ईद पर अजमेर दरगाह में चढ़ाई जाएगी काले रंग की मखमली चादर

Samachar Jagat | Monday, 11 Jun 2018 03:28:36 PM
Black velvet sheets will be clamped in Ajmer Dargah

अजमेर। ईदुलफितर के मौके पर अजमेर स्थित सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह में पवित्र मजार पर खुद्दाम-ए-ख्वाजा मक्के मदीने की काले रंग की मखमली चादर पेश की जाएगी। ख्वाजा साहब के गद्दीनशीन एस.एफ. हसन चिश्ती ने बताया कि दरगाह में यह चादर पेश कर मुल्क की खुशहाली एवं जायरीनों के लिए दुआ की जाएगी।

जानिए कौन था सहस्त्रार्जुन और क्या था इसका रावण से संबंध

उन्होंने बताया कि चांद दिखने के बाद ईद मनाने के अवसर पर सुबह चार बजे दरगाह खुलने के साथ ही जन्नती दरवाजा भी खोला जाएगा और जोहर की नमाज के बाद ढाई बजे दरवाजे को बंद कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि ईद की नमाज दरगाह शरीफ स्थित जामा मस्जिद मे सुबह आठ बजे, मस्जिद संदलखाना मे 8:45 बजे, कलंदरी मस्जिद 8:30 बजे, मस्जिद कचहरी 8:45, ईदगाह सब्जी मंडी 9:00 बजे, मस्जिद घंटाघर 9:30 बजे ईद की नमाज अदा की जाएगी।

कर्ज से छुटकारा पाने के लिए करें ये उपाय 

आपको बता दें कि रमजान का पवित्र महीन मुसलमानों के लिए बहुत ही खास होता है, वे रमजान में पूरे महीने रोजा रखते हैं। जो लोग रोजा रखते हैं वे पूरे दिन -भूखे प्यासे रहते हैं और शाम को रोजा खुलने के बाद ही कुछ खाते-पीते हैं। रोजा रखने के पीछे का कारण ये है कि इसे रखकर गरीबों का दर्द महसूस किया जाए और नियमों का पालन किया जाए। 

इस माह में दान, धर्म करने का बहुत महत्व होता है और इसी कारण इस माह में गरीबों और जरूरतमंदों को दान अवश्य देना चाहिए। वहीं किसी की मदद करने या दान देने में किसी प्रकार की कंजूसी नहीं करनी चाहिए। क्योंकि किसी गरीब की मदद करना भी अल्लाह की इबादत करना ही है।

(इस खबर में कुछ अंश एजेंसी से लिया गया है)

अगर घर में हों ये वास्तुदोष तो परिवार के सदस्यों के बीच रहता है झगड़ा



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.