सिंधू, सायना, श्रीकांत और प्रणय को 80-80 लाख

Samachar Jagat | Monday, 08 Oct 2018 04:56:02 PM
p.v. sindhu, saina, Shrikant and Praneey to 80-80 lakhs

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नई दिल्ली। ओलम्पिक रजत पदक विजेता पीवी सिंधू, राष्ट्रमंडल खेल स्वर्ण विजेता सायना नेहवाल, शीर्ष पुरुष खिलाड़ी किदाम्बी श्रीकांत और एचएस प्रणय को वोडाफोन प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) के चौथे संस्करण के लिए सोमवार को हुई नीलामी में 80-80 लाख रुपये की कीमत मिली है। इस साल लीग में नौ टीमें हिस्सा ले रही हैं और इस साल की नई टीम पुणे 7 एसेज भी नीलामी में उतरी।


नीलामी के पहले दौर में नौ आइकन खिलाडिय़ों को उतारा गया जिनमें से एक को छोड़कर शेष आठ आइकन खिलाडियों को 80-80 लाख रुपये मिले। कोरिया के सोन वान सो को अवध वारियर्स ने 70 लाख रुपये में खरीदा। नीलामी में हर टीम के पास खर्च करने के लिए होंगे 2.6 करोड़ रुपये थे और वे एक खिलाड़ी पर अधिकतम 80 लाख रुपये खर्च कर सकते थे। नौ टीमों ने आइकन खिलाडियों को खरीदने पर सबसे ज्यादा राशि खर्च की। सिंधू को हैदराबाद हंटर्स, सायना को नार्थ ईस्टर्न वारियर्स, श्रीकांत को बेंगलुरू रैप्टर्स और प्रणय को दिल्ली डैशर्स ने 80-80 लाख रुपये में खरीदा।

कोहली और बुमराह एकदिवसीय रैंकिंग में शीर्ष पर बरकरार

ओलम्पिक चैंपियन स्पेन कैरोलिना मारिन को नयी टीम पुणे 7 एसेज ,वल्र्ड नम्बर-1 डेनमार्क के विक्टर एक्सेलसन को अहमदाबाद स्मैश मास्टर्स, कोरिया के सुंग जी ह्यून को चेन्नई स्मैशर्स और ली योंग देई को मुम्बई रॉकेट्स ने 80-80 लाख रुपये की कीमत पर खरीदा। पीबीएल में 2015 के बाद पहली बार नीलामी में सभी बड़े खिलाड़ी शामिल हुए और इस साल रिटेंशन का नियम नहीं रखा गया। वर्ष 2015 में पहली बार हुई नीलामी में टीमों ने कई अहम खिलाडिय़ों को अपने साथ जोड़ा था और आगे आने वाले संस्करणों के लिए खिलाडिय़ों को रिटेन भी किया था लेकिन इस साल सभी खिलाड़ी नीलामी में शामिल किये गए।

नीलामी में कुल 145 खिलाडिय़ों की बोली लगी और 23 देशों के खिलाड़ी नीलामी में शामिल हुए। पीबीएल का आयोजन भारतीय बैडमिंटन संघ की देखरेख में होता है और इसका आयोजन स्पोट्जलाइव करता है। चौथा संस्करण भी 22 दिसम्बर, 2018 से 13 जनवरी, 2019 तक आयोजित होगा। बीएआई अध्यक्ष तथा पीबीएल के चेयरमैन हिमंता बिस्वा सरमा इस साल नीलामी में शामिल खिलाडिय़ों की गुणवत्ता को लेकर काफी खुश दिखे।

आखिर क्यों विराट कोहली को अपनी पत्नी अनुष्का को यहां ले जाने की मांगनी पड़ी अनुमति?

सरमा ने कहा, पीबीएल में टॉप खिलाडिय़ों की बढाती दिलचस्पी यह साबित करती है कि इस टूर्नामेंट का कद बढ़ रहा है और यह बहुत कम समय में एक ग्लोबल ब्रांड बन गया है। 23 दिनों तक चलने वाले पीबीएल-4 में कुल नौ टीमें दिल्ली डैशर्स, अहमदाबाद स्मैश मास्टर्स, अवध वॉरियर्स, बेंगलुरू रैप्टर्स, मुम्बई रॉकेट्स, हैदराबाद हंटर्स, चेन्नई स्मैशर्स, नार्थईस्टर्न वॉरियर्स और नई टीम पुणे 7 एसेज अपनी चुनौती पेश करेंगी। इसके मैच मुम्बई, पुणे, अहमदाबाद, हैदराबाद और बेंगलुरू में खेले जाएंगे।

रियो ओलम्पिक चैम्पियन स्पेन की कैरोलिना मारिन के नेतृत्व में हैदराबाद की टीम ने पिछले सीजन खिताब जीता था लेकिन इस बार मारिन को फिल्म अभिनेत्री तापसी पन्नू की नयी टीम पुणे 7 एसेज ने खरीद लिया है। इस साल कुल 30 मैच खेले जाएंगे, जिनमें सात डबल हेडर होंगे। पीबीएल आयोजकों ने आगामी संस्करण के लिए भ्रष्टाचार रोधी नीति बनाने के लिए आईसीसी की एंटी करप्शन यूनिट के पूर्व प्रमुख रवि सवानी को अपना चीफ एंटी करप्शन एंड इंट्रीगिटी कमिश्नर नियुक्त किया है। - एजेंसी

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.