इस कारण 100 गेंद के मैच के पक्ष में नहीं हैं गांगुली

Samachar Jagat | Saturday, 12 May 2018 08:53:10 AM
Ganguly is not in favor of 100 ball match

कोलकाता। भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और एमसीसी विश्व क्रिकेट समिति के सदस्य सौरव गांगुली 100 गेंद के क्रिकेट मैच प्रारूप के पक्ष में नहीं है।
इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड बेहद लोकप्रिय टी-20 प्रारूप की जगह 100 गेंद के मैच की वकालत कर रहा है।

ईसीबी ने घरेलू टी-20 शृंखला की जगह 100 गेंद के मैच का प्रस्ताव भी दिया है जिसमें छह गेंद की 15 ओवर के बाद आखिरी ओवर 10 गेंद का होगा। इसके सटीक विवरण को अभी तय नहीं किया गया है, आठ टीमों की यह शृंखला 2020 में शुरू होगी।

प्रो स्टार लीग ( अंडर -16 क्रिकेट टूर्नामेंट ) के निदेशक गांगुली ने कहा कि अपको यह ध्यान रखना होगा कि ये ऐसा ना हो कि दर्शक पलक झपकाए और मैच खत्म हो जाए। जैसे-जैसे प्रारूप छोटा होता जाएगा अच्छे और साधारण का अंतर कम हो जाएगा। गांगुली मानते है कि टी-20 क्रिकेट की लोकप्रियता के बाद भी टेस्ट क्रिकेट सबसे चुनौतीपूर्ण बना रहेगा।

उन्होंने कहा कि इसमें आपको ध्यान, कौशल और तकनीक की जरूरत होती है। टी- 20 ऐसे ही चलता रहेगा, यह व्यावसायिक और मनोरंजक होता है, लेकिन असली खेल बड़े प्रारूप के खेल में होता है। यह सबसे चुनौतीपूर्ण होता है।
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.