शशि कपूर के साथ आनंद बनाना चाहते थे ऋषिकेश!

Samachar Jagat | Wednesday, 13 Mar 2019 01:21:05 PM
Rishikesh wanted to make 'film anand' with Shashi Kapoor!

मुंबई। बॉलीवुड निर्देशक ऋषिकेश मुखर्जी अपनी सुपरहिट फिल्म ‘आनंद’ शशि कपूर को लेकर बनाना चाहते थे। ऋषिकेश के निर्देशन में बनी फिल्म आनंद में राजेश खन्ना और अमिताभ बच्चन ने मुख्य भूमिका निभायी थी। फिल्म आनंद’ 12 मार्च 1971 में रिलीज  हुई थी। इस फिल्म को रिलीज हुए पूरे 38 वर्ष हो चुके हैं। ऋषिकेश निर्देशित इस फिल्म को देखर जब लोग थिएटर से निकले तो सभी की आंखें नम थी और जहन में सिर्फ एक बात थी कि ‘जिंदगी बड़ी होनी चाहिए, लम्बी नहीं!

बताया जाता है कि ऋषिकेश इस फिल्म में पहले शशि कपूर को आनंद के किरदार के लिए लेना चाहते थे लेकिन किसी कारणवश शशि कपूर ने फिल्म के लिए मना कर दिया। इसके बाद ऋषिकेश ने राज कपूर को आनंद बनाने का सोचा लेकिन उस समय राज बीमारी से ताजा ताजा उठे थे और ऋषिकेश नहीं चाहते थे कि वो फिल्म में राज को मरते हुए दिखाएं। इसके बाद यह रोल राजेश खन्ना तक पहुंचा।

ऋषिकेश को ‘आनंद’ की यह कहानी बहुत पसंद थी लेकिन, वो नहीं चाहते थे कि लोगों को यह अंत में पता चले कि ‘आनंद’ को कैंसर है। इसलिए, ऋषिकेश ने राइटर गुलजार से ये गुजारिश की थी कि वो कुछ ऐसा लिखें जिससे लोगों को शुरू में ही पता चल जाए कि आनंद बीमार है और वो इस बीमारी से लडक़र जीतते हैं या हारते हैं, यह सवाल पूरी फिल्म के दौरान लोगों के जहन में बना रहे। ‘आनंद’ में राजेश खन्ना अमिताभ को बाबु मोशाय कह कर बुलाते थे। बाबु मोशाय मतलब ‘जेंटलमैन’ जो राज कपूर रियल लाइफ में ऋषिकेश को कहा करते थे। ऋषिकेश ने ही यह शब्द राजेश खन्ना को बताया और इसे फिल्म में बखूबी इस्तेमाल भी किया गया। एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.