इस मंदिर के नीचे बहने वाली जलधारा को देखकर पता लग जाता है कि कश्मीर के लिए कैसा रहेगा आने वाला समय

Samachar Jagat | Tuesday, 11 Jun 2019 01:19:54 PM
Looking at the water flowing beneath this temple it is known how it will be for Kashmir

तुल्ला मुल्ला। जम्मू कश्मीर के गंदेरबल जिले में बने प्रसिद्ध राज्ञा देवी मंदिर में सोमवार को हजारों कश्मीरी पंडित श्रद्धालु एकत्रित हुए। वे यहां पारंपरिक श्रद्धा एवं हर्षोल्लास से मनाए जाने वाले खीर भवानी मेले में एकत्र हुए थे। इन श्रद्धालुओं ने धार्मिक मंत्रोच्चार के बीच मंदिर में घंटे बजाकर देवी के प्रति अपने अनुराग को प्रकट किया। तुल्ला मुल्ला गांव में चिनार के विशाल पेड़ों की छाया में बने इस मंदिर में श्रद्धालु बड़ी संख्या में इकठ्ठे हुए। इनमें से अधिकतर कश्मीरी पंडित थे और इस मेले में शामिल होने के लिए देश के कोने-कोने से आए हुए थे।

आर्थिक तंगी से परेशान हैं तो गंगा दशमी पर करें ये उपाय, पूरे साल नहीं होगी धन-धान्य की कमी

खीर भवानी मेला इस विस्थापित समुदाय का सबसे बड़ा धार्मिक मेला है। इस मेले की सुरक्षा के लिए कड़े इंतजाम किए गए थे। यह मेला राज्य के सांप्रदयिक सौहार्द के प्रतीकों में शामिल है और हिंदू मान्यताओं से जुड़े इस मेले के विभिन्न प्रबंध मुसलमान समुदाय के लोग करते हैं। श्रद्धालु गुलाब की पंखुडियां लेकर नंगे पांव मंदिर तक जाते हैं और उन्हें देवी को अर्पित करते हैं। पुरूष श्रद्धालु मंदिर के समीप जलधारा में स्नान करते हैं।

इन राशि के जातकों के लिए धन वृद्धि के योग लेकर आ रहा है मंगलवार, धन प्राप्ति से आर्थिक कष्ट होंगे दूर

श्रद्धालु मंदिर परिसर में स्थित जलकुण्ड में खीर चढ़ाते हैं। ऐसी मान्यता है कि मंदिर के नीचे बहने वाली जलधारा के पानी का रंग घाटी के कल्याण का संकेत देता है। यदि इसका जल कालिमा लिए हुए हो तो यह कश्मीर के लिए अशुभ माना जाता है। हालांकि इस बार जलधारा के पानी का रंग स्वच्छ और धवल था।-एजेंसी

एक कटोरी पानी का ये टोटका आपको रातों रात कर सकता है मालामाल
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.