राहुल चाहते थे कि चीनी राजदूत उन्हें पारंपरिक रूप से विदा करें : बीजेपी 

Samachar Jagat | Friday, 31 Aug 2018 07:06:07 PM
Rahul wanted Chinese ambassador to leave them traditionally: BJP

नई दिल्ली। बीजेपी ने शुक्रवार को दावा किया कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी चाहते थे कि आज कैलाश मानसरोवर यात्रा के लिए रवाना होते समय चीनी राजदूत उन्हें पारंपरिक रूप से विदा करें। साथ ही, उन पर ''चीनी प्रवक्ता’’ की तरह हर जगह चीन के लिए बोलने का आरोप लगाया।

बीजेपी  प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस से जानना चाहा है कि किस नेता और अधिकारी से राहुल अपने पसंदीदा देश चीन की यात्रा के दौरान मुलाकात करेंगे। पात्रा ने राहुल की तीर्थयात्रा पर टिप्पणी नहीं की और कहा कि यह उनकी निजी यात्रा है।

घोटालों की विरासत के उत्तराधिकारी भूल गये हैं पांच दशकों का कुशासन :भाजपा

कैलाश मानसरोवर क्षेत्र चीन में पड़ता है। भाजपा नेता ने दावा किया कि चीन के राजदूत ने राहुल को पारंपरिक रूप से विदा करने के लिए भारत सरकार से इजाजत मांगी थी। लेकिन उनके पत्र का जवाब नहीं दिया गया।

पात्रा ने संवाददाता सम्मेलन में कांग्रेस अध्यक्ष के चीन कनेक्शन के बारे में पूछते हुए कहा कि आप राहुल गांधी हैं ना कि चाइनीज गांधी। चीनी राजदूत एक गैर चीनी व्यक्ति को क्यों विदा करना चाहते हैं ? ऐसा कोई प्रोटोकॉल नहीं है। उन्होंने पूछा, ''ये रिश्ता क्या कहलाता है?

उन्होंने दावा किया कि राहुल विमान से नेपाल जा रहे हैं जहां से वह चीन जाएंगे। भाजपा ने संवाददाता सम्मेलन में राहुल की कई टिप्पणियों का एक वीडियो क्लिप भी चलाया जिसमें उन्हें (राहुल ने) पड़ोसी देश की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए दिखाया गया है।

पार्टी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस अध्यक्ष 'चीन के प्रवक्ता’’ की तरह कार्य कर रहे हैं। पात्रा ने कहा कि भारत और चीन के बीच डोकलाम गतिरोध के दौरान राहुल ने चीनी परिप्रेक्ष्य को समझने के लिए चीनी राजदूत से मुलाकात की थी, जबकि उन्होंने ना ही भारत सरकार को विश्वास में लिया था और ना ही भारत का दृष्टिकोण जानना चाहा था।

शिवसेना बोलीं, 'नाकाम’ नोटबंदी के लिए मोदी करेंगे कौन-सा प्रायश्चित

उन्होंने राहुल के उस दावे का भी जिक्र किया, जिसमें कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा था कि चीन हर चौबीस घंटे में अपने लोगों को 50,000 नौकरियां देता है, जबकि भारत रोजाना 450 लोगों को ही रोजगार दे सका है और उन्हें कॉमिक शख्स करार दिया।

पात्रा ने कहा कि वे हर जगह चीन के लिए बोलते हैं, जैसे कि वह चीन का प्रचार करने के लिए रखे गए हों। बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि गांधी परिवार 2008 के ओलंपिक (बीजिंग) में चीनी सरकार का मेहमान था और चीनी राजदूत परिवार के सदस्यों को विदा करने हवाईअड्डा पर गए थे। उन्होंने पूछा कि इस देश के साथ उनका किस तरह का संबंध है। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.