जम्मू-कश्मीर: पाकिस्तान की ओर से राज्य में घुस चुके हैं सैकड़ों आतंकवादी

Samachar Jagat | Monday, 07 Oct 2019 11:08:48 AM
Jammu and Kashmir: Hundreds of terrorists have entered the state from Pakistan

इंटरनेट डेस्क। जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने बताया कि राज्य में 200 से 300 आतंकवादी सक्रिय हैं। बकौल पुलिस महानिदेशक, पाकिस्तान ने सर्दियां शुरू होने से पहले अधिक से अधिक संख्या में आतंकवादियों को राज्य में दाखिल कराने के लिए सीमापार से गोलीबारी तेज कर दी है। उन्होंने यह भी कहा कि हाल ही में सीमा पार से बड़ी संख्या में आतंकवादी राज्य में घुसने में कामयाब रहे हैं, जबकि घुसपैठ निरोधक व्यवस्था ने कई घुसपैठियों का सफाया कर उनकी कई कोशिशें विफल कर दी हैं।


loading...

जलगांव में बीजेपी नेता पर बरसाई गोलियां

सिंह ने सुरक्षा स्थिति की समीक्षा के लिए सीमावर्ती पुंछ जिले के अपने दौरे में संवाददाताओं से कहा कि सक्रिय आतंकवादियों की संख्या 200 से 300 तक है। पुलिस महानिदेशक ने कहा कि जम्मू-कश्मीर क्षेत्रों में बड़ी संख्या में संघर्ष विराम उल्लंघन हो रहा है। कनाचक, आर एस पुरा और हीरानगर में और पुंछ, राजौरी, उरी, नांबला, करनाह और केरन में नियंत्रण रेखा पर ऐसा हो रहा है। उन्होंने कहा कि इन संघर्षविराम उल्लंघनों का लक्ष्य (सर्दियां शुरू होने से पहले) अधिक से अधिक आतंकवादियों को जम्मू कश्मीर में दाखिल कराना है। हमारा घुसपैठ निरोधक प्रबंध बहुत मजबूत है और हाल के समय में घुसपैठ के कई प्रयास विफल किए गए हैं।

छत्तीसगढ़ में एटीएम कैश वैन से डेढ़ करोड रूपए से अधिक की लूट

सिंह ने कहा, कुछ मुठभेड़ हुई और कुछ आतंकवादियों का सफाया भी हुआ। गुलमर्ग सेक्टर में दो पाकिस्तानी आतंकवादी गिरफ्तार किए गए और गांदेरबल में चार दिन के अभियान में दो आतंकवादी मारे गए। उन्होंने कहा कि कुछ स्थानों पर कुछ आतंकवादी देखे गए हैं और हमने उनके खिलाफ अभियान तेज कर दिया है। अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू-कश्मीर को प्राप्त विशेष राज्य का दर्जा समाप्त करने के बाद राज्य की स्थिति के बारे में उन्होंने कहा कि जम्मू, लेह और कारगिल में स्थिति शांतिपूर्ण है तथा कश्मीर में चीजें सुधर रही हैं।
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.