एक कैच छूटने से ही मैच नहीं हारे : Ishan Kishan

Samachar Jagat | Friday, 10 Jun 2022 10:28:15 AM
Didn't lose matches just by missing a catch: Ishan Kishan

नई  दिल्ली : रासी वान डेर डुसेन को श्रेयस अय्यर द्बारा जीवनदान दिया जाना भले ही दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टी20 मैच में भारत पर भारी पड़ा हो लेकिन स्टार बल्लेबाज ईशान किशन का मानना है कि हार का ठीकरा इस पर फोड़ा नहीं जाना चाहिये । भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए चार विकेट पर 211 रन बनाये लेकिन वान डेर डुसेन और डेविड मिलर के बीच नाबाद शतकीय साझेदारी की मदद से दक्षिण अफ्रीका ने पांच गेंद बाकी रहते सात विकेट से जीत दर्ज की ।

मिलर ने 31 गेंद में 64 और वान डेर डुसेन ने 46 गेंद में 75 रन की नाबाद पारियां खेली । वान डेर डुसेन को 29 के स्कोर पर श्रेयस ने आवेश खान की गेंद पर जीवनदान दिया था जो भारत को महंगा पड़ा । इस बारे में पूछने पर मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में ईशान ने कहा ,'' यह कहना गलत होगा कि उस कैच छूटने की वजह से ही हम मैच हारे । यह सही है कि कैच लपकने से मैच जीते जाते हैं लेकिन एक खिलाड़ी को दोषी ठहराना गलत होगा । हमें आकलन करना होगा कि गेंदबाजी में या क्षेत्ररक्षण में हमसे क्या गलतियां हुई।’’ उन्होंने कहा ,'' हमें यह भी नहीं भूलना चाहिये कि दक्षिण अफ्रीका एक बेहतरीन टीम है और पिछले कुछ समय से शानदार प्रदर्शन कर रही है ।

वह अपनी पूरी मजबूत टीम लेकर यहां आये हैं और उनके पास बहुत अच्छे फिनिशर भी हैं । उन्हें जीत का श्रेय दिया जाना चाहिये ।’’ उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि बाकी चार मैचों में इन दोनों बल्लेबाजों के खिलाफ भारत को खास रणनीति बनानी होगी । उन्होंने कहा ,'' मिलर ने आईपीएल वाले अपने फॉर्म को जारी रखा है और अगर ये दोनों बल्लेबाज लय में आ जायें तो इन्हें रोकना बहुत मुश्किल होता है । निश्चित तौर पर हमें बाकी मैचों में इनके खिलाफ खास रणनीति बनानी होगी ।’’ अपने पदार्पण सत्र में आईपीएल खिताब जीतने वाली गुजरात टाइटंस के लिये मिलर ने 449 रन बनाये थे ।

अपनी अर्धशतकीय पारी के बारे में ईशान ने कहा ,'' मेरा लक्ष्य शुरू ही से गेंदबाजों पर दबाव बनाना और पहली गेंद से ही आक्रामक खेलना था । मैने ढीली गेंदों को नसीहत दी और रनगति को आगे बढाया ।’’ रूतुराज गायकवाड़ के साथ पारी का आगाज करने वाले ईशान ने स्वीकार किया कि नियमित सलामी बल्लेबाज केएल राहुल और रोहित शर्मा के लौटने पर उनके लिये यह मौका मिलना मुश्किल होगा और वह इसकी अपेक्षा भी नहीं करते । उन्होंने कहा ,'राहुल और रोहित विश्व स्तरीय बल्लेबाज हैं और इतने अनुभवी है । मैं इसकी अपेक्षा भी नहीं करता कि उनके लौटने पर मुझे पारी की शुरूआत करने का मौका मिलेगा । मेरा काम जब भी मौका मिले, अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना है । बाकी चयनकर्ताओं का काम है ।’’

दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज वान डेर डुसेन ने कहा कि आईपीएल में खेलने का उनके खिलाड़ियों को काफी फायदा मिला है और जीत में इसकी अहम भूमिका रही । उन्होंने कहा ,'' निश्चित तौर पर दो महीने यहां रहने से हम हालात के अनुकूल जल्दी ढल सके । इसके साथ ही भारतीय गेंदबाजों के बारे में भी पता था तो रणनीति बनाने में मदद मिली ।’’ मिलर के साथ अपनी साझेदारी के बारे में उन्होंने कहा ,'' डेविड ने आईपीएल वाली लय यहां भी जारी रखी और गेंदबाजों पर शुरू से दबाव बनाया । उसके आक्रामक खेलने से मुझे क्रीज पर जमने में मदद मिली । हमने स्ट्राइक रोटेट करते हुए पारी को आगे बढाया और अंत तक डटे रहे । मैं खुशकिस्मत था कि मुझे जीवनदान मिला और मैं उसे भुना सका ।’’ 



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.