कौन हैं Bhole Baba उर्फ नारायण साकार हरि? जिनकी सत्संग में मची भगदड़ में 116 लोगों ने गंवाई अपनी जान

Samachar Jagat | Wednesday, 03 Jul 2024 09:00:49 AM
Uttar Pradesh: Who is Bhole Baba alias Narayan Sakar Hari? 116 people lost their lives in a stampede during his satsang

PC: abplive

इंटरनेट डेस्क। उत्तर प्रदेश के हाथरस में स्वयंभू संत भोले बाबा उर्फ नारायण साकार हरि के सत्संग में मंगलवार को एक दर्दनाक हादसा हुआ। सत्संग में मची भगदड़ के कारण अब तक 116 लोगों की मौत हो गई है। वहीं 35 लोग घायल हुए हैं। इस घटना के बाद से ही बाबा फरार हो गया है। अब बाबा साकार हरि के लोकेशन को लेकर बड़ा अपडेट मिला है। 

PC:  aajtak 

खबरों के अनुसार, भोले बाबा उर्फ नारायण साकार हरि हाथरस से सीधे मैनपुरी के रामकुटीर आश्रम पहुंचने का शक है। इस आश्रम के बाहर प्राइवेट सुरक्षाकर्मी लगे हुए हैं। इस आश्रम में किसी मीडियाकर्मी वह बाहर के लोगों को अंदर जाने की अनुमति नहीं है।

PC: Facebook

बाबा की ओर से अभी तक इस घटना पर किसी भी प्रकार की प्रतिक्रिया नहीं आई है। इस घटना पर पीएम नरेन्द्र मोदी सहित देश के कई दिग्गज नेता दुख प्रकट कर चुके हैं। खबरों के अनुसार, अब उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ आज स्थिति का जायजा लेने के लिए हाथरस जाएंगे। 

PC: Facebook

कासगंज के पटियाली गांव के निवासी हैं साकार हरि बाबा
आपको बात दें कि स्वयंभू संत भोले बाबा उर्फ नारायण साकार हरि बाबा कासगंज के पटियाली गांव के निवासी हैं। यूपी पुलिस में 18 साल की नौकरी के बाद उन्होंने वीआरएस ले लिया था। यूपी में हेड कांस्टेबल की नौकरी के दौरान 28 साल पहले वह इटावा में भी पोस्टेड  थे। स्वयंभू संत भोले बाबा उर्फ नारायण साकार हरि बाबा का दावा है कि वीआरएस के बाद उन्हें भगवान के साक्षात दर्शन हुए थे।

PC: news18.j

सत्संग में देते हैं मानव सेवा का संदेश
साकार हरि बाबा द्वारा अपने सत्संग में मानव सेवा का संदेश दिया जाता है।  बताया जाता है कि वह सत्संग में लोगों से कहते हैं कि मानव की सेवा ही सबसे बड़ी सेवा है। उनका मानना है कि सत्संग में आने से रोग मिट जाते हैं। 

PC: अपडेट खबरों के लिए हमारा वॉट्सएप चैनल फोलो करें



 


Copyright @ 2024 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.