13 अप्रैलः एक क्लिक में पढ़े 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Friday, 13 Apr 2018 04:29:55 PM
today top ten news

कोविंद शनिवार को आएंगे डॉ. अंबेडकर की जन्मस्थली महू

Kovind will be on Saturday, birthplace of Dr. Ambedkar, Mhow

इंदौर। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद शनिवार को डॉ. भीमराव अंबेडकर की जन्मस्थली मध्यप्रदेश के इंदौर स्थित महू आएंगे। प्रस्तावित कार्यक्रम मुताबिक कोविंद डॉ. अंबेडकर के जयंती समारोह में शामिल होने पहले इंदौर और यहां से महू पहुंचेंगे। उनके दौरे के चलते महू और इंदौर में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

गुरुवार को संभागायुक्त संजय दुबे ने तैयारियों की बिंदुवार समीक्षा की। बैठक में दुबे ने निर्देश दिए कि राष्ट्रपति की गरिमा के अनुरूप सभी तैयारियां निर्धारित समय सीमा में पूरी की जाएं। सभी अधिकारी उन्हें सौंपे गए कार्यों को पूरी गंभीरता के साथ करें। इसके पहले डॉ. अंबेडकर की जन्मस्थली पर आयोजित 3 दिवसीय समारोह कल से महू में शुरू हो गया।

समारोह में देश के कई क्षेत्रों से डॉ. अंबेडकर के अनुयायिओं के महू आने का सिलसिला प्रारंभ हो गया है। आधिकारिक जानकारी के मुताबिक  समारोह में देशभर के करीब दो लाख श्रद्धालुओं के महू आने की संभावना है। बोधगया बिहार से आए भिक्षु धम्मपाल भन्ते और आनंद शाक्य ने बताया कि डॉ अंबेडकर की जन्मस्थली आना उनके लिए बहुत ही खुशी का क्षण है।

दोनों ने श्रद्धालुओं के लिए की गई व्यवस्थाओं की प्रशंसा की। प्रति वर्ष की तरह इस वर्ष भी डॉ अंबेडकर का जन्म दिवस उनकी जन्म स्थली महू में भव्य रूप में आयोजित किया जा रहा है। श्रद्धालुओं के लिए ठहरने, खाने, शीतल जल और शौचालय आदि के पुख्ता इंतजाम किए गए है। जन्म स्थली पर बने भव्य स्मारक को भी विशेष विद्युत रोशनी से सजाया गया है।

कठुआ दुष्कर्म हत्या कांड : पीडि़ता की पहचान जाहिर करने पर मीडिया हाउसों को अदालती नोटिस

kathua Rape case: court notice to media houses for showing identity of victim

नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में सामूहिक बलात्कार के बाद मार दी गई 8 वर्षीय बच्ची की पहचान जाहिर करने के मामले में शुक्रवार को कई मीडिया हाउसों को नोटिस जारी किए। साथ ही कहा कि आगे से किसी खबर में बच्ची की पहचान जाहिर नहीं की जानी चाहिए।

कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश गीता मित्तल और न्यायमूर्ति सी. हरि शंकर ने प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में आई खबरों का स्वत : संज्ञान लेते हुए मीडिया हाउसों से जवाब मांगा है कि इस मामले में उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की जाए। कश्मीर के बकरवाल समुदाय से ताल्लुक रखने वाली यह बच्ची अपने घर के पास से 10 जनवरी को लापता हो गई थी।

न्याय की लड़ाई’ में साथ आने के लिए राहुल गांधी ने लोगों को धन्यवाद दिया

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लड़कियों और महिलाओं के खिलाफ बढ़ रही हिंसक घटनाओं के विरूद्ध उनके साथ खड़े होने वाले ‘ हजारों पुरूषों और महिलाओं ’ को शुक्रवार को धन्यवाद देते हुए कहा कि न्याय के लिए उनकी लड़ाई जाया नहीं होगी। कठुआ और उन्नाव सामूहिक बलात्कार मामलों के विरोध में राहुल ने कल आधी रात को इंडिया गेट पर मार्च निकाला और कहा कि अब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए ‘ बेटी बचाओ ’ पर काम करने का वक्त आ गया है।

राहुल ने ट्वीट किया है, लड़कियों और महिलाओं के खिलाफ बढ़ती हिंसा के खिलाफ प्रदर्शन करने और न्याय के लिए लड़ाई में साथ देने के लिए हजारों की संख्या में पुरूष और महिलाएं साथ आईं। उन्होंने लिखा है , ‘ मैं आप सभी को आपके समर्थन के लिए धन्यवाद देता हूं।

यह जाया नहीं होनी चाहिए। राहुल गांधी कांग्रेस नेताओं , पार्टी कार्यकर्ताओं और अन्य लोगों ने कल रात केन्द्र , उत्तर प्रदेश और जम्मू - कश्मीर की बीजेपी नीत सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर दोनों घटनाओं के दोषियों को सजा देने की मांग की। इस मौके पर प्रियंका गांधी और उनके पति रॉबर्ट वड्रा भी वहां मौजूद थे।

वहां मौजूद लोगों ने हाथों में जलती हुई मोमबत्ती और तख्तियां पकड़ी हुई थी। जम्मू-कश्मीर के कठुआ में एक बच्ची 10 जनवरी को अपने घर के पास से लापता हो गई थी। उसका शव करीब एक सप्ताह बाद उसी इलाके से मिला था। मामले की जांच करने वाले विशेष जांच दल ने दो एसपीओ और एक हेड कंास्टेबल सहित 8 लोगों को सबूत मिटाने के आरोप में गिरफ्तार किया है।

उत्तर प्रदेश के उन्नाव में भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर किशोरी द्वारा बलात्कार का आरोप लगाए जाने के बाद शुक्रवार तडक़े उन्हें पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। किशोरी के साथ विधायक ने 4 जून , 2017 को अपने आवास पर कथित रूप से बलात्कार किया। किशोरी वहां रिश्तेदार के लिए नौकरी मांगने गयी थी।

इस संबंध में प्राथमिकी दर्ज कराए जाने के बाद पुलिस ने पीड़िता के पिता के खिलाफ इस वर्ष 3 अप्रैल को हथियार कानून में मामला दर्ज किया और 5 अप्रैल को न्यायिक हिरासत में उन्हें जेल भेज दिया गया था।

इन सभी घटनाओं और शक्तिशाली लोगों द्वारा दबाए जाने के आरोप लगाते हुए पीड़िता ने 8 अप्रैल को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवास के बाहर आत्मदाह का प्रयास किया। अगले दिन पीडि़ता के पिता की जेल में मौत हो गयी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक उनके शरीर पर चोट के निशान हैं।

पाक उच्चतम न्यायालय का ऐतिहासिक फैसला, आजीवन सियासत नहीं कर सकेंगे शरीफ

Pak Supreme Court historic verdict, Sharif will not be able to rule life

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के उच्चतम न्यायालय के शुक्रवार के एक ऐतिहासिक फैसले के बाद देश के अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ जीवन भर पर किसी सार्वजनिक पद पर आसीन नहीं हो सकेंगे। ‘ द डॉन ’ की खबर के अनुसार 5 न्यायाधीशों की पीठ ने सर्वमत से अपने फैसले में संविधान के प्रावधानों की व्याख्या करते हुए कहा कि किसी सार्वजनिक पद पर आसीन व्यक्ति को आजीवन के लिए अयोग्य ठहराया जाता है।

संविधान के अनुच्छेद 62 (1)( एफ ) के मुताबिक सार्वजनिक पद पर आसीन व्यक्ति को निश्चित शर्तों के मुताबिक अयोग्य ठहराया जाता है लेकिन अयोग्यता की अवधि तय नहीं की गई है। उल्लेखनीय है कि अनुच्छेद 62 के तहत ही 68 वर्षीय शरीफ को 28 जुलाई , 2017 को पनामा पेपर्स मामले में अयोग्य ठहराया गया था।

इसके बाद उच्चतम न्यायालय की एक अन्य पीठ ने गत साल 15 दिसंबर को इसी प्रावधान के तहत पाकिस्तान तहरीक- ए-इंसाफ के नेता जहांगीर तरीन को अयोग्य ठहराया था।

न्यायमूर्ति उमर अता बंदियाल के फैसले में कहा गया है कि भविष्य में किसी भी सांसद या लोक सेवक को अगर अनुच्छेद 62 के तहत अयोग्य ठहराया जाता है तो उन पर यह प्रतिबंध स्थायी होगा। ऐसे व्यक्ति चुनाव में हिस्सा नहीं ले सकेंगे और ना ही संसद के सदस्य बन सकेंगे। 

सीरिया में स्थिति को नियंत्रण से बाहर जाने से रोकें: संरा प्रमुख

Stop situation from going out of control in Syria: Sara heads

संयुक्त राष्ट्र। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने सुरक्षा परिषद के 5 स्थायी सदस्यों से सीरिया में रासायनिक हथियारों के कथित यूज पर मौजूदा गतिरोध तोडऩे और युद्धग्रस्त देश में स्थिति को नियंत्रण से बाहर जाने से रोकने की अपील की है। गुतारेस ने एक बयान में कहा कि मैं सुरक्षा परिषद में घटनाक्रमों पर भी करीबी नजर रख रहा हूं और मुझे खेद है कि परिषद इस मुद्दे पर अभी तक किसी भी समझौते पर नहीं पहुंच पाई।

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने कहा कि उन्होंने बुधवार को परिषद के 5 सदस्यों चीन, फ्रांस, रूस, ब्रिटेन और अमेरिका के राजनयिकों से बात की और उनसे ‘मौजूदा गतिरोध के खतरों के बारे में गंभीर चिंता’ जताई और स्थिति को नियंत्रण से बाहर जाने से रोकने की जरुरत पर जोर दिया। सुरक्षा परिषद ने मंगलवार को तीन अलग प्रस्ताव के मसौदों पर मतविभाजन किया।

सुरक्षा परिषद घटना की स्वतंत्र जांच का तंत्र स्थापित करने में वोट जुटाने में नाकाम रही। पहला प्रस्ताव अमेरिका का था जिसमें एक साल के लिए नया जांच तंत्र स्थापित होगा। साथ ही रासायनिक हथियारों के यूज के लिए जिम्मेदार लोगों की पहचान होगी। रूस की ओर से वीटो किए जाने की वजह से ये प्रस्ताव खारिज हो गया।

परिषद में रूस द्वारा पेश किए गए प्रतिस्पर्धी प्रस्ताव के मसौदे को भी पारित नहीं किया गया। इसमें एक वर्ष के लिए तंत्र स्थापित करने की बात थी लेकिन साथ ही सीरिया में रासायनिक हथियारों के इस्तेमाल के लिए जवाबदेही तय करने की जिम्मेदारी सुरक्षा परिषद को दी गई थी।

CWG 2018: बजरंग ने भारत को 65 किग्रा में दिलाया स्वर्ण

Bajrang gives gold to India in 65 kgs

गोल्ड कोस्ट। भारत के बजरंग पूनिया ने 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में कुश्ती के अपने 65 किग्रा फ्री स्टाइल वर्ग में शुक्रवार को शानदार प्रदर्शन करते हुये स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया। यह बजरंग का राष्ट्रमंडल खेलों में पहला स्वर्ण पदक है। 

बजरंग ने वेल्स के केन चारिग को काफी आसानी से 10-0 से हराकर एकतरफा जीत अपने नाम की। ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों में रजत पदक जीतने वाले भारतीय पहलवान ने दिन के अपने सभी मुकाबले तकनीकी श्रेष्ठता के आधार पर जीते। 

भारतीय पहलवान ने मैट पर आते ही सवा मिनट के अंदर अपना स्वर्ण पदक मुकाबला जीत लिया। उन्होंने वेल्स के खिलाड़ी को एक भी अंक नहीं लेने दिया और शुरूआत में ही 2-0 की बढ़त बनाई और फिर उन्हें फ्लिप करते हुये लगातार दो दो अंक बटोरे जबकि विपक्षी खिलाड़ी एक बार भी बजरंग को नियंत्रित नहीं कर सके। बजरंग ने 6-0 और 8-0 के बाद फिर से चारिग को पलटते हुये दो अंक लिये और 10-0 से अपना मैच जीत लिया।

भारत की पदक उम्मीद बजरंग ने इससे पहले दिन के अन्य मुकाबलों में सेमीफाइनल में कनाडा के भवसेट डी मारिन्स को 10-0 से और क्वार्टरफाइनल में नाइजीरिया के अमास डेनियल को भी 10-0 से हराया था।

सिंधू, श्रीकांत और सायना सेमीफाइनल में

Sindhu, Srikanth and Saina in semis

गोल्ड कोस्ट। दुनिया के नंबर वन शटलर बने किदाम्बी श्रीकांत, ओलंपिक रजत विजेता पीवी सिंधू और स्टार महिला खिलाड़ी सायना नेहवाल ने 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में अपनी विजयी लय बरकरार रखते हुए शुक्रवार को बैडमिंटन एकल स्पर्धाओं के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया।

गुरूवार को ही विश्व रैंकिंग में नंबर वन पर पहुंचे श्रीकांत ने अपने पुरूष एकल क्वार्टरफाइनल मैच में सिंगापुर के जिन रेई रेयान एनजी को लगातार गेमों में 21-15, 21-12 से हराकर 34 मिनट में सेमीफाइनल में जगह बना ली जहां वह इंग्लैंड के राजीव ओसेफ के खिलाफ उतरेंगे।

गोल्ड कोस्ट में स्वर्ण की सबसे बड़ी उम्मीद और ग्लास्गो की कांस्य पदक विजेता सिंधू ने कनाडा की ब्रिटनी टैन को 34 मिनट में 21-14, 21-17 से पराजित किया। सिंधू के अब फाइनल में सायना से टकराने की उम्मीद बढ़ती जा रही है। यदि दोनों भारतीय खिलाड़ी अपने सेमीफाइनल मैच जीत जाती हैं तो भारतीय बैडमिंटन के इतिहास में पहली बार दो भारतीय स्वर्ण मुकाबले में आमने सामने होंगे। 12वें नंबर की खिलाड़ी सायना ने कनाडा की रेचल होंडेरिच को आसानी से 21-8, 21-13 से हराया।

सायना अब शनिवार को स्कॉटलैंड की कस्र्टी गिलमूर से सेमीफाइनल मैच में उतरेंगी जिनके खिलाफ क्वार्टरफाइनल मैच में भारत की रूत्विका गाडे रिटायर्ड होकर बाहर हो गई। उस समय पहले गेम में गिलमूर 9-5 से आगे थीं। महिला युगल में भारत की एन सिक्की रेड्डी और अश्विनी पोनप्पा की जोड़ी ने श्रीलंका की हसिनी अम्बालंगोदागे और मोदुशिका दिलरूक्शी बेरूवेलांगे को 21-11, 21-13 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बना ली।

पुरूष युगल क्वार्टरफाइनल में सात्विकसेराज रैंकी रेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी ने मलेशिया के पेंग सून चान और सून हुआत गोह को कड़े मुकाबले में 21-14, 21-15, 21-9 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई। लेकिन प्रणव चोपड़ा और सिक्की रेड्डी को मिश्रित युगल के क्वार्टरफाइनल में मलेशिया के चान पेंग सून और गोह लियू यिंग से 38 मिनट में 17-21, 12-21 से हार का सामना करना पड़ा। 

सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन बढ़त बनाकर बंद हुए सेंसेक्स-निफ्टी

Sensex-Nifty closed on the last trading day of the week

मुंबई। शेयर बाजार में आज कारोबार की शुरुआत बढ़त के साथ हरे निशान पर हुई और कारोबार की समाप्ति पर भी ये बढ़त के साथ हरे निशान पर बंद हुआ। बढ़त के माहौल में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 91.52 अंक यानि 0.27 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 34,192.65 के स्तर पर बंद हुआ।

वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 21.95 अंक यानि 0.21 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,480.60 के स्तर पर बंद हुआ। गौरतलब है कि कल के कारोबार के दौरान शेयर बाजार में कारोबार की शुरुआत बढ़त के साथ हरे निशान पर हुई और कारोबार की समाप्ति पर ये बढ़त के साथ हरे निशान पर बंद हुआ।

काराबोर की शुरुआत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स सुबह 59.45 अंक यानि 0.18 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 33,999.89 के स्तर पर खुला और काराबोर की समाप्ति पर ये 160.69 अंक यानि 0.47 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 34,101.13 के स्तर पर बंद हुआ।

वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी भी काराबोर की शुरुआत में मामूली 2.15 अंक यानि 0.02 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,419.30 अंक के स्तर पर खुला और काराबोर की समाप्ति पर ये 41.50 अंक यानि 0.40 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,458.65 के स्तर पर बंद हुआ। 

राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार 2018: मरणोपरांत श्रीदेवी को बेस्ट एक्ट्रेस, 'न्यूटन' को बेस्ट फिल्म का अवॉर्ड, यहां देंखे पूरी लिस्ट

65th National Film Awards 2018 full winner Complete list

नई दिल्ली। आज 65वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की घोषणा के तहत दिवंगत अभिनेता विनोद खन्ना को वर्ष 2017 का दादा साहब फाल्के पुरस्कार से नवाजा गया हैं। अभिनेता राजकुमार राव की फिल्म न्यूटन को सर्वश्रेष्ठ हिंदी फीचर फिल्म और श्रीदेवी को सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिला है।

- असमी फिल्म विलेज रॉकस्टार्स को सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म, रिद्धी सेन को सर्वश्रेष्ठ अभिनेता और ए.आर. रहमान को सर्वश्रेष्ठ संगीत निर्देशक का खिताब मिला है।

-दादा साहब फाल्के लाइफ टाइम अचीवमेंट पुरस्कार के लिए कम से कम 15 नामों पर विचार किया गया और अंतत: जूरी ने दो घंटे के मंथन के बाद विनोद खन्ना के नाम पर मुहर लगाई।

-असमी फिल्म विलेज रॉकस्टार्स को सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म का पुरस्कार दिया गया है। इसकी निर्माता-निर्देशक रीमा दास हैं। यह फिल्म एक सुदूर गाँव के उन बच्चों की कहानी है जो रॉकस्टार बनने का सपना देखते हैं।

-फिल्म सिंजर को सर्वश्रेष्ठ डेब्यू फिल्म, बाहुबली-2 (तेलुगु) को सबसे लोकप्रिय फिल्म, मराठी फिल्म मोख्र्या को सर्वश्रेष्ठ बाल फिल्म का पुरस्कार दिया गया। राष्ट्रीय एकीकरण पर सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार मराठी फिल्म धप्पा को मिला। सामाजिक मसलों के लिए मलयालम की आलोरुक्कम को और पर्यावरण संरक्षण पर हिंदी फिल्म इरादा को सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार मिला।

- श्रीदेवी को फिल्म मॉम में उनके शानदार अभिनय के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री तथा रिद्धी सेन को बंगला फिल्म नगर कीर्तन के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता घोषित किया गया। सर्वश्रेष्ठ निदेशक का पुरस्कार मलयालम फिल्म भयानकम के निदेशक जयराज को दिया गया।

- सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता मलयालम् फिल्म थोंडीमुथालुम द्रक्षाक्षियम् के लिए फहाद फाजिल को और सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री हिंदी फिल्म इरादा के लिए दिव्या दत्ता को घोषित किया गया। विलेज रॉकस्टार के लिए भानित दास को सर्वश्रेष्ठ बाल कलाकार घोषित किया गया।

- शाशा तिरुपति को तमिल फिल्म कातरू वेलियीदाई में 'वान' गीत के लिए सर्वश्रेष्ठ पार्श्वगायिका और के.जे. येसुदास को तमिल फिल्म विश्वासपूर्वा एम मंसूर फिल्म में 'पोय मरंजा कलाम' फिल्म के लिए सर्वश्रेष्ठ पाश्र्व गायक का पुरस्कार दिया गया।

- ए.आर. रहमान को गीतों में संगीत श्रेणी में कातरू वेलियीदाई और पार्श्व संगीत की श्रेणी में मॉम के लिए सर्वश्रेष्ठ संगीतकार घोषित किया गया। जे.एम. प्रह्लाद को कन्नड़ फिल्म मार्च 22 में 'मुथुरातना' गीत के लिए सर्वश्रेष्ठ गीतकार के खिताब से नवाजा गया।

- अब्बास अली मोघुल को बाहुबली-2 के लिए सर्वश्रेष्ठ एक्शन निर्देशक, गणेश आचार्या को टॉयलेट एक प्रेम कथा के गीत 'गोरी तू लठ मार' के लिए सर्वश्रेष्ठ कोरियोग्राफर और आरसी कमलकन्नन को बाहुबली-2 के लिए सर्वश्रेष्ठ स्पेशल अफेक्ट श्रेणी में पुरस्कृत किया गया।

- रामरजिक्क को नगर कीर्तन के लिए सर्वश्रेष्ठ मेकअप कलाकार, इसी फिल्म के लिए गोविन्द मंडल को सर्वश्रेष्ठ कॉस्ट्यूम डिजाइनर, मलयालम फिल्म टेकऑफ के लिए संतोष रमण को सर्वश्रेष्ठ प्रोडक्शन डिजाइन, विलेज रॉकस्टार के लिए रीमा दास को सर्वश्रेष्ठ एडिटिंग, ओडिया फिल्म हेलो आरसी के लिए संबित मोहंती को सर्वश्रेष्ठ डायलॉग, थोंडिमुथालुम् द्रिक्षाक्षियम् के लिए संजीव पजहूर के लिए सर्वश्रेष्ठ स्क्रीन प्ले (ऑरिजिनल), भयानकम् के लिए जयराज को सर्वश्रेष्ठ स्क्रीन प्ले (अडैप्टेड), भयानकम् के लिए निखिल एस. प्रवीण को सर्वश्रेष्ठ सिनेमेटोग्राफी का पुरस्कार दिया गया। 

नॉन फीचर फिल्म श्रेणी में जूरी की प्रमुख आराधना प्रधान ने 22 श्रेणी में विजेताओं की घोषणा की। पिया शाह निर्देशित वाटर बेबी को किसी निर्देशक की पहली फिल्म में सर्वश्रेष्ठ घोषित किया गया। प्रवासचा निबंधा के निर्देशक नागराज मंजुले को सर्वश्रेष्ठ निर्देशक और स्वोर्ड ऑफ लिबर्टी के लिए रमेश नारायणन को सर्वश्रेष्ठ संगीत निर्देशक का पुरस्कार दिया गया।

'नाची से बान्ची' और 'स्वोर्ड ऑफ लिबर्टी' को सर्वश्रेष्ठ बायोग्रॉफिकल/हिस्टोरिकल रिकन्सट्रक्शन, गिरिजा को सर्वश्रेष्ठ आर्ट/कल्चरल फिल्म, 'पोएट्री ऑन फैब्रिक : चेंदाली नामा' को सर्वश्रेष्ठ प्रोमोशनल फिल्म, '1984 ह्वेन द सन डिडंट राइज' को सर्वश्रेष्ठ खोजी फिल्म,'द फिश करी' और 'द बास्केट' को सर्वश्रेष्ठ एनिमेशन फिल्म घोषित किया गया। सिनेमा पर सर्वश्रेष्ठ लेखन के दो पुरस्कार दिए गए।

'मातमागी मणिपुर- द फस्र्ट मणिपुरी फीचर फिल्म' को सिनेमा पर सर्वश्रेष्ठ किताब का पुरस्कार दिया गया। लेखक बॉबी वाहेंगबाम ने मणिपुरी में बनी पहली फिल्म से पहले और बाद के युग की तुलना की है। इस दौरान क्षेत्रीय सिनेमा के निर्माण से जुड़ी चुनौतियों को पुस्तक में उकेरा गया है। सिनेमा पर सर्वश्रेष्ठ आलोचनात्मक लेखन के लिए गिरिधर झा को पुरस्कृत किया गया। इसके अलावा श्री सुनील मिश्रा का विशेष उल्लेख किया गया है। 

फीचर फिल्मों में विभिन्न भाषाओं की फिल्मों में हिंदी के लिए न्यूटन को, असामी के लिए इशु को, बंगला के लिए मयुराक्षी को, कन्नड़ा के लिए हेब्बेत्तु रामक्का को, मराठी के लिए कच्चा लिंबू को, ओडिया के लिए हेलो आरसी को, तमिल के लिए टू लेट को, तेलुगु के लिए गाजी को और गुजराती के लिए डीएचएस को पुरस्कार दिया गया है। टूलू के लिए पद्दायी को, जसारी के लिए भसजर को और लद्दाखी के लिए वाङ्क्षकग विथ द भवड को सर्वश्रेष्ठ फिल्म घोषित किया गया। 

दीपिका पादुकोण के साथ काम करने की ख्वाहिश रखता है बॉलीवुड का ये एक्टर

Rajkumar Rao wants to work with Deepika Padukone

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता राजकुमार राव की फिल्म न्यूटन को सर्वश्रेष्ठ फिल्म का राष्ट्रीय पुरस्कार मिला हैं। अपने संजीदा अभिनय से बॉलीवुड में पहचान बनाने वाले राजकुमार राव की ख्वाहिश अब डिंपल गर्ल दीपिका पादुकोण के साथ काम करने की हैं। 

दीपिका पादुकोण के साथ बॉलीवुड के कई कलाकार काम करने की हसरत रखते हैं। अब इस फेहरिस्त में राजकुमार राव का नाम भी जुड़ गया है। राजकुमार राव ने दीपिका को खूबसूरती और प्रतिभा का अनोखा मिश्रण बताया है।

राजकुमार राव ने कहा है कि वह फिल्म अभिनेत्री दीपिका पादुकोण के साथ काम करना चाहते हैं। राजकुमार राव ने कहा है कि दीपिका बहुत ही खूबसूरत हैं और वह प्रतिभाशाली भी हैं। एक अभिनेत्री के तौर पर दीपिका पादुकोण में बहुत निखार आया है और वह उनकी पहली फिल्म से लेकर अब तक बहुत ही उंचाई पर पहुंच चुकी हैं, जो बहुत ही प्रशंसनीय है।

 

 



 
loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.