मंदी की मार से बुरी तरह प्रभावित हुई रेलवे की माल ढुलाई

Samachar Jagat | Saturday, 14 Sep 2019 10:59:31 AM
Rail freight affected badly due to recession

सिकंदराबाद। देश की अर्थव्यवस्था में पिछले कुछ समय से जारी मंदी के कारण रेलवे की माल ढुलाई बुरी तरह प्रभावित हुई है और अकेले दक्षिण मध्य रेलवे की माल ढुलाई में एक-डेढ़  महीने में 15 लाख टन की गिरावट दर्ज की गयी है।


loading...

दक्षिण मध्य रेलवे के महाप्रबंधक गजानन मल्लया ने कहा की लौह अयस्क का आयात प्रतिबंधित हो गया है। आर्थिक गतिविधियों तथा ढाँचागत निर्माण में सुस्ती के कारण सीमेंट की ढुलाई के ऑर्डर में भी कमी आयी है। इससे पिछले एक-डेढ़  महीने में माल परिवहन में हमें काफी नुकसान हुआ है।

उन्होंने बताया कि गत एक-डेढ़ माह के दौरान दक्षिण मध्य जोन की माल ढुलाई में 15 लाख टन की कमी आई है हालाँकि कोयला ढुलाई में वृद्धि से कुछ हद तक भरपाई हुई है, अन्यथा नुकसान और अधिक हो सकता था। उन्होंने उम्मीद जतायी कि माल ढुलाई को प्रोत्साहित करने के लिए रेल मंत्रालय द्बारा 11 सितंबर को की गयी घोषणाओं से बुकिग बढ़ाने में मदद मिलेगी।

रेल मंत्रालय ने व्यस्त अवधि के दौरान माल ढुलाई पर लगने वाला 15 प्रतिशत अधिभार माफ करने की घोषणा की है। इससे 1 अक्टूबर से 30 जून तक 2020 तक कंपनियों को इस अधिभार से राहत मिलेगी। इसके साथ माल भेजने के बाद खाली कंटेनर वापस मँगाने और कम दूरी तक कंटेनर भेजने में भी शुल्क में राहत की घोषणा की गयी है।-(एजेंसी)



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!




Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.