स्टील का सबसे तेजी से बढ़ता बाजार है भारत : निप्पॉन स्टील

Samachar Jagat | Saturday, 25 Aug 2018 05:12:37 PM
India's fastest growing market is steel: Nippon Steel

टोक्यो। जापान की अग्रणी स्टील निर्माण कंपनी निप्पॉन स्टील के अनुसार भारत स्टील के मामले में सबसे तेजी से बढ़ रहा बाजार है और वह इस विकास का हिस्सा बनना चाहता है। कंपनी के कार्यकारी उपाध्यक्ष कातसुहिरो मियामोतो ने बताया कि उनकी कंपनी भारत के सबसे तेजी से बढ़ रहे स्टील बाजार का हिस्सा बनकर लाभ कमाना चाहती है, लेकिन व्यापार और वितरण के मुद्दे के कारण यह निर्यात के मामले में आसान बाजार नहीं है। इसी वजह से हमारी कंपनी भारतीय बाजार के अंदर पैठ बनाना चाहती है और इसी कारण हम एस्सार स्टील के लिए बोली लगा रहे हैं।

निप्पॉन स्टील और दुनिया की सबसे बड़ी स्टील निर्माता कंपनी आर्सेलर मित्तल सुयक्त रूप से एस्सार स्टील के लिए करीब छह अरब डॉलर की बोली लगा रहे हैं। एस्सार स्टील भारत की चौथी बड़ी स्टील निर्माण कंपनी है, जो अब दिवालिया करार दी जा चुकी है। बोली लगाने वालों की योग्यता को लेकर इसकी प्रक्रिया अभी लंबित है लेकिन मियामोतो को उम्मीद है कि यह सौदा उनके पक्ष में होगा।

उन्होंने बताया कि उनकी कंपनी ने सभी जरूरी दस्तावेज राष्ट्रीय कंपनी विधि अपील अधिकरण (एनसीएलएटी) के पास जमा करा दिए हैं और इस माह के अंत तक इस विषय में उनका निर्णय आ सकता है। विश्व स्टील एसोसिएशन के मुताबिक भारत में स्टील की माँग इस साल 5.5 प्रतिशत और वर्ष 2019 में छह प्रतिशत बढने का अनुमान है। सितंबर 2015 में भारत ने कुछ हॉट रोल्ड फ्लैट स्टील उत्पादों पर 20 प्रतिशत तक का आयात शुल्क लगाया, जिसके बाद वर्ष 2016 में जापान से भारत को होने वाला निर्यात करीब आधा रह गया। भारत ने इसके बाद स्थानीय मिलों को समर्थन देने के लिए फरवरी 2016 में स्टील उत्पादों के आयात की एक निश्चित न्यूनतम दर तय कर दी।

भारत के इस कदम के बाद से जापान का वार्षिक स्टील निर्यात करीब 13 लाख टन के आसपास रहता है, जो कुल स्टील निर्यात का महज तीन प्रतिशत है। टाटा स्टील के साथ निप्पॉन स्टील का भारत (झारखंड के जमशेदपुर) में एक संयुक्त उपक्रम जरूर है, जहाँ वाहनों के लिए कोल्ड रॉल्ड शीट का उत्पादन होता है, लेकिन इसके अलावा दक्षिण-पूर्व एशिया में उसकी उपस्थिति बेहद सीमित है। मियामोतो के अनुसार एस्सार स्टील को खरीदने से भारत के आम स्टील उपभोक्ताओं तक उनकी पहुंच हो जाएगी। -एजेंसी 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.