राठौड़ ने एशियाई खेलों के दौरान खिलाडिय़ों और अधिकारियों से जिम्मेदार होने को कहा

Samachar Jagat | Friday, 10 Aug 2018 07:40:03 PM
Rathore asked players and officials to be responsible during Asian Games

नई दिल्ली। खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने भारतीय खिलाडिय़ों और अधिकारियों से अगले हफ्ते इंडोनेशिया में शुरू होने वाले एशियाई खेलों के दौरान मैदान के अंदर और बाहर जिम्मेदार होने की बात कही। भारत ने 18 अगस्त से 2 सितंबर तक जकार्ता और पालेमबांग में होने वाले एशियाई खेलों के लिए 572 एथलीट सहित 800 से ज्यादा सदस्यों का दल भेजा है।

राठौड़ ने यहां भारतीय ओलंपिक संघ द्वारा भारतीय दल के लिए आयोजित रवानगी समारोह में कहा कि आप एथलीट इन खेलों में देश का प्रतिनिधित्व कर रहे हो, यह सम्मान की बात है और आपने यह सम्मान हासिल किया है। जब आप खेलों में हिस्सा लोगे और खेल गांव में रहोगे तो आपकी व्यक्तिगत पहचान नहीं होगी बल्कि आपकी पहचान सिर्फ ‘भारत’ के नाम से होगी।

भारतीय टीम के साथ अनुष्का की तस्वीर को लेकर हुए विवाद पर BCCI ने तोड़ी चुप्पी, कही ये बात

उन्होंने कहा कि यह आपके लिए बहुत बड़ी जिम्मेदारी है। आप मैदान के अंदर और बाहर कुछ भी करो, तो कृपया एक चीज याद रखना कि आप अरब लोगों के देश का प्रतिनिधित्व कर रहे हो। आप भले ही एथलीट हो या अधिकारी, हर किसी को यह बात हर समय याद रखनी चाहिए।

आईओए अध्यक्ष नरिंदर बत्रा, महासचिव राजीव मेहता, भारतीय दल के दल प्रमुख ब्रिज भूषण सिंह शरण इस समारोह के दौरान उपस्थित थे। देश के शीर्ष एथलीट जैसे हाकी स्टार सरदार सिंह इस मौके पर मौजूद थे। आर के साचेती सहित 4 सहायक दल प्रमुख का भी परिचय कराया गया।

राठौड़ ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि भारत पिछले चरण से ज्यादा पदक अपने नाम करेगा लेकिन साथ ही कहा कि इसमें भाग लेने वाले खिलाड़ी नतीजों के बारे में ज्यादा सोच विचार नहीं करें। उन्होंने कहा कि आप इतने वर्षों से तैयारी कर रहे हो और आपका सपना पदक जीतने का ही होगा।

अब आप टूर्नामेंट के निकट पहुंच गए हो। मैं आपको सलाह दूंगा कि आप खुद पर भरोसा बनाये रखें कि इतने हजारो घंटो की ट्रेनिंग और कड़ी मेहनत आपकी मदद करेगी। कृपया आप अपने नतीजों को देखकर ज्यादा चिंतित मत होना और आपको अपनी काबिलियत पर भरोसा रखना चाहिए।

ऐसा करोगे तो परिणाम अपने आप ही मिल जाएंगे।  राठौड़ ने कहा कि मैंने भारतीय खिलाडिय़ों का उत्साह और दृढिऩश्चय देख है जिसमें 1990 दशक की तुलना में काफी ज्यादा बदलाव आया है, भले ही यह 15 साल का खिलाड़ी हो या 40 साल का खिलाड़ी।

खेल भावना का उल्लंघन का प्रतिबंध झेल रहे श्रीलंका के इस खिलाड़ी की टी20 टीम में वापसी

मैं इन खिलाडिय़ों को तैयार करने के लिए आईओए और राष्ट्रीय खेल महासंघों को बधाई देता हूं। हमें मिलजुलकर काम करना होगा, कोई भी अकेले काम नहीं कर सकता। अंतत: यह भारतीय खेलों के लिये अच्छा है।

बाद में पत्रकारों से बात करते हुए राठौड़ ने कहा कि एशियाई खेलों के लिए खिलाडिय़ों का चयन करना आईओए और एनएसएफ का विशेषाधिकार है और मंत्रालय इसमें तब तक हस्तक्षेप नहीं करना चाहती जब तक इसमें बड़ी विसंगति नहीं हो। उन्होंने कहा कि एशियाई खेलों के दल की चयन प्रक्रिया के संबंध में हम इसकी जिम्मेदारी आईओए और एनएसएफ पर ही छोड़ देंगे।

सही यही होगा कि इस प्रक्रिया में ज्यादा लोग शामिल नहीं हों। इसलिये चयन की जिम्मेदारी आईओए पर ही होगी लेकिन अगर कही भी विसंगति या कोई बड़ा मुद्दा हमारे सामने लाया जाता है तो हम इसे जरूर देंगें। राठौड़ ने कहा कि आईओए की सिफारिश को हम सम्मान देंगे।

उन्होंने कहा कि वह ऐसी व्यवस्था के पक्षधर हैं जिसमें खिलाडिय़ों को प्राथमिकता दी जाती है। उन्होंने कहा कि जब मैं सक्रिय खिलाड़ी था तो मैं अकसर सुनता था कि खेल मंत्रालय के पास ज्यादा धन नहीं है। लेकिन अब ऐसा नहीं है। शीर्ष खिलाडिय़ों के लिए, जो महाद्वीप और विश्व स्तर पर भाग लेते हैं, उनकी फंडिंग के लिए धन की कमी नहीं है।

कुछ दिन पहले राठौड़ ने अगले साल तक स्कूलों में पाठ्यक्रम को 50 प्रतिशत कम करने की अनिवार्यता की बात की थी ताकि बच्चे खेलों में ध्यान लगा सकें। इस संबंध में पूछने पर राठौड़ ने कहा कि मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर इस मुद्दे को देख रहे हैं। जावड़ेकर जी से मैंने जो कुछ सुना है कि 2019 तक पाठ्यक्रम घटा दिया जाएगा और गेम पीरियड अनिवार्य होगा।

वहीं बत्रा ने उम्मीद जतायी कि देश इस बार पिछले चरण से ज्यादा पदक अपनी झोली में डालेगा। उन्होंने कहा कि हमने 800 से बड़ा दल चुना है जिसमें 572 एथलीट शामिल है और हम 36 स्पर्धाओं में भाग लेंगे। मैं उम्मीद कर रहा हूं कि हम पिछले चरण से ज्यादा पदक अपने नाम करेंगे। मेहता ने सूचित किया कि मुख्य प्रायोजक एडेलवीस ने सभी प्रतिभागी खिलाडिय़ों के लिए जीवन बीमा कवर के लिए 50 लाख रुपए बढ़ाने को सहमति दे दी है। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.