जानिए! क्यों गुरुवार के दिन पहनने चाहिए पीले वस्त्र

Samachar Jagat | Thursday, 15 Feb 2018 03:56:47 PM
Why should wear yellow clothes on Thursday
Rajasthan Tourism App - Welcomes to the lend of Sun, Send and adventures

धर्म डेस्क। इंसान के जीवन में रंगों का विशेष महत्व होता है, अगर जीवन से इन रंगों को निकाल दिया जाए तो जिंदगी एकदम बेरंग हो जाएगी। हमारी सफलता और असफलता के पीछे भी रंगों का बहुत बड़ा हाथ होता है क्योंकि रंग हमारे अंदर सकारात्मक और नकारात्मक ऊर्जा का संचार करते हैं।

इस राक्षस की वजह से यहां पर मिलता है पितरों को मोक्ष!

हम जिस रंग के वस्त्र पहनते हैं, उसी से हमारे विचार प्रभावित होते हैं। ज्योतिष में विश्वास रखने वाले कुछ लोग तो वार के अनुसार वस्त्र पहनते हैं। वहीं कुछ लोग गुरूवार के दिन पीले वस्त्र पहनते हैं। आखिर क्यों गुरूवार के दिन ही पीले वस्त्र पहने जाते हैं, इसका क्या कारण है आइए जानते हैं इसके बारे में........

आज भी अनसुलझे हैं तिरुपति बालाजी मंदिर के ये रहस्य

बृहस्पतिवार के दिन भगवान विष्णु की अराधना की जाती है। ऐसा माना जाता है कि भगवान विष्णु को पीला रंग बहुत पसंद है और अगर कोई व्यक्ति गुरूवार के दिन पीले वस्त्र पहनता है तो उसे भगवान विष्णु की विशेष कृपा प्राप्त होती है।

शिव का अंश ही था उनका सबसे बड़ा दुश्मन

ज्योतिषशास्त्र में बृहस्पति को शुभ ग्रह माना जाता है, इसे गुरु ग्रह भी कहा जाता है। इस ग्रह का आकार सभी ग्रहों से बड़ा है। इसी कारण गुरूवार के दिन गुरु की पूजा और पीले रंग का खास महत्व होता है।

हिंदू धर्म में पीले रंग को बहुत शुभ माना जाता है। यह सादगी और निर्मलता का प्रतीक है।

अगर किसी की शादी में विलंब हो रहा है तो उसे बृहस्पतिवार को पीले रंग के कपड़े पहनने शुरू कर देने चाहिए, विवाह के योग बनने शुरू हो जाएंगे।

Source-Google

(इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।)

शास्त्रों के अनुसार क्यों नहीं लगाना चाहिए झाड़ू को पैर

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the lend of Sun, Send and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.