अनोखी है इन पेड़ों की बनावट, आप भी देखकर रह जाएंगे हैरान

Samachar Jagat | Wednesday, 09 Jan 2019 05:23:42 PM
The texture of these trees is unique, You will be surprised to see

इंटरनेट डेस्क। आपने आज तक तरह - तरह के पेड़ों को देखा होगा लेकिन हम आपको यहां कुछ ऐसे पेड़ों के बारे में बता रहे हैं जिन्हें देखकर आप अचंभित रह जाएंगे। इन पेड़ों की बनावट बहुत ही अलग तरीके की है इसी कारण ये आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं। आइए आपको बताते हैं इन पेड़ों के बारे में ...........

केदरनाथ की सफलता के बाद सुशांत सिंह राजपूत के हाथ लगी बॉलीवुड की ये पांच बड़ी फिल्में

टीपॉट बाओबाब :-

यह पेड़ करीब एक हजार साल पुराना है, इस पेड़ की ऊंचाई करीब 80 मीटर और तना 25 मीटर से भी ज्यादा मोटा होता है। इस पेड़ की बनावट इसे खास बनाती है, इस पेड़ पर जो फूल लगते हैं वे सिर्फ 24 घंटे ही पेड़ पर रहते हैं फिर अपने आप टूटकर गिर जाते हैं।

PM Narendra Modi का पहला पोस्टर हुआ रिलीज, पहचान में नहीं आ रहा है अभिनेता

सिल्क कॉटन ट्री  :-

यह पेड़ दक्षिण पूर्व एशिया के एक मंदिर में फैला हुआ है और इसकी जड़ों ने मंदिर को चारों ओर से जकड़ रखा है, फैलते—फैलते इस पेड़ की बनावट भी अजीबोगरीब तरीके की हो गई है जिसे मंदिर में आने वाले लोग काफी पसंद करते हैं।

क्रूकेड फारेस्ट ऑफ़ ग्रैफिनो :-

इन पेड़ों की आकृति बड़ी ही अजीबोगरीब है, इन्हें देखकर ऐसा लगता है ​जैसे किसी ने सांप को उल्टा लटका रखा हो। इन पेड़ों को रहस्मयी कहा जाता है क्योंकि आज तक इनकी आकृति ऐसी क्यों है इसके बारे में कोई पता नहीं लगा पाया है। 

Big Boss 12 विनर को सिरफिरे ने दी तेजाब फेकने की धमकी, पुलिस से लगाई गुहार

सनलैंड बाओबाब :-

करीब 6 ​हजार साल पुराने इस पेड़ की लंबाई 20 मीटर और घेरा करीब 47 मीटर का है। यह पेड़ अपने आप खोखला हो गया है, बाहर से देखने पर आपको ये पेड़ गिरा हुआ दिखाई देगा लेकिन इस पेड के अंदर 15 से 20 लोग आसानी से बैठ सकते हैं और ये किसी अचंभे से कम नहीं है। 

ये हैं भारत की हॉट और बोल्ड एक्ट्रेस, जो लगती हैं शॉर्ट ड्रेस में बेहद कातिलाना



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.