नकली एंटीबायोटिक्स दवाइयों की पहचान करने के लिए विकसित हुई पेपर जांच प्रणाली

Samachar Jagat | Wednesday, 22 Aug 2018 02:59:29 PM
A paper investigation system developed to identify counterfeit antibiotics medicines

वाशिंगटन। आजकल लोगों की इम्यूनिटी पावर कमजोर होती जा रही है। ऐसे में हर कोई जल्दी से किसी बीमारी से ग्रस्त हो जाता है। इन सभी से निपटने के लिए व्यक्ति एंटीबायोटिक मेडिसिन का इस्तेमाल करता है। इन दवाओं का उपयोग इतना अधिक बढ़ गया है कि लोग बिना जानें किसी भी मेडिकल से केवल एंटीबायोटिक बोलकर दवा ले आते हैं। बढते उपयोग से बाजार में नकली दवाएं आने लगी है। इसी से निपटने के लिए कुछ वैज्ञानिकों ने नई जांच प्रणाली विकसित की है।

डायबिटीज के मरीजों के लिए नाश्ते में दूध पीना फायदेमंद, ब्लड शुगर रहती हैं कंट्रोल

हाल ही में वैज्ञानिकों ने एंटीबायोटिक दवाओं की प्रमाणिकता की जांच के लिए पेपर पर आधारित एक ऐसी जांच प्रणाली विकसित की है जिससे कुछ ही मिनट में पता चल जाएगा कि दवाई असली है या नकली। दवाई नकली होने पर यह कागज खास तरह के लाल रंग में तब्दील हो जाता है। विकासशील देशों में बड़े पैमाने पर घटिया दवाओं का उत्पादक और वितरण होता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) का अनुमान है कि दुनियाभर में लगभग 10 फीसदी दवाइयां फर्जी हो सकती हैं और उनमें से 50 फीसदी एंटीबायोटिक के रूप में होती हैं।

मानसून में गर्भवती महिलाएं ऐसे रखें अपना और बच्चे का ख्याल, नहीं होने दे सेहत खराब

नकली एंटीबायोटिक दवाइयों से न केवल मरीज की जान को खतरा पैदा होता है बल्कि दुनिया भर में एंटीमाइक्रोबियल प्रतिरोध की बड़े पैमाने पर समस्या भी पैदा होती है। अनुसंधानकर्ताओं ने कागज आधारित जांच का विकास किया है जो तेजी से इस बात का पता चल सकता है कि दवाई असली है या नहीं या क्या उसमें बेकिग सोडा जैसी चीजें मिलाई गई हैं। - एजेंसी

रिसर्च में हुआ खुलासा नैनोकण कोशिकाओं के लिए बनाता नुकसानदेह जहरीला कॉकटेल

खूबसूरत दिखने के लिए आहार में शामिल करें ये विटामिन, कुछ दिनों में पाएंगे ग्लोइंग स्किन



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.