बाल अधिकार आयोग स्कूलों में महिला सफाई कर्मियों के सरकार को परामर्श देने पर विचार कर रहा है

Samachar Jagat | Tuesday, 20 Aug 2019 11:06:13 AM
Child Rights Commission is considering to advise the government of women cleaning workers in schools

नई दिल्ली। दिल्ली बाल अधिकार संरक्षण आयोग स्कूलों में छात्राओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के वास्ते महिला सफाई कर्मियों की नियुक्ति के लिए ‘आप’ सरकार को परामर्श जारी करने पर विचार कर रहा है।


loading...

इस महीने के शुरू में एक निजी स्कूल में सफाई कर्मी ने पांच साल की बच्ची का यौन उत्पीड़न किया था। आयोग पहले ही स्कूल को घटना के बाबत नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांग चुका है।

आयोग के अध्यक्ष रमेश नेगी ने कहा कि हम विचार कर रहे हैं कि दिल्ली सरकार को यह सुनिश्चित करने के लिए परामर्श जारी करें कि अधिक संख्या में महिला सफाई कर्मियों को नियुक्त किया जाए। मौजूदा पुरुष स्टाफ को अन्य स्थान पर भेजा जा सकता है। अधिक संख्या में महिला सफाई कर्मियों के होने से बच्चों के यौन उत्पीड़न से निपटने में मदद मिलेगी।

नेगी ने कहा कि वह इस बाबत एक बैठक करेंगे और निर्णय करेंगे। वहीं ऑल इंडिया परेंट्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अशोक अग्रवाल ने कहा कि यह परामर्श ‘गैर जरूरी’ है। उन्होंने कहा कि यह संर्कीण सोच को दर्शाता है और लैंगिक भेदभाव को बढ़ावा देता है।

अग्रवाल ने कहा कि अगर स्कूल में 50 महिला कर्मी हैं और सिर्फ 10 पुरुष कर्मी हैं तो इस बात का अंदेशा रहेगा कि 10 पुरुष स्टाफ में से कोई कर्मी इस तरह का संगीन अपराध कर सकता है।

इस महीने के शुरू में, दक्षिण दिल्ली के जीके-2 इलाके में एक निजी स्कूल के अंदर सफाई कर्मचारी ने पांच साल की बच्ची का कथित रूप से यौन उत्पीड़न किया था। आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। -(एजेंसी)



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!




Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.