Rochak Video: 14 महीने के इस बच्चे ने 26 देशों का झंडा पहचान कर रचा इतिहास

Samachar Jagat | Tuesday, 26 Apr 2022 10:09:45 AM
14 month old baby blown everyone's senses... in just 3 minutes, made a big record by identifying the flags of 26 countries

यह कहावत तो आपने सुनी ही होगी कि कुछ चीजें कुदरत ने दी हैं। मध्य प्रदेश के रीवा जिले की रहने वाली यशस्वी मिश्रा पर यह कहावत बिल्कुल फिट बैठती है, क्योंकि इस बच्चे ने महज 3 मिनट में 26 देशों के राष्ट्रीय ध्वज को पहचानकर एक नया रिकॉर्ड बनाया है. यह बच्चा दुनिया का सबसे छोटा और दूसरा गूगल बॉय बन गया है। इस कारनामे के जरिए यशस्वी ने लंदन के वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में भी अपना नाम दर्ज करा लिया है. इस बच्चे की स्मरण शक्ति इतनी तेज है कि एक बार देखी और सुनी हुई बात को मैं कभी नहीं भूलता। आप कह सकते हैं कि इस बच्चे का दिमाग बिल्कुल गूगल जैसा है।

रीवा जिले का रहने वाला यह बच्चा अभी ठीक से बोल नहीं पा रहा है, लेकिन अपनी प्रतिभा के दम पर सबसे कम उम्र में वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने वाला दुनिया का पहला बच्चा बन गया है। दो महीने पहले लंदन वर्ल्ड बुक ऑफ बुक्स का आयोजन यशस्वी मिश्रा ने किया था लंदन वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में यह कारनामा सभी के होश उड़ा देने वाला है. इंटरव्यू में यशस्वी ने 26 देशों के झंडों को पहचाना और उनकी राजधानी भी बताई है. स्मरण शक्ति को देख हर कोई हैरान था यशस्वी भले ही अभी छोटा है, लेकिन उसका रिकॉर्ड सबसे बड़ा है।

 


 
यशस्वी की इस प्रतिभा को देखकर वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स के भी होश उड़ गए क्योंकि अब तक 14 महीने के बच्चों का कोई रिकॉर्ड नहीं था। इतना ही नहीं इस समय यह बच्चा 194 देशों के राष्ट्रीय ध्वज को मान्यता देने का नया कीर्तिमान बनाने की तैयारी में लगा हुआ है। यशस्वी के पिता संजय मिश्रा का कहना है कि उनके बेटे की अपने बच्चे की स्मरण शक्ति बहुत तेज होती है। एक बार जब उसे कोई बात बता दी जाती है तो वह उसे कभी नहीं भूलता और जब भी उससे दोबारा इस बारे में पूछा जाता है तो वह उसका जवाब भी बड़े उत्साह के साथ दे रहा होता है। खबरों के मुताबिक गूगल बॉय के नाम से मशहूर कौटिल्य ने 4 साल की उम्र में वर्ल्ड रिकॉर्ड का खिताब अपने नाम कर लिया था, लेकिन यशस्वी ने महज 14 महीने की उम्र में यह कारनामा कर दिखाया है.



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.