मारुति का चालू वित्त वर्ष में हल्के वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री दोगुनी करने का लक्ष्य

Samachar Jagat | Tuesday, 21 Aug 2018 03:41:05 PM
Maruti aims to double the sale of light commercial vehicles in the current fiscal

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

बेंगलुरू। देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई) की अपने हल्के वाणिज्यिक वाहन सुपर कैरी की बिक्री दोगुनी कर करीब 20,000 इकाई करने की योजना है। कंपनी के एक शीर्ष अधिकारी ने यह कहा। कंपनी बिक्री नेटवर्क के विस्तार के मद्देनजर इस साल इस खंड में अच्छी बिक्री की उम्मीद कर रही है। मारुति ने देश भर में 2017-18 में 10,000 हल्के वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री की थी। एमएसआई के वरिष्ठ कार्यकारी निदेशक (बिक्री और विपणन) आर एस कलसी ने कहा, ''हम सुपर कैरी के लिए बिक्री नेटवर्क के संदर्भ में 200 का आंकड़ा पार कर चुके हैं।’’

स्कोडा कोडिएक को टक्कर देने के लिए भारत लॉन्च हुई 2018 Mitsubishi Outlander एसयूवी, कीमत 31.95 लाख रुपए

उन्होंने कहा, ''पिछले साल हमने 10,000 इकाइयों की बिक्री और अब हम इस साल यह संख्या दोगुनी करने की उम्मीद कर रहे हैं।’’ वित्त वर्ष 2016-17 में एमएसआई ने सुपर कैरी की केवल 900 इकाइयां बेची थी। एलसीवी कारोबार के लिए बिक्री नेटवर्क के विस्तार के बारे में पूछे जाने पर कलसी ने कहा कि यह प्रक्रिया चलती रहती है। उन्होंने कहा कि हम अवसरों को देखेंगे और उसके अनुसार निर्णय करेंगे। फिलहाल संख्या बड़ी नहीं है, अत: हमें डीलरशिप की व्यवहार्यता को देखना होगा।

यह कंपनी ला रही है V5 इंजन वाली सुपरबाइक, कीमत जानकर उड़ जाएंगे होश

कंपनी ने सुपर कैरी सितंबर 2016 में पेश की थी। इस खंड में टाटा मोटर्स और महिद्रा एंड महिद्रा एंड महिद्रा का दबदबा है। घरेलू बाजार के अलावा कंपनी सुपर कैरी का निर्यात दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका, फिलीवीन, नेपाल और बांग्लादेश जैसे देशों का करने लगी है। इस वाहन में 793 सीसी का डीजल इंजन लगा है और यह गाड़ी 22.07 किलोमीटर प्रति घंटर 'माइलेज’ देती है।-एजेंसी

फॉक्सवैगन ने 7 लाख एसयूवी को किया रिकॉल, रूफ में आग लगने का है खतरा

ह्युंडई ने की भारतीय सेल्फ ड्राइविंग कार शेयरिग कंपनी रेव इंडिया के साथ साझेदारी

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.