आरे कॉलोनी विवाद से मुंबई में मचा बवाल

Samachar Jagat | Saturday, 05 Oct 2019 11:26:00 AM
Ruckus in Mumbai due to Aare Colony dispute

इंटरनेट डेस्क। बाॅलीवुड के नाम से मशहूर मायानगरी एक भी फिर चर्चा मंे आ रही है। मुंबई में वैसे किसी फिल्म को लेकर चर्चा नहीं हो रही है। इस बार कारण है पर्यावरण और मुंबई मेट्रो। हाई कोर्ट के आदेश के बाद प्रशासन ने इलाके में पेड़ों की कटाई शुरू कर दी है। लोगों ही नहीं, मीडिया के प्रवेश पर भी पाबंदी लगा दी गई है. चिपको आंदोलन की तर्ज पर प्रदर्शन कर रहे सेव आरे मुहिम से जुड़े पर्यावरण प्रेमियों को खदेड़ दिया गया है। बड़ी मशीनों का उपयोग कर 24 घंटे से भी कम समय में लगभग एक हजार पेड़ काटे जा चुके हैं। यह काम ऐसे समय पर हो रहा है। जब महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव की दहलीज पर खड़ा है।


loading...

वायुसेना पाकिस्तान के किसी भी आतंकी हमले का जवाब देने को तैयार

भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना गठबंधन में भी इस विषय पर दरार पड़ गई है। वर्ली सीट से शिवसेना उम्मीदवार आदित्य ठाकरे ने भी पेड़ों की कटाई का विरोध कर रहे लोगों का समर्थन किया है। वर्ष 2014 में शुरू हुए मुंबई मेट्रो प्रोजेक्ट का पहला फेज (वर्सोवा से घाटकोपर तक) जनता के लिए खुला तो बात विस्तार की चल निकली. विस्तार के लिए अब जरूरत पड़ी पार्किंग शेड की। 23136 करोड़ रुपये की लागत से फ्लोर स्पेस इंडेक्स निर्माण को कहीं जगह की आवश्यकता पड़ी तो मेट्रो परियोजना से जुड़ी कंपनी को मुफीद लगी फिल्म सिटी गोरेगांव वाले इलाके की आरे कॉलोनी। इसे ही आरे के जंगल भी कहते हैं।

टिकटोक स्टार को दिया भाजपा ने दिया टिकट, हरियाणा में कांग्रेस को देंगी टक्कर

मेट्रोमैन ई श्रीधर ने भी महाराष्ट्र सरकार को पत्र लिखकर मेट्रो को इको फ्रेंडली बताया। बीएमसी से 26 सौ पेड़ काटने का आदेश हुआ तो पर्यावरण प्रेमी जनता खुलकर विरोध में आ गई। इस आग में घी का काम किया स्वर कोकिला लता मंगेशकर, श्रद्धा कपूर और रवीना टंडन जैसे फिल्मी सितारों द्वारा किए गए ट्वीट ने। इससे विरोध को धार मिली और शुरुआत हो गई एक मुहिम की, जिसका नाम था सेव आरे। 
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.