वास्तु शास्त्र से जुड़ी इन बातों का हमेशा रखें ध्यान

Samachar Jagat | Thursday, 01 Dec 2016 03:37:19 PM
वास्तु शास्त्र से जुड़ी इन बातों का हमेशा रखें ध्यान

वास्तुशास्त्र का अर्थ होता है चारों दिशाओं से मिलने वाली ऊर्जा तरंगों का संतुलन। यदि ये तरंगें संतुलित रूप से आपको प्राप्त हो रही हैं, तो घर में सुख और शांति बनी रहेगी। ऐसे में वास्तु को अपने अनुसार बनाए रखने के लिए कुछ विशेष प्रयासों को किया जाना आवश्यक है। इन प्रयासों के माध्यम से आप अपने घर को वास्तुदोष से बचा सकते हैं

ये तीन टोटके बदल देंगे आपकी किस्मत

सूर्यास्त के समय किसी को भी दूध, दही या प्याज मांगने पर ना दें इससे घर की बरक्कत समाप्त हो जाती है।

छत पर कभी भी अनाज या बिस्तर ना धोएं इससे ससुराल से सम्बन्ध खराब होने लगते हैं।

फल खूब खाओ स्वास्थ्य के लिए अच्छे हैं लेकिन उसके छिलके कूडेदान में ना डालें बल्कि बाहर फेंकें। ऐसा करने से आपको मित्रों से लाभ होगा।

माह में एक बार किसी भी दिन घर में मिश्री युक्त खीर जरुर बनाकर परिवार सहित एक साथ खाएं अर्थात जब पूरा परिवार घर में इकट्ठा हो उसी समय खीर खाएं। ऐसा करने से घर में सकारात्मक ऊर्जा का आगमन होता है।

119 वर्ष की उम्र में भी युवा दिखते थे भगवान श्रीकृष्ण

महीने में एक बार अपने कार्यालय में भी कुछ मिष्ठान जरुर ले जाऐं उसे अपने साथियों के साथ या अपने अधीन नौकरों के साथ मिलकर खाऐं तो धन लाभ होगा।

रात्री में सोने से पहले रसोई में बाल्टी भरकर रखें इससे कर्ज से शीघ्र मुक्ति मिलती है और यदि बाथरूम में बाल्टी भरकर रखेंगे तो जीवन में उन्नति के मार्ग में बाधा नही आएगी।

इन ख़बरों पर भी डालें एक नजर :-

पिछले 4000 सालों से शांत पड़ा है ये ज्वालामुखी

शादी के दौरान क्यों की जाती है चावल फेंकने की रस्म

हाथ से बुनकर तैयार किया गया है ये ब्रिज

 

 

 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.