पाक चुनाव आयोग ने दो सीटों से इमरान खान की जीत की अधिसूचना रोकी, शपथग्रहण में देरी संभव

Samachar Jagat | Wednesday, 08 Aug 2018 01:30:37 PM
Pakistan Election Commission stopped notification of victory of Imran Khan in two seats, possible delay in swearing-in

इस्लामाबाद। पाकिस्तान चुनाव आयोग (ईसीपी) ने पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के प्रमुख इमरान खान को मंगलवार को झटका दिया। ईपीसी ने खान द्वारा जीती गई 5 में से दो सीटों से जीत की अधिसूचना को रोक लिया है। चुनाव निकाय के इस कदम से प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने की योजना खतरे में पड़ गई है।

मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि हालांकि खान ने पांच सीटों से चुनाव जीता था। खान की 3 अन्य निर्वाचन क्षेत्रों से जीत की अधिसूचना जारी की जा चुकी है लेकिन यह चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के लंबित मामले पर ईपीसी के फैसले पर निर्भर करेगा।

क्रिकेटर से राजनेता बने 65 वर्षीय पीटीआई अध्यक्ष पाकिस्तान के अगले प्रधानमंत्री होंगे क्योंकि उनकी पार्टी ने उन्हें नामित कर दिया है। वह 5 निर्वाचन क्षेत्रों से जीते थे। ईपीसी ने एनए-53 (इस्लामाबाद दो) और एनए-131 (लाहौर-नौ) सीटों से खान की जीत की अधिसूचना रोकी है।

एनए-53 से खान ने पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी को शिकस्त दी थी। पीटीआई प्रमुख को 92,891 मत मिले थे जबकि पीएमएल-एन के नेता को 44,314 वोट हासिल हुए थे। खान की जीत की अधिसूचना को इसलिए रोका गया है क्योंकि आचार संहिता उल्लंघन के मामले की उनके खिलाफ सुनवाई चल रही है।

लाहौर की एनए-131 सीट से पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज के ख्वाजा साद रफीक ने खान को कड़ी टक्कर दी थी।जियो न्यूज ने रिपोर्ट दी है कि एनए-131 से पीटीआई प्रमुख की जीत की अधिसूचना को इसलिए रोका गया है क्योंकि लाहौर उच्च न्यायालय ने मतों की पुनर्गणना की पूर्व रेलवे मंत्री की याचिका पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है।

खान 14 या 15 अगस्त को प्रधानमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। द न्यूज के अनुसार ईसीपी ने खान द्वारा जीती गई 3 अन्य सीटों का नतीजा सशर्त अधिसूचित किया है। अखबार के अनुसार नतीजों को रोकने का ईसीपी का निर्णय देश के अगले प्रधानमंत्री के शपथग्रहण को खतरे में डाल सकता है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.