दीवार ध्वस्त हो जाएगी। सिन्हा ने यहां पीटीआई-भाषा को दिए साक्षात्कार में कहा कि इस बार लहर नहीं, बल्कि मोदी की सुनामी है।

Rawat Public School

इस चुनाव में लोग मोदी के नाम पर और काम पर वोट कर रहे हैं। लोग इसी सरकार को आगे बरकरार रखना चाहते हैं। गाजीपुर और राज्य की अन्य सीटों पर गठबंधन का जातीय समीकरण मजबूत होने के सवाल पर रेल राज्य मंत्री ने कहा कि जिन लोगों को जमीन का अंदाजा नहीं है, वो अंकगणित के हिसाब से चलते हैं।

लेकिन राजनीति तो रसायन विज्ञान है। पूर्वी उत्तर प्रदेश में जातिवाद की राजनीति प्रभावी रही है। हालांकि, 2014 में जातिवाद की दीवार दरक गई थी। पिछले पांच वर्षों में मोदी सरकार ने जो काम किया है, उससे मुझे लगता है कि यह दीवार ध्वस्त होने वाली है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मीडिया और सर्वेक्षणों के आकलन गलत साबित होंगे।

उन्होंने कहा कि समाज के सभी वर्गों के लोग भाजपा के साथ हैं। मेरा मानना है कि जनता आगे हो गई है और हम एवं हमारी पार्टी के नेता पीछे हो गए हैं। ऐसा चुनाव मैंने कभी देखा नहीं था। विकास कार्यों के सिर्फ गाजीपुर शहर तक केंद्रित रहने के विपक्ष के आरोप पर सिन्हा ने गठबंधन उम्मीदवार अफजाल अंसारी पर निशाना साधते हुए कहा कि ..जिन लोगों ने कोई काम नहीं कराया, सिर्फ अपराध किया, उनके आरोप का जवाब देने के लिए मैं राजनीति नहीं कर रहा हूं।

उन्होंने यह भी दावा किया कि कांग्रेस द्बारा अजीत प्रताप कुशवाहा को प्रत्याशी बनाए जाने और ओम प्रकाश राजभर के उम्मीदवार उतारने का भाजपा की संभावनाओं पर कोई असर नहीं पड़ेगा क्योंकि इन दोनों वर्गों के लोग पूरी तरह से भाजपा के साथ हैं। राष्ट्रवाद के मुद्दे के बारे में पूछे जाने पर भाजपा नेता ने कहा, यह विषय राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा है। लोग विकास के साथ सुरक्षा भी चाहते हैं। लोगों को पता है कि देश मोदी के हाथों में सुरक्षित है।

बसपा सुप्रीमो मायावती की प्रधानमंत्री पद की उम्मीदवारी के बारे में पूछे जाने पर सिन्हा ने कहा कि सबको सपने देखने का अधिकार है। उत्तर प्रदेश में कांग्रेस और प्रियंका गांधी वाड्रा की चुनौती के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि प्रियंका ने खुद कह दिया है कि कांग्रेस भाजपा को हराने के लिए चुनाव लड़ रही है। अब इस पर क्या कहा जा सकता है?

सिन्हा ने दावा किया कि पिछले पांच वर्षों में उन्होंने यहां बुनियादी ढांचे में सुधार किया है और इस बार चुनाव जीतने का बाद वह गाजीपुर में किसानों की आमदनी बढ़ाने और नौजवानों के लिए रोजगार के ज्यादा से ज्यादा अवसर पैदा करने के लिए काम करेंगे। उन्होंने कहा कि लंबे समय से बन्द पड़ी नन्दगंज चीनी मिल को निकट भविष्य में शुरू कर दिया जाएगा। गौरतलब है कि सातवें और आखिरी चरण के तहत गाजीपुर मेें 19 मई को मतदान है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 11 मई को यहां सिन्हा के समर्थन में एक चुनावी सभा को संबोधित करने वाले हैं।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.