BREAKING NEWS
Hindi News

Travel News

इंटरनेट डेस्क। पूरे देश में भगवान गणेश के ऐसे अनेक मंदिर हैं जो बहुत प्रसिद्ध हैं, गणेश चतुर्थी के अवसर पर हम आपको यहां भारत के पांच प्रमुख गणेश मंदिरों के बारे में बता रहे हैं, ये मंदिर गणेश भक्तों की आस्था का प्रमुख केंद्र हैं, आइए आपको बताते हैं इन मंदिरों के बारे में....
नई दिल्ली। ई-पर्यटक वीजा शुल्क की जल्द समीक्षा की संभावना नहीं है। हालांकि, पर्यटन मंत्रालय ने इसको लेकर चिंता  जताई है। अधिकारियों ने सोमवार को कहा कि यह शुल्क अन्य देशों के साथ पारस्परिक आधार पर तय किया गया है, इसलिए इसकी जल्द समीक्षा संभव नहीं है।
इंटरनेट डेस्क। पूरी दुनिया में ऐसी बहुत सी जगह हैं जो अपनी अनोखी खासियत की वजह से पर्यटकों को बहुत पसंद आती  हैं। जहां प्राकृतिक और ऐतिहासिक स्थल लोगों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं वहीं पुल जो लोगों के आने-जाने का माध्यम होते हैं
इलाहाबाद। अगले वर्ष जनवरी में लगने वाले प्रयाग कुंभ मेले में करोड़ों लोगों के आने की संभावना है और इनमें से बहुत से लोग शहर के अन्य पर्यटन स्थलों को भी देखना पसंद करते हैं
जो लोग नेचर से प्यार करते हैं प्रकृति से जुड़ाव रखते हैं उनके लिए देखने लायक जगह है ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क। यहां पर जीव-जंतु की ढ़ेरो प्रजातियां देखी जा सकती है। जीव-जंतु के अलावा इस पार्क में कई तरह के पेड़-पौधे देखने को मिलेंगे। 
ट्रैवल डेस्क। केरल इडुक्की जिले के मुन्नार में जल्द ही नीलकुरिन्जी का मौसम आने वाला है। जुलाई से अक्टूबर 2018 के दौरान केरल पर्यटन को 8 लाख पर्यटकों के आने की उम्मीद है
बारिश का मौसम हर जगह सुहावना लगता है। चारों तरफ हरियाली मन को ठंडक और सुकून  देती है। साथ ही मानसून का लुत्फ उठाने के लिए लोग ऐसी जगह पर जाना चाहते हैं जहां पर बारिश का मजा लिया जा सके। इसके लिए बेस्ट है चेरापूंजी।
इंटरनेट डेस्क। दुनिया में बहुत सारी जगह ऐसी हैं जो अपनी प्राचीनता के लिए पहचानी जाती हैं। सदियों से यहां की रचना और बनावट वैसी की वैसी है। ये स्थान हजारों सालों के इतिहास को अपने अंदर समेटे हुए हैं। ये शहर देखने में जितने सुंदर हैं उतने ही पुराने भी हैं आइए जानते हैं इन शहरों के बारे में .......
केंद्रपाड़ा। ओड़िशा के भितरकनिका नेशनल पार्क में वार्षिक प्रजनन के लिए आने वाले प्रवासी पक्षियों की संख्या में इस साल कमी आई है जो वन अधिकारियों के लिए एक बड़ी चिंता है। राजनगर मैंग्रोव (वन्यजीव) वन मंडल के मंडलाधिकारी प्रसन्ना कुमार आचार्य ने सोमवार को कहा कि हालांकि बड़ी संख्या में स्थानीय पक्षियों ने केंद्रपाड़ा जिले में भितरकणिका को अंडे देने के लिए फिर से एक प्रमुख केंद्र के रूप में चुना है
वाराणसी। वाराणसी आने वाले पर्यटक अब आलीशान क्रूज पर सवार होकर गंगा के घाटों और भव्य गंगा आरती का नजारा ले सकेंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वाराणसी में क्रूज का उद्घाटन कर दिया है।  मुख्‍यमंत्री योगी ने खिड़किया घाट पर मंत्रोच्चार के बीच अलकनंदा क्रूज का रिबन काटकर शुभारंभ किया।

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.