सावन मास में ऐसा करने से जल्दी प्रसन्न होते है भगवान शिव

Samachar Jagat | Tuesday, 13 Aug 2019 02:45:14 PM
Lord Shiva is happy to do this early in the month of Saavan.

इंटरनेट न्यूज  सावन मास में  भगवान शिव के साथ उनके परिवार की पूजा-पाठ व आराधना का विधान हैं।ऐसी मान्यता है कि इस मास में जो भक्त गणेश जी, पार्वती जी और भगवान शिवजी का एकसाथ सेवा पूजा करते है उसके उपर शिवजी जल्दी प्रसन्न हो जाते है और उसे मनोवांक्षित फल देते है। जिस तरह सावन मास में सोमवार का दिन शिवजी के लिए विशेष महत्व होता है। उसी प्रकार सावन मास में मंगलवार का दिन माता पार्वती के लिए और बुधवार का दिन गणेशजी के लिए विशेष महत्व रखता हैं।इस दिन भगवान गणेश को याद किया जाता है और  पूजा की जाती है। भगवान गणेश की पूजा की एक विशेष विधि है। इसमें गुड़ और धनिया का भोग लगाया जाता है और दोब अर्पित की जाती है।


   भगवान गणेश की जब भी पूजा की जाती है, उसमे भोग के तौर पर लड्डू भी शामिल किया जाता है। आइये जानते हैं कि बुधवार को भगवान गणेश की पूजा के दौरान क्या करना चाहिए।

भगवान गणेश को दूब अर्पित करने के साथ गुड़ और धनिया का भोग लगाये।घर से बाहर निकले तो तुलसी व सौंफ खाकर निकले।

बुधवार को हरे रंग का वस्त्र धारण करें।

ऊँ ब्रां ब्रीं ब्रौं स: बुधाय नम: मंत्र का जप करें

बुधवार के दिन सामर्थ्य के अनुसार मूंग की दाल और तांबे की वस्तुओं का दान करें। इसके अलावा रात्रि में तांबे के बर्तन में पानी रखे और उसका सुबह सेवन करें। ऐसा करने से साधक के उपर भगवान शिव जल्दी प्रसन्न हो जाते है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.